वाराणसी में मैदागिन चौराहे पर राजीव गांधी की प्रतिमा पर कालिख लगाने वाले युवक को पुलिस ने किया गिरफ्तार

राजीव गांधी की प्रतिमा पर कालिख लगाने वाले युवक को कोतवाली पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है।

मैदागिन चौराहे पर राजीव गांधी की प्रतिमा पर मूर्ति पर कालिख लगाने वाले युवक को कोतवाली पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है। सोमवार को राजीव गांधी की प्रतिमा पर कालिख लगाये जाने से कांग्र‍ेसियों ने आक्रोश जताया था।

Publish Date:Tue, 01 Dec 2020 02:43 PM (IST) Author: saurabh chakravarti

वाराणसी, जेएनएन। मैदागिन चौराहे पर स्थापित पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी की प्रतिमा पर सोमवार को कालिख पोत कर सामाजिक माहौल खराब का प्रयास करने वाले युवक को पुलिस ने 24 घंटे के भीतर धर दबोचा। कांग्रेस कमेटी के महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे की सूचना पर पुलिस ने मैदागिन चौराहे पर लगे सभी सीसीटीवी कैमरे को खंगाल डाला। इसकी मदद से युवक की पहचान हो पाई। कोतवाली पुलिस के मुताबिक कालिख पोतने वाले युवक का नाम शैलेंद्र यादव उर्फ भारती है, जो ढेलविरया-चौकाघाट थाना जैतपुरा का निवासी है। आरोपित युवक मानसिक रूप से अस्वस्थ्य बताया जा रहा है। कोतवाली पुलिस ने मंगलवार को कानूनी कार्रवाई कर उसे जेल भेज दिया।

सोमवार को राजीव गांधी की प्रतिमा पर कालिख लगाये जाने से कांग्र‍ेसियों ने आक्रोश जताया था। विरोध करते हुए कांग्रेस नेता राघवेंद्र चौबे ने 48 घंटे के अंदर मामले की जांच कर दोषियों को पकड़ने के लिए पुलिस प्रशासन को सोमवार को ज्ञापन दिया था। प्रशासन को ज्ञापन देकर कहा है कि अगर 48 घंटे के अंदर अराजक तत्वों को नहीं पकड़ा गया तो कांग्रेस कार्यकर्ता धरना प्रदर्शन करने पर बाध्य हो जाएंगे।

सोमवार की सुबह लोग मैदागिन चौराहे की की ओर गए तो पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की प्रतिमा पर कालिक पोती देखकर लोग आक्रोशित हो गए। मामले की जानकारी से कांग्रेस कार्यकर्ता और पदाधिकारी अवगत हुए तो पहले पुलिस को सूचित करने के बाद कार्रवाई को लेकर पुलिस को ज्ञापन दिया। ज्ञापन देने से पूर्व कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने मूर्ति की सफाई करने के साथ ही प्रतिमा पर माल्‍यार्पण भी किया। वहीं  पीएम के आगमन से पूर्व हुई इस घटना के बारे में प्रशासन को भी अवगत करा दिया गया है। कालिख लगाए जाने की जानकारी के बाद कांग्रेस कार्यकर्ता आक्रोशित हो गए। आनन फानन इस बाबत पुलिस को सूचित करने के साथ ही आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।

कांग्रेस नेता मनीष चौबे सहित कई नजरबंद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन को लेकर संभावित विरोध-प्रदर्शन को रोकने के लिए जिला प्रशासन सतर्क रहा। विपक्षी दलों के कई नेताओं को नजरबंद कर दिया गया था। कांग्रेस नेता मनीष चौबे के खजुरी स्थित आवास पर कई पुलिसकर्मी पहुंचे और उन्हें घर में रहने की ताकीद की। उन्हें धारा 49  के तहत नोटिस जारी कर राजनीतिक रूप से विरोध कर माहौल खराब न करने की चेतावनी दी गई। सपा जिलाध्यक्ष को भी घर में ही रोके रखा गया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.