वाराणसी में इस बार दीपावली ने बदला गियर, वाहन बाजार ने पकड़ ली है रफ्तार

दीपोत्सव पर्व ने इस सन्नाटे को तोड़ते हुए वाहनों का गियर लगा दिया है जिससे कि वाहन बाजार रफ्तार भरने को तैयार है। हालांकि लगातार बढ़ते ईंधन के दामों से वाहन खरीदारी में कुछ बदलाव देखने को मिल रहे हैं।

Saurabh ChakravartyFri, 29 Oct 2021 08:45 AM (IST)
धनतेरस के लिए अब तक तीन हजार चार पहिया और करीब चार हजार दो पहिया वाहनों की बुकिंग है।

जागरण संवाददाता, वाराणसी। बीते कुछ महीनों से दो और चार पहिया वाहनों में सन्नाटा पसरा था। लेकिन दीपोत्सव पर्व ने इस सन्नाटे को तोड़ते हुए वाहनों का गियर लगा दिया है जिससे कि वाहन बाजार रफ्तार भरने को तैयार है। हालांकि लगातार बढ़ते ईंधन के दामों से वाहन खरीदारी में कुछ बदलाव देखने को मिल रहे हैं। बुकिंग के आंकड़ों को देखें तो इस धनतेरस के लिए अब तक तीन हजार चार पहिया और करीब चार हजार दो पहिया वाहनों की बुकिंग हो चुकी है।

सबसे ज्यादा कांपैक्ट एसयूवी कारों की है मांग

बढ़ते ईंधन के दामों के कारण कार खरीदने वाले लोग सबसे ज्यादा माइलेज वाली कारों को तवज्जो दे रहे हैं। बजट के अनुसार लोग काम्पैक्ट एसयूवी कार की खरीदारी पर ज्यादा जोर दे रहे हैं। इसमें लोगों को अधिक माइलेज और बड़ी कारों का अहसास भी हो रहा है। बात मारुति नेक्सा की करें तो इसकी ब्रेजा, बलेनो, एस-प्रेसो, स्विफ्ट और आल्टो की खूब बुकिंग हुई है। वहीं हुंडई में आई-20, वेन्यू, क्रेटा लोगों को खूब लुभा रही है। महिंद्रा की एक्सयूवी-300 और टोयोटा की अर्बन क्रूजर और किया की सोनेट और सेल्टास भी ग्राहकों का ध्यान अपनी ओर खींच रही है।

सीएनजी कारों की है जबरदस्त मांग पर उपलब्ध नहीं

पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि होने से करीब 30 फीसद ग्राहकों का विचार सीएनजी कार खरीदने का बना है। बुकिंग के आंकड़ों पर नजर डालें तो करीब तीन सौ सीएनजी कारों की बुकिंग हुई है। जबकि बुकिंग के सापेक्ष कारों की उपलब्धता नहीं है। अब शो-रूम संचालकों के समक्ष समय पर कार उपलब्ध कराना सबसे बड़ी चुनौती है।

बड़ी कारों का क्रेज सामान्य लोगों में हुआ काम, चुनाव से बिक्री बढ़ी

संयुक्त परिवारों में कम आय के बावजूद पहले बड़ी कारों का खूब क्रेज रहा। लेकिन लगातार ईंधन के दाम बढ़ने से अब लोगों में बड़ी कारों से मोहभंग हो रहा है। हालांकि इन कारों की बुकिंग भी कम नहीं है। आगामी विधानसभा चुनाव में बड़ी तादात में गाड़ियों की आवश्यकता होने से भावी प्रत्याशियों ने एक साथ पांच-पांच बड़ी कार खरीदने की जुगत में जुटे हैं। टोयोटा की फारच्यूनर, एमजी हेक्टर प्लस, टाटा की हैरियर और सफारी, महिंद्रा की स्कार्पियो सबसे ज्यादा क्रेज में है।

बाइक पर भारी पड़ रही स्कूटी

दो पहिया वाहनों के बाजार की बात करें तो स्कूटी लोगों की पहली पसंद है। मल्टीपर्पज वाहन होने से लोग इसे खूब सराह रहे हैं। इसमें भी एक्टिवा सिक्स जी युवाओं की पहली पसंद है। इसमें रायल ब्लू और मैटेलिक सिल्वर कलर की खूब मांग है। यही नहीं टीवीएस की जुपिटर और हीरो की डुएट भी लोगों की पसंद में शामिल है। वहीं बाइक के प्रति रुझान कम देखने को मिल रहा है। गत वर्षों तक जहां टीवीएस की अपाचे, बजाज की पल्सर, रायल इनफील्ड की बुलेट का लोगों में खूब क्रेज रहा। लेकिन बढ़ते तेल के दामों ने लोगों के अरमानों पर पानी फेरने का काम किया है।

ई-स्कूटी की मांग 60 फीसद की वृद्धि

पेट्रोल के दाम बढ़ने से ई-स्कूटी की मांग में 60 फीसद की वृद्धि हुई है। धनतेरस और दीपावली पर करीब छह सौ ई-स्कूटी बुक हुई हैं। लेकिन कोलकाता और तमिलनाडु प्लांट से उत्पादन कम होने पर यहां वाहन उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। फिर भी शोरूम संचालक अन्य प्रदेशों और जिलों से संपर्क करके ग्राहकों की मांग पूरी करने की कोशिश में जुटे हैं।

स्वेपिंग सिस्टम ने बढ़ाया ई-स्कूटी का क्रेज

जब से ई-स्कूटी में स्वेपिंग सिस्टम लगा है तब से ई-स्कूटी का क्रेज बढ़ गया है। स्वेपिंग सिस्टम से लैस गाड़ी में बैटरी को आसानी से निकालकर चार्ज पर लगाया जा सकता है। यह बहुमंजिली इमारतों में रहने वाले लोगों के लिए अत्यंत सुविधाजनक है।

ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए कंपनियों का आफर

दो पहिया हो या चार पहिया लगभग सभी कंपनियां अपने वाहनों पर ग्राहकों के लिए कुछ न कुछ आफर दे रही हैं। बाइक और स्कूटी की बात करें तो अधिकतम पांच हजार की छूट मिल रही है वही कार पर पचास से सत्तर हजार तक की छूट कंपनियां ग्राहकों को दे रही हैं।

वित्तीय सहयोग के लिए सरकारी और निजी बैंक भी हैं तैयार

कार खरीदने के लिए बैंकों की ओर से भी आफर दिया जा रहा है। सरकारी बैंक हों या निजी सभी न्यूनतम ब्याज दर पर कार लोन दे रहे हैं। कुछ बैंकों ने तो ऋण अदायगी की अवधि को पांच वर्ष से बढ़ाकर सात वर्ष तक कर दिया है। यहां तक कि बैंक अपने लोन एजेंटों की ड्यूटी शोरूम पर लगा रखे हैं।

बढ़ी खरीदारों की चहल-पहल

07 हजार गाड़ियों की बिक्री होने का अनुमान

03 हजार चार पहिया वाहनों की हुई है बुकिंग

04 हजार दो पहिया वाहनों की हुई है बुकिंग

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.