top menutop menutop menu

वाराणसी में सौतेली मां को मारकर घर में दफनाया, पुलिस ने जमीन खोदकर निकाला शव, हत्यारोपित गिरफ्तार

वाराणसी में सौतेली मां को मारकर घर में दफनाया, पुलिस ने जमीन खोदकर निकाला शव, हत्यारोपित गिरफ्तार
Publish Date:Sun, 05 Jul 2020 10:58 PM (IST) Author: Saurabh Chakravarty

वाराणसी, जेएनएन। भेलूपुर थाना क्षेत्र के देव पोखरी बड़ी पटिया बजरडीहा में सौतेली मां को एक सप्ताह पूर्व मारकर दफनाने की घटना से सनसनी फैल गई। इसका खुलासा तब हुआ जब आरोपी सौतेला बेटा लाश दफनाने के स्थान को पक्का करा रहा था। इस दौरान बदबू आने से मोहल्ले वालों ने मृतका के लल्लापुरा स्थित मायके सूचना दी। मायके वालों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने जमीन खोदवाकर लाश निकाली। पुलिस ने हत्यारोपी सौतेले बेटे को गिरफ्तार कर लिया है। घटना का कारण संपत्ति संबंधी आपसी विवाद बताया जाता है।

सात दिन पहले जान से मार कर घर में ही दफना दिया था

बताया जाता है कि अल्ताफ हुसैन उर्फ सोनू ने अपनी सौतेली मां परवीन उर्फ गुड़िया उर्फ बिलकिस बेगम (46) वर्ष को सात दिन पहले जान से मार कर घर में ही दफना दिया था। बताया जाता है कि मृतका के पति अली हुसैन की मृत्यु बीमारी से चार माह पूर्व हो गई थी। अली हुसैन ने तीन शादियां की थीं। पहली पत्नी सितारा की मृत्यु 2003 में हो गयी थी। उसकी मृत्य के पूर्व अली हुसैन ने बड़ी पटिया देवपोखरी में उसके नाम से सन 2000 में मकान खरीदा था। पहली पत्नी का बड़ा लड़का नसीम व छोटा हत्यारोपी अल्ताफ उर्फ सोनू था। उसकी मृत्यु के बाद अली हुसैन ने शहनाज से शादी कर ली बाद में उससे तलाक भी हो गया। उसका एक बेटा सलमान था।

हत्‍यारोपित ने पत्‍नी को पहले ही भेज दिया था

दूसरी पत्नी से तलाक के बाद अली हुसैन ने तीसरी शादी परबीन उर्फ गुड़िया ( 46 वर्ष ) से की। उसका एक बेटा माजिद  ( 10 ) व बेटी रुखसार (8 ) हैं। हत्यारोपी अल्ताफ अपनी पत्नी रुखसाना अपने छोटे बच्चे, सौतेली मां परबीन और इसके बेटे बेटी के साथ बड़ी पटिया देवपोखरी स्थित मकान पर रहता था। हत्यारोपी की पत्नी रुखसाना ने बताया कि पति ने उसे और अपने सौतेले भाइयों को अपने सगे बड़े भाई नसीम के घर एक हफ्ता पूर्व भेज दिया।

मोहल्ले वालों ने परबीन के बड़े भाई मारकर दफनाए जाने की सूचना दी

घटना स्थल पर पहुंची मृतका की लल्लापुरा निवासी भाभी ने बताया कि एक सप्ताह पूर्व ननद के बारे में पूछा गया तो अल्ताफ ने उसके गायब होने की बात बताई। रविवार की सुबह मोहल्ले वालों ने परबीन के बड़े भाई मोबिन को फोन से उसके मारकर दफनाए जाने की आशंका की सूचना दी। बड़े भाई ने पुलिस को सूचित किया। पुलिस ने पहुंचकर सोनू को पकड़ा। थोड़ी सख्ती पर उसने परबीन को मारकर घर में दफनाने की बात कही। पुलिस ने लाश को खोदवाकर निकाला।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.