यूपी के सीएम योगी को काला झंडा दिखाने में गाजीपुर के सैदपुर विधायक प्रतिनिधि सहित चार पर राजद्रोह का मुकदमा

योगी को काला झंडा दिखाने व पर्ची फेंकने के मामले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। झंडा दिखाने वाले तीनों सपा कार्यकर्ता सिधौना निवासी मोहित यादव भीमापार निवासी रामनिवास यादव व बहरियाबाद थाना क्षेत्र के उकरांव गांव निवासी अमलेश के खिलाफ पुलिस ने राजद्रोह का मुकदमा कायम किया है।

Saurabh ChakravartyTue, 21 Sep 2021 08:26 PM (IST)
गाजीपुर के सैदपुर सपा कार्यालय पर तैनात पुलिस।

जागरण संवाददाता, गाजीपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को काला झंडा दिखाने व पर्ची फेंकने के मामले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। झंडा दिखाने वाले तीनों सपा कार्यकर्ता सिधौना निवासी मोहित यादव, भीमापार निवासी रामनिवास यादव व बहरियाबाद थाना क्षेत्र के उकरांव गांव निवासी अमलेश यादव के खिलाफ पुलिस ने राजद्रोह का मुकदमा कायम किया है। पुलिस ने विधायक प्रतिनिधि आशू दुबे को मामले का साजिशकर्ता मानते हुए उनके खिलाफ भी मुकदमा कायम किया है। घटनास्थल पर पकड़े गए तीनों अभियुक्तों को पुलिस ने सोमवार की रात जेल भेज दिया। साथ ही मंगलवार की सुबह से ही एहतियात के तौर पर कस्बा चौकी इंचार्ज देवेंद्र बहादुर सिंह व आधा दर्जन सिपाही नगर स्थित सपा कार्यालय पर तैनात रहे। शाम पांच बजने के बाद पुलिस टीम वापस गई।

विदित हो कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को नगर स्थित टाउन नेशनल इंटर कालेज में जनसभा को संबोधित करने के बाद वापस हेलीपैड पर जा रहे थे। उसी समय वार्ड तीन स्थित थाना के पीछे वाली सड़क पर पहले से बैठे उक्त तीनों सपा कार्यकर्ताओं मोहित, रामनिवास व अमलेश ने मुख्यमंत्री के गाड़ी के सामने काला झंडा दिखाया और पर्चियां फेंकी। हालांकि उसी समय तीनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। कोतवाल राजीव सिंह ने बताया कि मोहित, रामनिवास, अमलेश व विधायक प्रतिनिधि आशू दुबे के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा कायम किया गया है। मोहित, रामनिवास व अमलेश को जेल भेज दिया गया है। विधायक प्रतिनिधि आशू दुबे की तलाश की जा रही है।

तीन पुलिसकर्मियों पर गिरी गाज : मुख्यमंत्री को जिस स्थान पर काला झंडा दिखाया गया वहां तैनात खानपुर थाना के दीवान बाबूराम, सिधौना चौकी के दीवान कमलेश एवं चंदौली जनपद से ड्यूटी में आए एक दीवान को निलंबित कर दिया गया है। सिधौना चौकी इंचार्ज प्रमोद सिंह ने बताया कि खानपुर थाना के दीवान बाबूराम, सिधौना चौकी के दीवान कमलेश को निलंबित कर दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

मुझे फंसाया जा रहा : मुख्यमंत्री को काला झंडा दिखाने के बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं थी और ना ही इसमें मेरा कोई हाथ है। राजनीतिक षणयंत्र के तहत मुझे फंसाने का प्रयास किया जा रहा है।

- आशू दुबे, विधायक प्रतिनिधि, सैदपुर।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.