वाराणसी में 48 घंटे के अंदर निजी अस्पतालों में कोरोना संक्रमितों के इलाज के रेट होंगे निर्धारित, डीआरडीओ अस्पताल आज से हो जाएगा शुरू

सभी प्राइवेट अस्पतालों में कोविड इलाज के रेट निर्धारित होंगे।

दो-तीन में सभी प्राइवेट अस्पतालों में कोविड इलाज के रेट निर्धारित होंगे। अस्पताल बोर्ड पर इलाज के खर्च आदि की जानकारी देंगे ताकि पब्लिक के पास विकल्प रहे। मरीज के परिवारीजन अपने बजट अनुसार इलाज के लिए कदम बढ़ा सकें।

Saurabh ChakravartyMon, 10 May 2021 07:10 AM (IST)

वाराणसी, जेएनएन। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को समीक्षा बैठक में आपदा को लूट का अवसर बनाने वालों पर सख्ती के संकेत दिए और उनके जाते ही प्रशासन ने सक्रियता दिखाई। तय किया गया कि दो-तीन में सभी प्राइवेट अस्पतालों में कोविड इलाज के रेट निर्धारित होंगे। अस्पताल बोर्ड पर इलाज के खर्च आदि की जानकारी देंगे ताकि पब्लिक के पास विकल्प रहे। मरीज के परिवारीजन अपने बजट अनुसार इलाज के लिए कदम बढ़ा सकें। डीएम कौशल राज शर्मा ने कहा कि रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) की ओर से बीएचयू में बनाया गया 750 बेड का अस्थायी कोविड अस्पताल सोमवार दोपहर तक शुरू हो जाएगा। कोविड कंट्रोल रूम की संस्तुति पर मरीज भर्ती किए जाएंगे । सीधे एडमिट करने की छूट नहीं होगी। आपदा में किसी को लूट की छूट नहीं दी जाएगी।

दरअसल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दोपहर में डीआरडीओ के अस्थायी कोविड अस्पताल का निरीक्षण के बाद बीएचयू सेंट्रल हॉल में मंडल के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। इसमें उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि संचालक मनमानी करते हैं तो उनकी एंबुलेंस का अधिग्रहण कर लिया जाए। निजी अस्पतालों के विरुद्ध शिकायत मिलती है तो जांच करें और कार्रवाई करें। उनके बनारस से प्रस्थान के साथ ही प्रशासन पूरे तेवर में आ गया और सख्ती का खाका भी खींच लिया।

मुख्यमंत्री की ओर से तीसरी लहर के लिए तैयारी के निर्देश के मद्देनजर तैयारी भी शुरू कर दी गई। डीएम ने कहा कि एनआइसी की वेबसाइट पर सुबह-शाम प्रत्येक अस्पताल में बेड की स्थिति की सूचना अपडेट कर सार्वजनिक की जा रही है। एंबुलेंस के रेट निर्धारित हैं। मनमानी की जहां भी शिकायत मिलेगी सख्त कार्रवाई होगी। मेडिकल की दुकानों की जांच चल रही है। इसमें और तेजी लाई जाएगी। इसी प्रकार मेडिकल से जुड़े सभी आवश्यक चीजों की भी जांच को दायरा बढ़ाया जाएगा। खाद्यान्न समेत अन्य आवश्यक वस्तुओं पर भी टीम की नजर होगी। मुख्यमंत्री के आदेश के क्रम में कोविड की तीसरी लहर से निबटने की तैयारी एक-दो दिन में शुरू कर दी जाएगी। पीडियाट्रिक बेड के लिए बैठक कर संभावनाओं को तलाशते हुए इस दिशा में कार्य तत्काल शुरू करा दिए जाएंगे।

हर एक की भागीदारी से मिलेगी दूसरी लहर पर विजय : योगी आदित्यनाथ

कोरोना से बचाव के इंतजाम देखने दोपहर में बनारस आए सीएम ने बीएचयू में अस्थायी अस्पताल का निरीक्षण व अफसरों के साथ समीक्षा बैठक के बाद जब मीडिया से मुखातिब हुए तो कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में कोरोना की दूसरी लहर का पूरा देश सफलता के साथ मुकाबला कर रहा है। महामारी से लडऩे के लिए ट्रेस, टेस्ट व ट्रीट के मंत्र को अपना कर प्रदेश ने राहत पहुंचाने में बहुत हद तक सफलता पाई है। हर एक की भागीदारी से दूसरी लहर पर विजय मिलेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट घटी है और रिकवरी दर बढ़ी है। पहली लहर की तुलना में दूसरी लहर काफी तीव्र है। पूरे देश में आपूर्ति के लिए आक्सीजन एक्सप्रेस व इंडियन एयरफोर्स के विमान का उपयोग किया जा रहा है। इससे कोरोना मरीजों को आक्सीजन उपलब्ध कराने में सभी राज्यों को सुगमता हुई।

कहा कि जिस तेजी से संक्रमण बढ़ा उसी तेजी से आक्सीजन की मांग बढ़ी। 1000 मीट्रिक टन आक्सीजन की आपूर्ति प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में हो रही है। टीकाकरण पर जोर देते हुए कहा कि यूपी में 45 से अधिक उम्र के 1.37 करोड़ लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है, जबकि 18 से अधिक उम्र वाले भी एक लाख से अधिक लोग टीका लगवा चुके है। टीकाकरण के लिए 4500 से अधिक केंद्र बनाए गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि काशी चिकित्सा हब है। पूर्वी यूपी सहित बिहार के लोग चिकित्सा सुविधा यहां प्राप्त करते हैं।

डीआरडीओ की ओर से बनाए गए 750 बेड के अस्थायी अस्पताल में 250 बेड वेंटिलेटर युक्त हैं। इससे वाराणसी समेत आसपास के जिलों के लोगों को बड़ी राहत होगी। यहां आर्मी मेडिकल कोर के साथ बीएचयू व स्वास्थ्य विभाग की ओर से भी स्वास्थ्य कर्मियों के अलावा अन्य संसाधन समन्वय स्थापित कर मुहैया कराया जाएगा। बताया कि 18 प्लस के लिए कुछ अन्य जिलों में टीकाकरण दस मई से शुरू होने जा रहा है। केंद्र से पर्याप्त वैक्सीन मिल रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.