Top 5 Varanasi News Of The Day 18 june 2021 : बारिश का 43 साल का रिकार्ड टूटा, बारिश के बाद नदियों का बढ़ा जलस्‍तर, कैंट डिपो के अंदर खड़ी बस में लगी आग

बनारस शहर की कई खबरों ने शुक्रवार यानी 18 जून को सुर्खियां बटोरीं जानिए तीन बजे तक की शहर-ए-बनारस की पांच प्रमुख और चर्चित खबरें जो दिन भर चर्चा में बनी रहीं और लोगों की नजरें भी उन खबरों पर रही।

Abhishek SharmaFri, 18 Jun 2021 03:09 PM (IST)
बनारस शहर की कई खबरों ने 18 जून 2021 शुक्रवार को सुर्खियां बटोरीं।

वाराणसी, जेएनएन। बनारस शहर की कई खबरों ने शुक्रवार को चर्चा बटोरी जिनमें बारिश का 43 साल का रिकार्ड टूटा, बारिश के बाद नदियों का बढ़ा जलस्‍तर, कैंट डिपो के अंदर खड़ी बस में लगी आग, 4 लाख 40 हजार कामगारों को मिलेगा पोषण भत्ता, किशोरियों में बांटी दवा सेनिटेशन किट और पौष्टिक आहार आदि प्रमुख खबरें रहीं। जानिए शाम तीन बजे तक की शहर-ए-बनारस की पांच प्रमुख और चर्चित खबरें।

वाराणसी में बारिश का 43 साल का रिकार्ड टूटा, 404 मिलीमीटर दर्ज की गई बारिश

बनारस में गुरुवार को चौबीस घंटे में इतिहास की सबसे अधिक बारिश दर्ज की गई। कल पूरे दिन में 404 मिलीमीटर बारिश हुई, जबकि इससे पहले 1978 में रिकार्ड 245 एमएम का था। वहीं आज सुबह तक के आंकड़े जोड़कर 590 मिलीमीटर बारिश हुई है। वहीं गुरुवार सुबह से दोपहर तक में ही तेज गर्जना के साथ हुई मूसलाधार बारिश ने बीते दस वर्षाें का रिकार्ड तोड़ दिया था। बारिश का ऐसा क्रम चला कि देखते ही देखते पूरा शहर पानी पानी हो गया और बारिश के रिकार्ड दशक दर दशक टूटते चले गए। अगर दो दिनों का आंकड़ा देखें तो यह अब तक का रिकार्ड है। हालांकि, चौबीस घंटों के बारिश के लिहाज से यह चार दशक में पहला बड़ा आंकड़ा बारिश का है।

पूर्वांचल में भारी बारिश के बाद नदियों का बढ़ा जलस्‍तर, सोनभद्र में लौवा नदी पर रीवां-रांची आवागमन प्रभावित

नदियों का जलस्‍तर लगातार बारिश के बाद से बढ़ने लगा है, दूसरी ओर नदियों का रुख पूर्वांचल में लगातार तबाही मचाने की ओर अग्रसर है। पहाड़ी नदियों में उफान का दौर शुरू हो चुका है तो दूसरी ओर वाराणसी में गंगा का जलस्‍तर एक दिन में ही 18 इंच तक बढ़ गया है। दूसरी ओर अयोध्‍या में सरयू नदी चेतावनी बिंदु पार कर चुकी है तो दूसरी ओर सरयू नदी अब मऊ, आजमगढ़ और बलिया जिले में भी जल्‍द ही उफान पर नजर आएगी। लगातार बारिश के साथ ही पहाड़ों पर बर्फ पिघलने का दौर शुरू होने और पहाड़ों पर लगातार बारिश के बाद अब नदियों का रुख तेजी की ओर है। पूर्वांचल में सोनभद्र, मीरजापुर और चंदौली में पहाड़ी नदियों का काफी वजूद है। ऐसे में नदियों का रुख लगातार बढोतरी की ओर होने से आने वाले दिनों में पानी काफी ऊपर तक आ सकता है। सोनभद्र में लौवा नदी का अस्थाई रपटा शुक्रवार तड़के बह जाने की वजह से नेशनल हाइवे 75 ई की गति थम गई। वाहनों को दुद्धी-आश्रममोड मार्ग के जरिये मूर्धवा मोड़ के लिए मोड़ा गया है। वहीं मीरजापुर में पटेहरा सन्तनगर से सिरसी मार्ग में संतोषी नदी पर उप मुख्यमंत्री द्वारा नव निर्मित पूल में बनाया गया अस्थाई पूल (रपटा) पानी के तेज बहाव से टूट गया जिससे आवागमन पूरी तरह से बन्द हो गया है।

