दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

BHU Trauma center : प्रो. सौरभ सिंह ने पदभार ग्रहण कर किया, ट्रामा सेंटर के कोविड वार्ड का निरीक्षण

ट्रामा सेंटर में अस्थि रोग विभाग के प्रो. सौरभ सिंह ने शनिवार को सुबह आचार्य प्रभारी का पदभार ग्रहण किया।

पूर्वांचल के एम्स कहे जाने वाले चिकित्सा विज्ञान संस्थान बीएचयू के ट्रामा सेंटर में अस्थि रोग विभाग के प्रो. सौरभ सिंह ने शनिवार को सुबह आचार्य प्रभारी का पदभार ग्रहण किया। इसके बाद उन्होंने यहां बने कोविड-19 वार्ड का भी निरीक्षण किया।

Abhishek SharmaSat, 08 May 2021 12:28 PM (IST)

वाराणसी, जेएनएन। पूर्वांचल के एम्स कहे जाने वाले चिकित्सा विज्ञान संस्थान, बीएचयू के ट्रामा सेंटर में अस्थि रोग विभाग के प्रो. सौरभ सिंह ने शनिवार को सुबह आचार्य प्रभारी का पदभार ग्रहण किया। इसके बाद उन्होंने यहां बने कोविड-19 वार्ड का भी निरीक्षण किया। उनका कहना है कि वे मरीजों को हर संभव बेहतर उपचार दिलाएंगे। 

इससे पहले गुरुवार को जहां प्रो. एसके माथुर ने सर सुंदरलाल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक पद से इस्तीफा दे दिया था वहीं शुक्रवार को ट्रामा सेंटर के प्रोफेसर इंचार्ज डा. संजीव कुमार गुप्ता ने इस्तीफा देकर विश्वविद्यालय प्रशासन को सकते में डाल दिया था। हालांकि प्रशासन की ओर से प्रो. गुप्ता काे मनाने का खूब प्रयास किया गया, लेकिन बात नहीं बन पाई। पूरे दिन की कसमकश के बाद शुक्रवार की रात को प्रो. सौरभ सिंह को ट्रामा की जिम्मेदारी सौंपी गई।

प्रो. सौरभ सिंह के पास बीएचयू के ही सर सुंदरलाल अस्पताल में उप चिकित्सा अधीक्षक का भी प्रभार हैं। अब देखना होगा कि प्रशासन अब यह जिम्मेदारी किसे सौंपता है। वैसे संस्थान के जनरल सर्जरी के वरिष्ठ आचार्य प्रो. संजीव कुमार गुप्ता को ट्रामा सेंटर की उस समय जिम्मेदारी दी गई जब यहां पर अव्यवस्थाएं व अंतरद्वंद्व चरम पर थी। तत्कालिक इंचार्ज पर कई प्रकार के आरोप भी लगे थे। आए दिन बवाल एवं प्रदर्शन की भी खबरें आती थी। इसके कारण तमाम मेडिकल छात्र एवं डाक्टर पर भी लामबंद हो गए थे। अब जो बीएचयू के सर सुंदरलाल अस्पताल से लेकर ट्रामा सेंटर तक कुर्सी के लिए राजनीति एवं एक-दूसरे के खिलाफ अंतरविरोध शुरू हुई तो प्रो. संजीव गुप्ता ने भी इस पद को छोड़ना ही मुनासिब समझा। उन्होंने ट्रामा सेंटर के डीएमएस को अपना प्रभार सौंप दिया था।

इससे पहले अंतरविरोध के कारण ही गुरुवार को एनेस्थिसिया विभाग के हेड प्रो. एसके माथुर ने एमएस पद से इस्तीफा दे दिया, जिसके बाद जनरल मेडिसिन विभाग के प्रो. केके गुप्ता को इस पर अगले आदेश तक के लिए जिम्मेदारी दी गई है। वहीं कुलपति ने शुक्रवार की रात अगले आदेश तक प्रो. सौरभ सिंह को ट्रामा सेंटर का आचार्य प्रभारी बनाया। प्रो. सौरभ सिंह ने बताया कि विश्वविद्यालय प्रशासन ने उन्हें जो जिम्मेदारी है उसे वे पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा के साथ निभाएंगे। ट्रामा सेंटर की चिकित्सा व्यवस्था को और बेहतर बनाने का हर संभव प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहाकि विश्वविद्यालय के नियमों का पालन करते हुए पूरी ईमानदारी से मरीजों का उपचार कराएंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.