Varanasi City Weather Update : बनारस में झुलसाने वाली गर्मी की शुरुआत, न्यूनतम तापमान 25 के पार

बनारस में झुलसाने वाली गर्मी की शुरुआत हो चुकी है।

बनारस में झुलसाने वाली गर्मी की शुरुआत हो चुकी है। पिछले तीन दिन से जारी तेज गर्म हवाओं में आज थोड़ी कमी आई है मगर तापमान का पारा तेजी से बढ़ोतरी पर है। आज सुबह से ही करीब 19 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चल रहीं हैं।

Saurabh ChakravartyThu, 01 Apr 2021 12:39 PM (IST)

वाराणसी, जेएनएन। बनारस में झुलसाने वाली गर्मी की शुरुआत हो चुकी है। हालांकि पिछले तीन दिन से जारी तेज गर्म हवाओं में आज थोड़ी कमी आई है, मगर तापमान का पारा तेजी से बढ़ोतरी पर है। आज सुबह से ही दक्षिण-पश्चिम की ओर से करीब 19 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चल रहीं हैं। इस दौरान अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 25.4 डिग्री सेल्सियस पर बना हुआ है। अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक तो वहीं न्यूनतम सामान्य से सात डिग्री ज्यादा रहा। सुबह से तीव्र धूप में चलने वाली हवाएं गर्मी का अहसास करा रहीं हैं।

बीएचयू के मौसम विज्ञानी प्रो. मनोज श्रीवास्तव के अनुसार अब वाराणसी का पारा तेजी से ऊपर चढ़ेगा। आज दोपहर तक अधिकतम तापमान 44 डिग्री, तो वहीं न्यूनतम 27 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है। पश्चिमी हवाओं का दौर अब अपने समाप्ति पर है, इसके बाद पूर्वी हवाएं यानी कि लू का कोहराम बनारस पर दिख सकता है। इस मौसम में अब बीमारियों का संक्रमण तेजी से बढ़ेगा, जिससे बचने की जरूरत है। बढ़ती गर्मी के मद्देनजर अभी फ्रिज और कोल्डड्रिंक का सेवन कई बीमारियों की चपेट में ला सकता है। वहीं इस मौसम में मच्छरों व अन्य गंदगी की वजह से मलेरिया व डेंगू की शिकायतें देखी जा रहीं है। प्रो. श्रीवास्तव ने बताया कि इस मौसम में एसी के बजाय कूलर और पीने के लिए घड़े के पानी का ही इस्तेमाल करें, इससे तमाम संक्रमण से बचा जा सकता है।

बनारस का एयर क्वालिटी इंडेक्स रहा 186 पर

 बनारस हवा के मामले में गुरुवार प्रदेश का चौथा सबसे कम प्रदूषित शहर रहा। यहां का एयर क्वालिटी इंडेक्स 186 अंक पर रहा, जबकि कानपुर 60 अंक के साथ इंडेक्स में शीर्ष पर रहा। वहीं लखनऊ 155 अंक और नोएडा 160 अंक के साथ क्रमशः तीसरे और चौथे स्थान पर रहे। बनारस की हवा में सबसे ज्यादा प्रदूषक तत्व के रूप के धूल कण शामिल हैं।  है। धूल तत्वों के कारण बनारस के एयर क्वालिटी इंडेक्स में पीएम-10 अधिकतम 319 अंक तक गया, जबकि पीएम 2.5 प्रदूषक तत्वों की मात्रा अधिकतम 86 अंक रही।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.