नर्सों ने ली निष्ठापूर्वक कार्य करने की शपथ, बरेका केंद्रीय चिकित्सालय में मरीजों के इलाज के दौरान कई बार हुई पाजिटिव

अंतर्राष्ट्रीय नर्सिंग दिवस सादगी पूर्ण तरीके से मनाया, साथ ही अपने कर्तव्यों के प्रति निष्ठापूर्वक कार्य करने का शपथ ली।

कोरोना प्रोटोकॉल नियमों का पालन करते हुए बरेका केंद्रीय चिकित्सालय में कार्यरत नर्सिंग स्टाफ द्वारा अंतर्राष्ट्रीय नर्सिंग दिवस सादगी पूर्ण तरीके से मनाया साथ ही अपने कर्तव्यों के प्रति निष्ठापूर्वक कार्य करने की शपथ ली। बरेका केंद्रीय चिकित्सालय में 40 बेड कोरोना मरीजों के लिए आरक्षित किया गया है।

Saurabh ChakravartyWed, 12 May 2021 06:15 PM (IST)

वाराणसी, जेएनएन। बनारस रेल इंजन कारखाना महाप्रबंधक अंजली गोयल के नेतृत्व में प्रमुख मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुजीत मल्लीक के  चिकित्सिय प्रबंधन व देखरेख में बरेका नर्सिंग टीम द्वारा कोविड मरीजों का देखभाल किया जा रहा है। जिससे कई गंभीर मरीज स्वस्थ होकर घरों को वापस जा चुके हैं और यहां के देखरेख से प्रभावित होकर बरेका चिकित्सकों व नर्सिंग स्टाफ को दुआएं दे रहे हैं।अंतर्राष्ट्रीय नर्सेज दिवस के अवसर पर नर्सो की चारों और प्रशंसा की जा रही है।

जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि कोरोना प्रोटोकॉल नियमों का पालन करते हुए बरेका केंद्रीय चिकित्सालय में कार्यरत नर्सिंग स्टाफ द्वारा अंतर्राष्ट्रीय नर्सिंग दिवस सादगी पूर्ण तरीके से मनाया, साथ ही अपने कर्तव्यों के प्रति निष्ठापूर्वक कार्य करने की शपथ ली। महाप्रबंधक अंजली गोयल ने भी इनके कार्यों की सराहना की एवं अंतराष्ट्रीय नर्सेज दिवस की शुभकामनाएं दी। बरेका केंद्रीय चिकित्सालय द्वारा कोविड केयर सेंटर में 40 बेड कोरोना मरीजों के लिए आरक्षित किया गया है। जिसमें कोविड मरीजों को भर्ती कर उपचार किया जा रहा है ।

कोविड-19 महामारी के दौरान एक तरफ जहां स्वजन खुद कोरोना संक्रमितों के पास जाने से डर रहे हैं तो वहीं नर्सेज दिन-रात सेवा की संजीवनी से उन्हें स्वस्थ करने में जुटी हैं उनके द्वारा कोविड मरीजों का देखभाल किया जा रहा है।उनके द्वारा अपने दायित्व को भली प्रकार से निभाया जा रहा है। पीपीई किट दस्ताने और मास्क पहने कार्य से अधिक घंटे की ड्यूटी करना बेहद थकाऊ और कठिन काम है इनके द्वारा किया गया सेवाभाव मरीजों को जिंदगी की सौगात तो दे ही रहा हैं जो अन्य लोगों के लिए भी प्रेरणादायक है।

कोविड मरीजों के देखभाल के दौरान कई नर्सिंग स्टाफ संक्रमित हो गई थी परंतु जैसे ही उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आयी बिना एक क्षण गवाए कोविड मरीजों की सेवा में पुनः लग गईं । कोरोना संक्रमित मरीजों को आवश्यकता अनुसार कोविड वार्ड में जाकर स्वास्थ्य संबंधित मानिटरिंग करना, चिकित्सकों के परामर्श के अनुसार समय-समय पर ऑक्सीजन लेवल को देखते रहना, मेडिसिन की समयबद्ध उपलब्धता को सुनिश्चित करना आदि कोरोना वार्ड में सैनेटाइजेशन, शौचालय एवं बाथरूम की साफ-सफाई का ध्यान रखा जाना, जिससे किसी मरीज को कोई असुविधा न हो। बरेका नर्सिंग टीम के सेवा व समर्पण के द्वारा ही इतने बड़े टीकाकरण कार्यक्रम को बरेका में सफलतापूर्वक चलाया जा रहा है।

बरेका के 75 दुकानदारों की हुई आरटीपीसीआर जांच

बरेका में सुबह से लाइन लगाकर 18 से ऊपर रजिस्ट्रेशन कराए लोगो ने वैक्सीन लगवाया एव 45 से ऊपर के लोगो ने पहला, व दूसरा डोज लगवाया। बरेका में कुल 18 से 44 तक के 200 तथा 45 से ऊपर पहला व दूसरा डोज मिलाकर 300 लोगो ने वैक्सीन लगवाया है। बुधवार को दोपहर में बरेका कैम्पस में 75 दुकानदारों की आरटीपीसीआर जांच की गई।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.