बलिया में डीआइजी की परेड में धीमे दौड़े दारोगा, अपराध समीक्षा में कई को मिली चेतावनी

डीआइजी आजमगढ़ सुभाष चंद्र दुबे के दो दिवसीय निरीक्षण के दौरान उन्होंने पुलिस की गतिविधियों को करीब से परखा।

डीआइजी आजमगढ़ सुभाष चंद्र दुबे के दो दिवसीय निरीक्षण के दौरान उन्होंने पुलिस की गतिविधियों को करीब से परखा। उन्होंने शुक्रवार की सुबह करीब आठ बजे पुलिस लाइन के मैदान में परेड में भाग लिया। उन्होंने थाना प्रभारियों समेत सिपाहियों की दौड़ भी देखी।

Saurabh ChakravartyFri, 05 Mar 2021 04:47 PM (IST)

बलिया, जेएनएन। डीआइजी आजमगढ़ सुभाष चंद्र दुबे के दो दिवसीय निरीक्षण के दौरान उन्होंने पुलिस की गतिविधियों को करीब से परखा। उन्होंने शुक्रवार की सुबह करीब आठ बजे पुलिस लाइन के मैदान में परेड में भाग लिया। उन्होंने थाना प्रभारियों समेत सिपाहियों की दौड़ भी देखी। थाना प्रभारियों की धीमी दौड़ को वे खुद दौड़कर परख रहे थे। पुलिस अधीक्षक विपिन तांडा भी डीआइजी के साथ धीमी दौड़ में कदम ताल मिलाते रहे। डीआइजी कभी थाना प्रभारियों के साथ दौड़ रहे थे, तो कभी उनके आग- पीछे से दौड़कर कदमों को एक बराबर रखने के निर्देश दे रहे थे। वहीं प्रशिक्षण ले रहे सिपाही तेजी से दौड़ लगाते रहे। इसके बाद उन्होंने अपनी निगरानी में प्रभारियों को परेड़ कराया। परेड के बाद उन्होंने अपने सामने ही बलवा का ड्रिल कराया। प्रभारियों के छोड़े गए गोले में शुरुआत के दो गोले नहीं फटे। इसके बाद तीन और आंसू गैस के गोले छोड़े गए। दोपहर में सभागार में क्राइम मीङ्क्षटग में उन्होंने 2020 में हुई घटनाओं की समीक्षा की। इस दौरान कोतवाली के जलालपुर में हुई हत्या का खुलासा नहीं होने पर नाराजगी जताई। पंचायत चुनाव को देखते हुए उन्होंने निरोधात्मक कार्रवाई पर जोर दिया। कहा कि चुनाव को देखते हुए बीट की सिपाही प्रतिदिन जाकर माहौल को देखे। साथ ही महिला संबंधी अपराध को गंभीरता से लेने के निर्देश दिए। इस मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार, सभी सीओ व एसओ मौजूद थे। 

आंसू गैस से आम लोगों को हुई दिक्कत

पुलिस परेड ग्राउंड में बलवा ड्रिल के समय छोड़े गए आंसू गैस से आम लोगों को परेशानी हुई। स्टेडियम व कलेक्ट्रेट में टहलने वालों के आंखों में लगने से वह जल्द से हट गए। कुछ लोगों को पानी से आंख धोने के बाद ही राहत मिली। हवा के कारण गैस इधर-उधर उड़ रही थी।

गड़वार थाने का किया निरीक्षण, कस्बे में किए गश्त

गड़वार थाने का वार्षिक निरीक्षण डीआइजी ने गुरुवार की देर शाम को किया। थाने पर पहुंचते ही एसआई वरुण कुमार राकेश व अन्य पुलिसकर्मियों ने सलामी दी। थाना कार्यालय, कंप्यूटर कक्ष का निरीक्षण किया। चुनाव को देखते हुए लाइसेंसी असलहा तत्काल जमा कराने का निर्देश दिए। थाने से गश्त करते हुए त्रिकालपुर तिराहे पर बने पुलिस सहायता कक्ष  का अनावरण भी किया।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.