वाराणसी में पीएम के गोद लिए गांव नागेपुर के युवा कोरोना से संघर्ष में हुए शामिल, गांवों को कर रहे सैनिटाइज

प्रधानमंत्री आदर्श गांव के युवाओं ने गांव को कोरोना मुक्त रखने का बीड़ा उठा लिया है।

युवा अपनी नैतिक जिम्मेदारी समझते हुए प्रशासन के साथ मिलकर गांव और शहरों को सैनिटाइज करते दिखाई दिए। अलग-अलग टीमें बनाकर गांव की गलियों बस स्टैंड बाजार एवं अन्य सार्वजनिक स्थानों को सैनिटाइज कर रहे हैं ताकि कोरोना वायरस से लोगों को बचाया जा सके।

Abhishek SharmaSat, 15 May 2021 01:43 PM (IST)

वाराणसी, जेएनएन। प्रधानमंत्री आदर्श गांव के युवाओं ने गांव को कोरोना मुक्त रखने का बीड़ा उठा लिया है। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए एक ओर लोग जहां घरों में रहकर लॉक डाउन का पालन कर रहे हैं। वहीं ये युवा अपनी नैतिक जिम्मेदारी समझते हुए प्रशासन के साथ मिलकर गांव और शहरों को सैनिटाइज करते दिखाई दिए। अलग-अलग टीमें बनाकर गांव की गलियों, बस स्टैंड, बाजार एवं अन्य सार्वजनिक स्थानों को सैनिटाइज कर रहे हैं ताकि कोरोना वायरस से लोगों को बचाया जा सके।

युवाओं ने पिछले दो दिन से गांव को सैनिटाइज किया और ग्रामीण की थर्मल स्क्रीनिंग भी की। फिर अपने गांव को सेनेटाइज करने के बाद गांव के युवाओं ने शनिवार को बेनीपुर, मुबारकपुर गांव में सैनिटाइजेशन कार्य किया। गांव के प्रत्येक घर को सैनिटाइज करने के साथ ही गांव के आम रास्तों पर भी सैनिटाइजर का छिड़काव किया गया। युवाओं ने हर रोज एक गांव को सेनेटाइज करने का निर्णय लिया है। इस महत्वपूर्ण सेवादल में अरविन्द, अनीश, आलोक, मनीष, शिवकुमार, बिहारी, वर्षा, पंचमुखी, श्यामसुंदर, सुनील शामिल हैं। 

इन युवाओं को प्रेरित करने वाले लोक समिति संयोजक नन्दलाल मास्टर ने बताया कि उनके साथ गांव के ही रहने वाले कई युवा साथी हैं, जिन्होंने इस मुश्किल घड़ी में लोगों के साथ खड़े होने का निर्णय लिया। ये साथी हर रोज रोज तीन से चार घंटे इलाके में जाकर हर गली मोहल्ले को सैनिटाइज करने का काम करते हैं। उन्होंने बताया कि अभी प्रशासन  की तरफ से सैनिटाइजर का छिड़काव करने का काम कुछ इलाकों में चल रहा है, लेकिन ग्रामीण इलाकों में अभी तक नहीं किया गया। ऐसे में खुद ही गांव के युवाओं ने मिलकर यह कदम उठाया है।

इसके साथ ही ग्रुप के सदस्य आशा ट्रस्ट और लोक समिति संस्था की मदद से जरूरतमंद लोगों तक मास्क, दवा, सेनेटाइज किट खाने पीने के सामान भी मुहैया करा रहे हैं। आम लोगों में कोरोना बीमारी और बचाव के पर्चे भी बांटे जा रहे हैं। ग्रुप के सदस्यों ने बताया कि जिस तरह कोरोना वायरस का संक्रमण गांव में बढ़ता जा रहा है, उससे बचने के लिए लोगों को जागरूक करने की जरूरत है, क्योंकि इस बीमारी से बचाव ही एकमात्र उपाय है। उन्होंने कहा कि अगर कोई उन्हें अपने गांव में सैनिटाइज कराने की मांग करते हैं, तो वह फौरन उस इलाके में लोगों को भेजकर सैनिटाइज करवाते हैं। इसके लिये उन्होंने एक हेल्पलाइन नम्बर 8808984224 जारी किया है। आराजी लाइन और सेवापुरी ब्लाक में ये युवा अपनी सेवा देंगे। युवाओं के इस प्रयास को गांव में खूब सराहना हो रहा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.