वाराणसी कैंट डिपो के अंदर खड़ी बस में लगी आग, परिचालक की सतर्कता से टला बड़ा हादसा

सिगरा थानांतर्गत कैंट डिपो में शुक्रवार को तड़के शार्ट सर्किट से एक खड़ी बस में आग लग गई। विकराल रूप धारण करने से पहले ही वहा मौजूद परिचालक की तत्परता से आग पर काबू पा लिया गया। आग की चपेट में आने से बस के अगले हिस्से में काफी क्षति पहुंची है। फोरमैन और अधिकारी क्षति का आकलन करने में जुटे हुए हैं। बहरहाल, घटना के दौरान एक बार फिर बड़ी विभागीय लापरवाही सामने आई है। मिली जानकारी के अनुसार कैंट डिपो स्थित वाशिंग शेड में काशी दर्शन सेवा बस (Up65ईटी4150) एक दिन पहले से खड़ी थी। सुबह लगभग पांच से छह बजे के बीच बस के अंदर से धुआं उठने लगा गया। गाड़ी स्वतः स्टार्ट हो गई। धुएं के गुबार और अत्यधिक तापमान के चलते बस का शीशा भी टूट गया। फ्यूलिंग स्टेशन पर अपनी बस (up77एएन0513) में डीजल ले रहे चालक सुभाष सिंह की निगाह पड़ी तो उन्होंने शोर मचाया।

वाराणसी मण्डल में 4 लाख 40 हजार कामगारों को मिलेगा पोषण भत्ता, शासन ने जारी की धनराशि

कोरोना की दूसरी लहर से प्रभावित ठेला, खोमचा लगाने वाले, रोज कमाने खाने वाले कामगारों के खाते में शीघ्र 1,000 रुपये पोषण भत्ता के रूप में जारी हो जाएगी। मण्डल में 4 लाख 40 हजार 600 कामगारों को पोषण भत्ता मिलेगा। इसमें वाराणसी में 69,400, जौनपुर में 1 लाख 74 हजार,, गाजीपुर में एक लाख 23 हजार, चंदौली में 73 हजार 400 का अनुमानित लक्ष्य है। सभी गांव से जुड़े हैं। एडीओ पंचायत समेत गाँव से जुड़े अफसरों की रिपोर्ट के आधार पर उक्त कामगारों का चयन हुआ है। शहर व् निकाय से जुड़े लोगो के नाम की फीडिंग अलग से हो रही है। वाराणसी में लगभग दो लाख लोग पोषण भत्ता से लाभान्वित होंगे। मण्डल के सभी जिलाधिकारियों को पोषण भत्ता की धनराशि शासन की ओर से जारी कर दिया गया है। यह धनराशि जिलाधिकारी के माध्यम से ही लाभार्थियों के खाते में ट्रान्सफर की जाएगी। चयनित कामगारों के नाम फीडिंग तेजी से हो रहा है।

वाराणसी में जरूरतमंद किशोरियों में बांटी दवा, सेनिटेशन किट और पौष्टिक आहार

आशा ट्रस्ट और लोक समिति संस्था की तरफ से चलाए जा रहे कोरोना राहत-कार्य अभियान के तहत शुक्रवार को लालपुर, भोरकलां मनकईया और असवारी गांव में 65 जरूरतमंद किशोरियों को पौष्टिक आहार वितरित की गई। इस दौरान लड़कियों असवारी में स्वास्थ्य जांच करके दवा वितरित किया गया। लोगों को बांटकर कोरोना महामारी में बचाव और स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी दी गयी। महिला संगठन की संयोजिका अनीता ने कहा कि कोरोना महामारी में लड़कियों और महिलाओं को सेनेट्री पैड, मास्क और पोषाहार वितरण के साथ साथ उनका स्वास्थ्य जांच करके डॉक्टर के परामर्श से जरुरी दवा दिया जा रहा है। लोक समिति के संयोजक नन्दलाल मास्टर ने बताया कि कोरोना महामारी को में आराजी लाइन और सेवापुरी ब्लाक में दो माह से राहत कार्य जारी है।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.