top menutop menutop menu

संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा पर एसटीएफ व एलआइयू का भी रहेगा पहरा, वाराणसी में 39177 आजमा रहे किस्मत

संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा पर एसटीएफ व एलआइयू का भी रहेगा पहरा, वाराणसी में 39177 आजमा रहे किस्मत
Publish Date:Sun, 09 Aug 2020 06:51 AM (IST) Author: Saurabh Chakravarty

वाराणसी, जेएनएन। राज्य स्तरीय संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा नौ अगस्त को दो पालियों में होगी। परीक्षा के लिए जिले में 109 केंद्र बनाए गए हैं जहां 3917 अभ्यर्थी अपनी किस्मत आजमाएंगे। परीक्षा की शुचिता बनाए रखने के साथ-साथ कोविड-19 को लेकर भी शासन-प्रशासन सतर्क हैं। जहां परीक्षा पर एसटीएफ व एलआइयू की भी नजर रहेगी। वहीं कोविड-19 को प्रकोप को देखते हुए शनिवार को सभी केंद्र सैनिटाइज कराए गए। वहीं परीक्षार्थियों को परीक्षा से एक घंटे पहले केंद्रों पर बुलाया गया है। बगैर मास्क के परीक्षार्थियों को केंद्रों में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। इसके अलावा गेट पर ही परीक्षार्थियों की थर्मल स्कैनिंग भी होगी। केंद्रों पर सैनिटाइजर की व्यवस्था भी की गई है। इसके बावजूद परीक्षार्थियों को स्वयं का सैनिटाइजर भी लाने का निर्देश दिया गया है। इस प्रकार परीक्षा की पवित्रता व कोविड-19 की सुरक्षा का भी पुख्ता इंतजाम करने का दावा किया गया है। यदि किसी परीक्षार्थी तापमान मानक से अधिक मिला तो उन्हें अलग कक्ष में बैठया जाएगा।

शासन ने संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा की जिम्मेदारी लखनऊ विश्वविद्यालय को सौंपी है। वहीं जनपद में महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ व बीएचयू को नोडल केंद्र बनाया गया है। दोनों नोडल केंद्रों ने परीक्षा की तैयारी पूरी कर लेने का दावा किया है। विद्यापीठ में कुलसचिव डा. एसएल मौर्य स्वयं अपनी निगरानी में एक-एक कक्ष को सैनिटाइज कराए। कक्ष निरीक्षकों की कमी भी पूरी कर लेने का दावा किया गया है।

आने-जाने के लिए अतिरिक्त बसों का इंतजाम

जिलाधिकरी कौशल राज शर्मा ने बताया कि परीक्षा ड्यूटी में लगे अध्यापक व कर्मचारी तथा परीक्षार्थियों को परिचय पत्र व प्रवेश पत्र के आधार पर आने-जाने की अनुमति होगी। वहीं परीक्षा के मद्देनजर पब्लिक, निजी ट्रांसपोर्ट (टैम्पो, टैक्सी, ओला, उबर, प्राइवेट एवं सरकारी बसें) यथावत रूप से चलती रहेंगी। इसके साथ ही रोडवेज की अतिरिक्त बसों का भी इंतजाम किया गया है।

अन्य महत्वपूर्ण बिंदु

-परीक्षा के दौरान केंद्रों के आसपास धारा 144 रहेगी लागू

-केंद्रों के 500 मीटर की परिधि में फोटो स्टेट व साइबर कैफे की बंद रहेंगी दुकानें

- परीक्षा की शुचिता बनाए रखने के लिए 218 पर्यवेक्षक नियुक्त

-परीक्षार्थियों को परीक्षा शुरू होने के एक घंटे पहले पहुंचने का निर्देश

-केंद्रों के आसपास खुली रहेंगी जलपान की दुकानें

-इलेक्ट्रानिक उपकरण मोबाइल, लैपटॉप, पेजर आदि प्रतिबंधित

- 51 केंद्र प्रतिनिधियों की तैनाती

दो पालियों में परीक्षा आज

प्रथम पाली : सुबह नौ से दोपहर 12 बजे तक सामान्य ज्ञान व भाषा-(ङ्क्षहदी/ अंग्रेजी) की परीक्षाएं होंगी।

द्वितीय पाली : दोपहर तीन बजे से पांच बजे तक अभिक्षमता परीक्षण, विषय योग्यता (कला, विज्ञान, वाणिज्य व कृषि) की परीक्षाएं।

प्रॉक्टोरियल बोर्ड के सौ सदस्य बीएचयू में रहेंगे तैनात, कराएंगे कोरोना गाइडलाइन का पालन

बीएचयू में बीएड परीक्षा के मद्देनजर शनिवार को अलॉट विभागों के सैनिटाइज कर दिया गया है। वहीं कुछ परीक्षा हॉल शनिवार को सुबह भी सैनिटाइज किया जाएगा। इसके अलावा दूसरी पाली की परीक्षा के पहले भी सैनिटाइजेशन का काम होगा और परीक्षा के बाद भी विभागों को सैनिटाइज किया जाएगा। यह जानकारी बीएड परीक्षा के नोडल समन्वयक प्रो. बीके सिंह ने दी। प्रो. सिंह ने बताया कि बीएचयू का प्रॉक्टोरियल बोर्ड परीक्षा को लेकर पूरी तरह से मुस्तैद है। बोर्ड के सौ सदस्य व गार्ड परीक्षा के पहले, दौरान और बाद में शारीरिक दूरी समेत अन्य कोविड गाइडलाइन का पालन कराएंगे। उन्होंने कहा कि परीक्षा के दौरान हॉल में अभ्यर्थियों के बीच की दूरी डेढ मीटर से ज्यादा रखी गई है। वहीं विभाग के मुख्य द्वार थर्मल स्कैनर भी लगाए हैं जिससे तापमान की माप ली जा सके। यदि तापमान 37.4 डिग्री सेल्सियस से अधिक आएगा तो उन अभ्यर्थियों को आइसोलेशन में परीक्षा करवाई जाएगी। वहीं सभी कैंडिडेट अपने मास्क व सैनिटाइजर के साथ परीक्षा देने आएंगे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.