आपरेशन कायाकल्प के तहत परिषदीय विद्यालयों में परिवेश बदलने के लिए आरएमएसए को भेजा प्रस्ताव

जिला विद्यालय निरीक्षक डा. वीपी सिंह ने सभी माध्यमिक विद्यालयों को निजी स्रोतों से अपडेट करने का निर्देश दिया है।
Publish Date:Mon, 26 Oct 2020 07:13 PM (IST) Author: Abhishek Sharma

वाराणसी, जेएनएन। आपरेशन कायाकल्प के तहत जनपद बड़ी संख्या में परिषदीय विद्यालयों की तस्वीर बदल चुकी है। अब इसका दायरा माध्यमिक विद्यालयों तक बढ़ाने के लिए विचार किया जा रहा है। इस संबंध में जनपद से राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान (आरएमएसए) को प्रस्ताव भी भेजा जा चुका है। आपरेशन कायाकल्प के तहत जनपद के राजकीय विद्यालयों का भी परिवेश बदलने की तैयारी चल रही है। फिलहाल इसकी शुरुआत सेवापुरी ब्लाक के पांच राजकीय विद्यालयों से की जाएगी।

जिला विद्यालय निरीक्षक डा. वीपी सिंह ने सभी माध्यमिक विद्यालयों को निजी स्रोतों से अपडेट करने का निर्देश दिया है। खास तौर पर 100 से अधिक अशासकीय विद्यालयों को प्रबंधतंत्र के सहयोग से परिसर की साफ-सफाई, पेड़-पौधे व रंगाई-पुताई कर विद्यालयों को आकर्षक बनाने का सुझाव दिया गया है। विद्यालयों में आधुनिक सुविधाओं से युक्त लैब बनाने का कार्य जारी है। सीएम एंग्लो बंगाली इंटर कालेज में अटल टिकरिंग लैब लगभग बन कर तैयार है। इसी प्रकार अनारकली इंटर कालेज व पार्वती इंटर कालेज में लैब बनाने का कार्य प्रगति पर है। कोरोना संक्रमण के चलते बीच में कार्य बाधित रहा। अब निर्माण एक बार फिर शुरू हो गया है। हालांकि अगले सत्र से छात्रों को लैब की सुविधा मिलने की संभावना है।

महीने में एक बार सेमिनार, स्किल डेवलपमेंट में मिलेगी मदद

सीएम एंग्लो बंगाली इंटर कालेज के प्रधानाचार्य डा. विश्वनाथ दुबे के मुताबिक लैब में हर तरह की सुविधाएं होंगी। महीने में एक बार सेमिनार का आयोजन किया जाएगा। सेंसिंग, रोबोटिक मेथड सहित तमाम जानकारियां विद्यार्थियों को मिलेंगी। स्किल डेवलपमेंट में यह काफी कारगर साबित होगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.