नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट 2021 के परीक्षार्थियों को फिजिक्स ने उलझाया, वाराणसी के 53 केंद्रों पर हुई परीक्षा

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) की ओर से आयोजित नीट की परीक्षा रविवार को दोपहर दो बजे से शाम पांच बजे तक हुई। जनपद के 53 केंद्रों पर करीब 30000 अभ्यर्थी पंजीकृत थे। परीक्षा में परीक्षार्थियों की करीब 86 फीसद उपस्थिति रही।

Saurabh ChakravartySun, 12 Sep 2021 07:59 PM (IST)
सनबीम वरुणा में नीट की परीक्षा देने जाती छात्राएं अपना कक्ष देखती हुई।

जागरण संवाददाता, वाराणसी। नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट-2021) की परीक्षा में भावी डाक्टरों को फिजिक्स के सवालों ने खूब छकाया। ज्यादातर परीक्षार्थियों को फिजिक्स के न्यूमेरिकल कठिन लगे। फिजिक्स के 45 सवाल हल करने में करने में कई परीक्षार्थियों को एक घंटे से अधिक समय लग गया। वहीं केमिस्ट्री को लेकर परीक्षार्थियों की मिलीजुली प्रतिक्रिया रही। कुछ को केमिस्ट्री सामान्य तो कुछ को केमिस्ट्री के पांच-सात सवाल काफी कठिन लगे। जबकि बायोलाजी काफी सरल लगा। ज्यादातर परीक्षार्थी बायो में पूरे नंबर मिलने की संभावना जता रहे हैं। माइनस मार्किंग होने के कारण कई परीक्षार्थियों ने 15 से 35 सवाल छोड़ दिए।

परीक्षार्थियों को तीन घंटे में कुल 180 प्रश्नों का उत्तर देना था। इसमें फिजिक्स व केमेस्ट्री के 45-45 सवाल पूछे गए थे। जबकि बायोलाजी में 90 प्रश्नों का उत्तर देना था। इसमें बाटनी व जुलाजी के 45-45 बाटनी शामिल थे। परीक्षा में सभी बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे गए थे। एक प्रश्न चार-चार अंकों के थे। इस प्रकार तीनों खंडों में कुल 720 अंक निर्धारित थे। परीक्षा में माइनस मार्किंग भी थी। ऐसे में सही प्रश्न पर चार अंक वहीं एक गलत होने में एक अंक कटेंगे। इसे देखते हुए जिन प्रश्नों के उत्तर में संदेह था। परीक्षार्थियों उसे छोड़ दिया।

परीक्षार्थियों की 86 फीसद रही उपस्थिति

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) की ओर से आयोजित नीट की परीक्षा रविवार को दोपहर दो बजे से शाम पांच बजे तक हुई। जनपद के 53 केंद्रों पर करीब 30,000 अभ्यर्थी पंजीकृत थे। परीक्षा में परीक्षार्थियों की करीब 86 फीसद उपस्थिति रही। हालांकि नोडल केंद्र ने दिल्ली पब्लिक स्कूल (वाराणसी) ने कोई भी जानकारी देने में असमर्थता जताई है।

रिपोर्टिंग सुबह 11 बजे, गेट खुला 11.30 बजे

अभ्यर्थियों के लिए रिपोर्टिंग टाइम सुबह 11 बजे दिया गया था। इस प्रकार अभ्यर्थियों के केंद्रों पर पहुंचने का क्रम सुबह 11 बजे से ही शुरू हो गया। वहीं सुबह 11.30 बजे केंद्र में प्रवेश की अनुमति दी गई। अभ्यर्थियों को बगैर मास्क के केंद्रों पर प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी। वहीं केंद्रों पर शारीरिक दूरी का कड़ाई से अनुपालन कराया जाएगा। परीक्षा समाप्त होने के बाद ही परीक्षार्थियों को एक-एक कर केंद्रों से निकलने की अनुमति दी जा रही थी।

कड़ी धूप में परेशान दिखे अभिभावक

तेज धूूप व गर्मी में परीक्षार्थियों के संग उनके अभिभावक भी परेशान दिखे। सनबीम स्कूल, लहरतारा सहित कई केंद्रों पर धूप से बचने के लिए तमाम अभिभावक छांव की तलाश में इधर-इधर भटकते दिखे।

कोरोना प्रोटाेकाल के संग हुई परीक्षा

कोरोना प्रोटाेकाल को देखते हुए एक कक्ष में महज 12 परीक्षार्थियों को बैठाने की व्यवस्था की गई थी। वहीं थर्मल स्कैनिंग व हाथ सैनिटारइज कराने के बाद ही परीक्षार्थी को केंद्र में प्रवेश करने की अनुमति दी जा रही थी।

परीक्षा छूटते ही लगी जाम

परीक्षा छूटने के बाद कई सेंटरों के आसपास जाम लग गया। लंका, कमच्छा, लहरतारा, चेतगंज (लहुराबीर) सहित अन्य स्थानों पर परीक्षार्थियों को आधा घंटा जाम में झेलना पड़ा।

परीक्षार्थियों से बातचीत

‘पहली बार नीट की परीक्षा शामिल हुआ था। फिजिक्स के अलावा केमिस्ट्री भी मुझे कठिन लगा। तैयारी पूरी न होने के कारण करीब 50 सवाल छोड़ दिया। 180 सवालों में से 120 का उत्तर दी हूं।

- सूरज कुमार, सोनभद्र

‘पहली बार परीक्षा में शामिल हुई। फिजिक्स के सवाल थोड़ा घुमाफिरा कर भी पूछा गया था। वहीं केमिस्ट्री के सभी सवाल सरल थे। माइनस मार्किंग होने के कारण करीब 80 सवाल छोड़ दी।

- अमृता चौहान, आजमगढ़

‘मै तीसरी बार नीट में शामिल हो रहीं हूं। हर बार की तरह इस बार भी फिजिक्स में न्यूमेरिकल कुछ ज्यादा टप था। जबकि केमिस्ट्री का सवाल सामान्य थे। वहीं बायो काफी सरल पूछा गया था। 180 सवाल में से 170 का ही उत्तर दी हूं।

- साक्षी यादव, चंदौली

‘फिजिक्स के सवाल वास्तव में कठिन पूछे गए थे। अच्छी तरह से तैयारी करने के बावजूद फिजिक्स के कई सवाल काफी टप लगे। वहीं केमिस्ट्री उतना ही सरल लगा। फिजिक्स के 45 सवाल हल करने में करीब एक घंटा चला गया।

-दीक्षा, गाजीपुर

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.