झारखंड पुलिस अपने सिपाही को हिरासत में लेने पहुंची तो घर वालों ने बरसाए ईंट-पत्‍थर

सिपाही की गिरफ्तारी को लेकर क्षेत्र में तरह तरह की चर्चा हो रही है।
Publish Date:Mon, 28 Sep 2020 02:22 PM (IST) Author: Abhishek Sharma

बलिया, जेएनएन। एक मामले में सोमवार की सुबह आठ बजे झारखण्ड पुलिस गड़वार थाने आ धमकी और चिलकहर गांव के रहने वाले झारखण्ड पुलिस के सिपाही पर दर्ज मुकदमे की गिरफ्तारी के लिये गड़वार पुलिस संग दबिश डालकर सिपाही को गिरफ्तार कर अपने साथ ले गयी। इस दौरान पुलिस के उपर छत से महिलाओं व परिजनो ने ईंट पत्थर चलने लगे जिसकी जानकारी होते ही थाना प्रभारी अनिल चंद्र तिवारी मय फोर्स पहुंचकर अभियुक्त को गिरफ्तार कर थाने लेकर आये जिसको लेकर गहमा गहमी रही। वहीं सिपाही की गिरफ्तारी को लेकर क्षेत्र में तरह तरह की चर्चा हो रही है।

वहीं पुलिस ने बताया कि रांची की एक युवती ने मार्च 2020 मे थाना बीआईटी बेसरा रांची झारखण्ड मे चिलकहर निवासी व झारखण्ड पुलिस मे कार्यरत सिपाही फिरोज उर्फ मुन्ना  पर आरोप लगाया था कि शादी का झांसा देकर अवैध संबंध बनाया अब शादी करने से मुकर रहा है। इसी मामले पर रांची की पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की और जांच में आरोप सही पाये जाने पर चार्जशीट दाखिल किया। इसके बाद से ही फिरोज की तलाश में पुलिस लगी थी। झारखण्ड पुलिस को पुष्ट सूचना मिली थी कि फिरोज चिलकहर अपने घर पर रह रहा है। रविवार को झारखंड पुलिस जनपद मुख्यालय आ गयी और सोमवार को पुलिस कप्तान बलिया के निर्देश पर गड़वार थाना पहुंची जहां से रांची की पुलिस को थाने के एक दरोगा और दो हेड कांस्टेबल संग संयुक्त रूप से सोमवार 9 बजे चिलकहर फिरोज उर्फ मुन्ना के घर पहूंची पर पुलिस को देख घर का गेट बंद कर छत के उपर से पुलिस के उपर ही ईंट पत्थर चलने लगे।

इस दौरान सहमी पुलिस ने इसकी जानकारी तुरंत गड़वार थाना प्रभारी अनिलचंद्र तिवारी को दी गयी जिस पर वह मय फोर्स मौके पर पहूचकर स्थिति को संभाला व मुकदमे के वांछित अभियुक्त को गिरफ्तार कर थाने आये। पुलिस के अनुसार काफी मशक्कत के बाद आरोपित को गिरफ्तार कर थाने ले जाया गया है। पुलिस के धमकने को लेकर कुछ लोगो ने पुलिस संग शरारत भी की और कुछ देर के लिये अफरा तफरी मची रही। पूरी कार्रवाई थाना-'बीआईटी मेसरा रांची इंस्पेक्टर अमित कुमार बेसरा व गड़वार इंस्पेक्टर अनिल चंद़ तिवारी ने संयुक्त रूप से की। झारखण्ड पुलिस के अमित बेसरा ने बताया कि लंबे समय से फरार चल रहा फिरोज पुलिस को गुमराह करता रहा। रांची पुलिस अभियुक्त फिरोज को कोर्ट से न्यायिक प्रक्रिया पूर्ण कर रांची लेकर चली गयी। वहीं स्‍थानीय लोगों के अनुसार फिरोज की शादी भी कहीं पर तय थी जो जल्द ही होने वाली थी।


बोले पुलिस अधिकारी

गड़वार थाना प्रभारी अनिलचंद्र तिवारी ने बताया कि रांची पुलिस संग थाने की पुलिस चिलकहर में फिरोज उर्फ मुन्ना को पकड़ने गयी थी पर शरारती तत्वों ने पुलिस संग कुछ शरारतें कीं पर मौके पर पहुंचकर अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया गया। ईंट पत्थर चलने की बात गलत है। कुछ शरारती तत्व गिरफ्तार नही करने देना चाहते थे, जिनको डांट फटकार कर भगाया गया। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.