Night Curfew In Varanasi : जिले में आज से कर्फ्यू रात आठ बजे से सुबह सात बजे तक

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच अब रात आठ से सुबह सात बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू किया गया।

Night Curfew In Varanasi कोविड के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रशासन ने सख्ती की दिशा में कदम बढ़ा दिए हैं। कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच 15 अप्रैल से अब रात आठ से सुबह सात बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू किया गया।

Saurabh ChakravartyThu, 15 Apr 2021 07:08 PM (IST)

वाराणसी, जेएनएन। Night Curfew In Varanasi : कोविड के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रशासन ने सख्ती की दिशा में कदम बढ़ा दिए हैं। जिले में कोविड 19 संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण के दृष्टिगत महामारी अधिनियम के तहत आठ अप्रैल से नाइट कर्फ्यू लागू किया गया था। कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच 15 अप्रैल से अब रात आठ से सुबह सात बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू किया गया। कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण के लिहाज से अपर मुख्य सचिव का आदेश आया है। इस बजह से आज ही से अनुपालन कराने का मंडलायुक्त व पुलिस कमिश्नर को निर्देश मिला है।

कोविड-19 संक्रमण की रफ्तार पर लगाम लगाने के लिए शासन के निर्देश के क्रम में रात आठ बजे से सुबह सात बजे तक रात्रिकालीन कोरोना कफ्र्यू लागू किया गया है। अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी की ओर से जिलाधिकारी को जारी पत्र में कहा गया है कि कोरोना कर्फ्यू का अनुपालन सुनिश्वित कराया जाए तथा वरिष्ठ अधिकारी की ओर से चेकिंग की जाए। इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही नहीं होनी चाहिए। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि निषेधाज्ञा का यह आदेश 30 अप्रैल तक जिले में प्रभावी रहेगा। कोरोना की बढ़ती संक्रमण चेन को तोडऩा के उद्देश्य से आवागमन को नियंत्रित करने के लिए ऐसा किया जा रहा है।

आवश्यक वस्तु की दुकानें प्रतिबंध से मुक्त

निषेधाज्ञा के दौरान आवश्यक वस्तु यानी दूध, दवा, सब्जी, फल आदि की दुकानों को छोड़ अन्य प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। वाहनों का संचालन प्रतिबंधित रहेगा। दूर दराज से आवश्यक वस्तु लेकर आने जाने वाले वाहनों को नहीं रोका जाएगा।

कोरोना संक्रमण को लेकर बाहर जिलों से आने वालों की जांच शुरू

कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए  प्रशासन के निर्देश पर जिले में तफरी लेने वालों पर रोक लगाने के लिए गाजीपुर मार्ग पर  गुरुवार को कमिश्नरी थाना सारनाथ के लेदुपुर पर  पुलिस ने बेरिकेटिंग लगा कर वाहनों की जांच व जिले में आने का कारण पुछताक्ष शुरू कर दी गयी है। मरीज व बहुत जरूरी है तो शहर में प्रवेश मिल रहा है । जबकि अधिकांश लोग तफरी लेने या रहे लोगो को वापस कर दिया गया।  

यहां पर तैनात उपनिरीक्षक अश्वनी राय ने बताया कि आस पास के जिलों के वाहनों से आने वालों का आधार कार्ड व शहर जाने की खास वजह या अस्पताल का प्रमाण पत्र दिखाने पर जिले में प्रवेश मिलेगा । लेकिन अन्य जिलों से आकर यहां तफरी करने वालो आधा दर्जन से अधिक वाहनों को वापस किया गया  शक्तिनगर (सोनभद्र) के अरुण सिंह ने बताया कि वह किसी काम से ससुराल बलिया गए थे। वापस शक्तिनगर (सोनभद्र) अपने घर जा रहे हैं। गजीपुर के सुशील ने कहा कि पेशे से वह ट्रांसपोर्ट  वकील हैं। चुनाव के लिए फार्म छपवाने का टेंडर लिए हैं। फार्म छप गया है वह लेने जा रहे हैं।  वहीं दूसरी तरफ  सिंहपुर  रिंगरोड पुलिया के नीचे उपनिरीक्षक रामानंद यादव के नेतृत्व में  गैर जनपद से आने वाले वाहनों की जांच की गई।  जहां 35 से अधिक गैर जनपद से शहर में तफरी के लिए जा रहे वाहनों व लोगो को वापस भेजा गया।

नाइट कर्फ्यू की यह होगी व्यवस्था:

वाराणसी नगर निगम क्षेत्र में सुबह छह बजे तक लागू रहेगा नाइट कर्फ्यू। दिन में सुबह छह बजे से रात नौ बजे सभी को कोविड-19 प्रोटोकॉल का करना होगा सख्ती से पालन।  आवश्यक वस्तु को लाने ले जाने की छूट होगी ।  फल, सब्जी, दूध, एलपीजी, पेट्रोल-डीजल और दवा की सप्लाई जारी रहेगी।  रात्रि कालीन शिफ्ट में काम करने वाले सरकारी/अर्ध सरकारी संस्थानों के कर्मियों एवं आवश्यक वस्तुओं, सेवाओं में कार्यरत निजी संस्थानों के कर्मियों को आवागमन की छूट रहेगी।  रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन, एयरपोर्ट आने जाने वाले लोग अपना टिकट दिखा कर आ जा सकेंगे। हर प्रकार की माल वाहक गाडिय़ों के आने-जाने पर प्रतिबंध नहीं होगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.