महासंकट में भिकियासैंण पुलिस ने गोद लिए 22 बेसहारा बुजुर्ग

महासंकट में भिकियासैंण पुलिस ने गोद लिए 22 बेसहारा बुजुर्ग

महामारी की दूसरी लहर में ख्पुलिस नए रूप में नजर आने लगी है।

JagranSun, 09 May 2021 10:28 PM (IST)

संसू, भिकियासैंण (अल्मोड़ा): महामारी की दूसरी लहर में खाकी नए रूप में नजर आने लगी है। मरीजों व जरूरतमंदों की सेवा के साथ पुलिस कर्मियों ने अब बेसहारा बुजुर्गो को गोद लेने की अनूठी पहल शुरू की है। कप्तान पंकज भट्ट ने 'मिशन हौसला' मुहिम के तहत पुलिस ने विकासखंड में एकाकी जीवन जी रहे 22 बुजुर्गो का जिम्मा उठा उन्हें महासंकट में हौसला दिया है।

दरअसल, कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच बुजुर्गो की सेवा के लिए डीजीपी अशोक कुमार ने 'मिशन हौसला' शुरू किया है। इधर जिले में एसएसपी पंकज के निर्देशन में रविवार को भजरौजखान थाना क्षेत्र से इसकी शुरूआत कर पुलिस ने एक बार फिर मिसाल पेश की। एसओ भतरौजखान अनीस अहमद ने थाना क्षेत्र के 22 बेसहारा बुजुर्गो को गोद लिया। टोटाम, डबरासौराल, दनपौ, देवरापानी, पनवाद्यौखन, भिकियासैंण गांव के चिह्नित इन बुजुर्गो के घर तक पहुंच पुलिस कर्मियों ने राशन, जीवन रक्षक दवाएं आदि सामान पहुंचाया। मुहिम में एसओ अनीस के साथ ही एसआइ देवेंद्र सामंत व हेमा कार्की, कांस्टेबल भूपेंद्र बिष्ट, नवीन पाडे, सतपाल सिंह, जीवन फुलारा, हेम भट्ट आदि शामिल रहे। बुजुर्गो को सैनिटाइजर, मास्क आदि बांट साफ सफाई व संक्रमण से बचाव को जागरूक किया। यह भी बताया कि किसी भी सामान या दवा की जरूरत पड़ने पर ग्राम प्रधान को बताएं। ताकि थाने तक सूचना मिलने पर त्वरित राहत सामग्री पहुंचाई जा सके। घर जाकर पॉजिटिव पिता-पुत्री को पुलिस ने मुहैया कराई दवा संवाद सूत्र, गरुड़ : कोरोनाकाल में लोगों का उत्साह बढ़ाकर पुलिस मिशन हौसला अभियान को सफल बनाने में दिन-रात जुटी है। बैजनाथ पुलिस ने कोरोना पॉजिटिव पिता-पुत्री को स्वास्थ्य किट प्रदान कर उन्हें हरसंभव सहायता करने का आश्वासन दिया।

बैजनाथ के थानाध्यक्ष पंकज जोशी को सूचना मिली कि मदन राम निवासी गरुड़ व उनकी पुत्री कोरोना पॉजिटिव होने के चलते होम आइसोलेट हैं। उनके पास स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दवाइयां भी नहीं हैं। इस पर थानाध्यक्ष पुलिस टीम के साथ तत्काल मदन राम के घर गए तथा दोनों के लिए दवाइयों की किट स्वजन को दी। इस मौके पर थानाध्यक्ष ने स्वजनों को बताया कि घर का कोई भी सदस्य परेशान न हो। पुलिस उनकी हरसंभव मदद करेगी। एसओ ने सहायता के लिए उनके परिजनों को अपना मोबाइल नंबर, हेल्पलाइन व कंट्रोल रूम का संपर्क नंबर भी नोट कराया। बताया कि चौबीस घंटे कभी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या, ऑक्सीजन सिलेंडर, दवा, राशन आदि की जरूरत होने पर नि:संकोच सूचित करें। स्वजनों ने पुलिस के अभियान की सराहना करते हुए थानाध्यक्ष बैजनाथ का आभार व्यक्त किया। इस दौरान पुलिस टीम में थानाध्यक्ष पंकज जोशी, हेड कांस्टेबल चंद्र प्रकाश बवाड़ी, आरक्षी जीवन चंद्र पांडे मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.