वाराणसी की सड़कें भगवा और तिरंगा से रंगी नजर आईं, रास्‍तों पर गूंजे राष्‍ट्रप्रेम के तराने

आर्य महिला नागरमल मुरारका माडल स्‍कूल से निकले तिरंगा यात्रा में वंदे मातरम और भारत माता की जय का उद्घोष करते हुए छात्राओं का हुजूम निकला तो आजादी की 75 वीं जयंती पर भगवा के रूप में आस्‍था और देश प्रेम सड़कों पर उमड़ आया।

Abhishek SharmaFri, 26 Nov 2021 11:44 AM (IST)
आजादी की 75 वीं जयंती पर भगवा के रूप में आस्‍था और देश प्रेम सड़कों पर उमड़ आया।

वाराणसी, जागरण संवाददाता। भगवान शिव की नगरी काशी शुक्रवार को आस्‍था और राष्‍ट्रप्रेम से ओतप्रोत नजर आ रही थी। मौका था आर्य महिला नागरमल मुरारका माडल स्‍कूल से निकले तिरंगा यात्रा का। जहां रास्‍ते भर सड़कें तिरंगा झंडा में नजर आ रही थीं तो दूसरी ओर वंदे मातरम और भारत माता की जय का उद्घोष करते हुए छात्राओं का हुजूम निकला तो आजादी की 75 वीं जयंती पर भगवा के रूप में आस्‍था और देश प्रेम सड़कों पर उमड़ आया। तस्‍वीरों में देखिए शानदार आयोजन की झलकियां- 

तिरंगा यात्रा : विशाल तिरंगा यात्रा में राष्ट्रभक्ति के भाव में हजारों लोग सड़कों पर उतरे तो काशी राष्‍ट्रप्रेम से ओतप्रोत नजर आया।

तिरंगा यात्रा : रथ पर तलवार, ढाल के साथ स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव पर आयोजित विशाल तिरंगा यात्रा एवं झांकी आर्य महिला नागरमल मुरारका माडल स्कूल से प्रारम्भ हुई।

तिरंगा यात्रा : इस विशाल तिरंगा यात्रा एवं झाकी में भारत माता रानी लक्ष्मी बाई एवं अहिल्या बाई के स्वरूप में झाकियां सजायी गयी थीं।

तिरंगा यात्रा : यह तिरंगा यात्रा प्रातः 8.30 बजे आर्य महिला नागरमल मुरारका माडल स्कूल चेतगंज के प्रांगण से प्रारम्भ होकर लहुराबीर क्वींस कालेज , संस्कृत विश्वविद्यालय होते हुये वापस चेतगंज विद्यालय प्रांगण में समाप्त हुयी।

तिरंगा यात्रा : तिरंगा यात्रा में सबसे पहले शंख नाथ एवं डमरू की ध्वनि लोगों को स्वतंत्रता दिवस की 75 वीं जयन्ती का आह्वान करा रहे थे।

तिरंगा यात्रा :  शंख व ध्वनि सुनकर भारत माता की जय के साथ लोग विशाल तिरंगा यात्रा में सम्मिलित होते भारत माता के स्वरूप में तिरंगे झंडे से सजे एवं सैन्य बल के साथ एक विशाल यात्रा सुशोभित थी।

तिरंगा यात्रा : यात्रा के पीछे भारत की जनता भारत माता की जय एवं बन्दे मातरम के नारे लगाते हुये हाथ में तिरंगा लिये हुये चल रहे थे।

तिरंगा यात्रा : झांसी की रानी के स्वरूप में छात्रा एक रथ में सुशोभित रहीं तो मराठा वेश धारण किये हुये विरांगनाये भाले से सुसज्जित जय भवानी के उद्घोष के साथ उनके साथ चल रही थी।

तिरंगा यात्रा :अहिल्या बाई के स्वरूप में छात्रा एक रथ में सुशोभित थी। जिनके पीछे साधु सन्त रुद्राक्ष की माला, लोहबान एवं केशरिया ध्वज लिये हर हर महादेव के उदघोष के साथ चल रहे थे।

तिरंगा यात्रा : यात्रा के ऊपर लोगों द्वारा पुष्प वर्षा की जा रही थी तो तिरंगा यात्रा में ध्वनि विस्तारक से गाये जा रहे देश भक्ति गीत उपस्थित हजारों लोगों को राष्ट्रभक्ति के भाव में आने एवं गीत गुनगुनाने पर बाध्य कर रहे थे।

तिरंगा यात्रा : कार्यक्रम का शुभारम्भ संघ के मुनीष जी द्वारा हरी झंडी दिखाकर किया। इस अवसर पर कार्यक्रम संयोजिका पूजा दीक्षित ने कहा कि अहिल्याबाई जी द्वारा दिये गये संदेश बेटी सिखेगी कल का भविष्य लिखेगी को हम सबको साकार करना होगा जिससे नारी सशक्तिकरण का संकल्‍प पूरा हो सके

आर्य महिला हितकारिणी महापरिषद के जनरल सेकेटरी डा . शशिकान्त दीक्षित ने कहा कि हमसब को अपने तिरंगे की आन, बान और शान को सदैव ऊंचा रखना है। डा . अनुराग दीक्षित ने कहा कि हेल्थ इज वेल्थ कहा जाता है। हमें अपने युवाओं को स्वस्थ रखना होगा क्योंकि युवा ही हमारे आने वाले कल के भविष्य हैं। इस अवसर पर डा . मनीष त्रिपाठी सचिव आरोग्य भारती काशी प्रांत, रजत जी जिला प्रचारक राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ, मनीष जी सह प्रांत प्रचारक राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ, रजत प्रताप शोभनाथ विश्वकर्मा, शैलेन्द्र श्रीवास्तव, सुरेश जी, दिनेश कालरा, जय प्रकाश, सुरेन्द्र, धीरज के साथ छात्राएं, गणमान्य नागरिक, अध्यापक अध्यापिकाएं आदि उपस्थित थे ।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.