डिप्रेशन का हवाला देकर जेल से रवानगी पर रोक, मुख्‍तार को सता तो नहीं रहा गाड़ी पलटने का डर!

माफ‍िया मुख्‍तार अंसारी को जेल से यूपी लाने का प्रयास सफल नहीं हो सका।
Publish Date:Tue, 20 Oct 2020 01:39 PM (IST) Author: Abhishek Sharma

मऊ, जेएनएन। मुख्‍तार अंसारी को यूपी लाने के प्रयासों को धक्‍का लगा है। दरअसल मऊ जिले की पुलिस एक मामले में उसे अदालत में पेश करने के लिए रोपड़ जेल गई थी। हालांकि, जेल प्रशासन की ओर से सेहत संबंधी दुश्‍वारियाें को लेकर मुख्‍तार अंसारी की रवानगी पर ब्रेक लग गया है। वहीं मऊ में मुख्‍तार के समर्थकों में गाड़ी पलटने का भय भी चर्चा में बना हुआ है।

दरअसल मुख्‍तार को लाने के लिए मऊ पुलिस वाहन से रोपड़ जेल गई थी। यूपी पुलिस की गाड़ि‍यां जेल के बाहर मुख्‍तार को लाने के लिए इंतजार करती रह गईं और जेल प्रशासन ने मुख्‍तार को सेहत की वजह से यूपी भेजने से मना कर दिया। दरअसल यूपी में वाहन पलटने और अपराधियों के मरने की दो घटनाओं के बाद भदोही के चर्चित विधायक भ्‍ाी गाड़ी पलटने और उनके मरने की बात कही थी, हालांकि वह सुरक्षित जेल भेज दिए गए। अब मुख्‍तार को लेने यूपी पुलिस की गाड़ी गई तो मऊ में उनके समर्थकों में उनको लाते समय गाड़ी पलटने की संभावनओं को लेकर काफी चर्चा बनी हुई है। लिहाजा माना जा रहा है कि माफ‍िया मुख्‍तार को लाने से पूर्व ही डिप्रेशन सहित अन्‍य बीमारियों का हवाला देना एक वजह हो सकती है। इस संबंध में सेहत को लेकर एक पत्र भी वायरल हो रहा है जिसमें मुख्‍तार के बीमार होने का जिक्र है। पत्र को लेेेकर उनके समर्थकों से लेकर प्रशासन में भी खूब चर्चा है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.