वाराणसी के साथ ही पूरे पूर्वांचल के विकास पर कार्य करेगा नया रियल एस्टेट संगठन

पूर्वांचल रियल एस्टेट एसोसिएशन का गठन किया गया।

वाराणसी सहित पूर्वांचल के ग्रामीण व मध्यम वर्ग के सपनों को पूरा करने के लिए ‘‘पूर्वांचल रियल एस्टेट एसोसिएशन’’ का गठन हुआ। इसका उददेश्‍य काशी परिदृष्य (अपेपवद)- 2041 के साथ-साथ पूर्वांचल के अन्य जिलों में भी विकास का परिदृष्य प्रपत्र तैयार करना।

Saurabh ChakravartyWed, 24 Mar 2021 05:05 PM (IST)

वाराणसी, जेएनएन। वाराणसी सहित पूर्वांचल के ग्रामीण व मध्यम वर्ग के सपनों को पूरा करने के लिए ‘‘पूर्वांचल रियल एस्टेट एसोसिएशन’’ का गठन हुआ। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र भाई मोदी के द्वारा ‘‘सबका साथ-सबका विकास’’ के तहत राज्य सरकार के सहयोग से वाराणसी व पूर्वांचल के शहरी व ग्रामीण औद्योगिक क्षेत्रों में विकास कार्य को गति देने के लिए ‘‘पूर्वांचल रियल एस्टेट एसोसिएशन’’ का गठन किया गया। इस संबंध में बुधवार को छावनी स्थित एक होटल में एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने पत्रकारों से जानकारी साझा की।

संस्था के संरक्षक ओम प्रकाश गुप्ता एवं  गोविंद केजरीवाल ने बताया कि संस्था द्वारा औद्योगिकरण विकास को गति देने के लिए प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के सपनों को पूरा करने हेतु इस संस्था का गठन किया गया। इसमें सभापति अनुज डिडवानिया, अध्यक्ष ऋषभ चन्द्र जैन, उपाध्यक्ष संजीव शाह व संजीव अग्रवाल (टिल्लू), महासचिव आकाष दीप, कोषाध्यक्ष जितेंन्द्र कुमार, संयुक्त सचिव प्रषान्त केजरीवाल, उपसचिव आशुतोष सिंह, अपर सचिव धीरज अग्रवाल, निर्देशक-अनूप दूबे, मनीष मेरोलिया, संतोष कुमार दुबे, ओम प्रकाष ओझा, सतीष कुमार अग्रवाल, नागेन्द्र मिश्रा को सर्वसम्मति से बनाया गया। सभापति अनुज डिडवानिया ने बताया कि संस्था का उद्देष्य  प्रधानमंत्री व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के सपनों को साकार करने के लिए तथा व्यापारियों की समस्याओं को लेकर सरकार के सामने प्रस्तुत कर उसका निवारण करना है।

पूर्वांचल रियल एस्टेट एसोसिएषन’’ का उद्देष्य

1.    काशी परिदृष्य (अपेपवद)- 2041 के साथ-साथ पूर्वांचल के अन्य जिलों में भी विकास का परिदृष्य प्रपत्र तैयार करना।

2.    वर्तमान में शासन की विकास योजनाओं में उत्पन्न बाधाओं को दूर करने में सहभागिता।

3.    स्वच्छ, सुन्दर, नियोजित काषी निर्माण में जनभागीदारी एवं जनसहयोग हेतु प्रेरणा।

4.    विकास के अनुभवी विषेषज्ञों के साथ समय-समय पर राष्ट्रीय गोष्ठी एवं कार्यषालाओं का आयोजन।

5.    वाराणसी विकास महायोजना में त्रुटियों का निराकरण एवं वर्तमान में आवष्यक संषोधन।

6.    शहर की विकास अवस्थापना (पदतिंजनतबजनतम) योजनाओं के परिकल्पना में सहभागिता।

7.    प्रधानमंत्री आवास योजना को सफल बनाने में वाराणसी विकास प्राधिकरण के साथ कंधे से कंधा मिलाकर क्रियान्वन।

8.    भवन निर्माण की आधुनिक तकनीक एवं आधुनिक निर्माण सामग्री की जानकारी जन-जन तक पहुँचाने का प्रयास।

9.    अपने शहर में देश की अग्रणी रियल एस्टेट कंपनियों को निवेष हेतु प्रेरित करना।

10.    पूर्वांचल के विकास हेतु आसपास के जिलों के समुचित विकास हेतु आपसी अनुभवों एवं सूचनाओं का आदान-प्रदान।

11.    संस्था  (पूर्वांचल रियल एस्टेट एसोसिएषन) को विस्तारित करने के लिए पूर्वांचल के अन्य जिलों में भी संस्था की इकाईयों का गठन करना।

12.    प्रधानमंत्री आवास योजना-2022 तक ग्रामीण क्षेत्रों में सबको आवास मिले, इस हेतु एसोसिएशन आस-पास के ग्रामीण क्षेत्रों में जागरुकता अभियान मे पूर्ण सहयोग को तत्पर रहना।

13.    शासन प्रशासन एवं न्यायपालिका के बीच में संबंध बना कर हम बिल्डरों की आ रही समस्याओं का विस्तृत रुप से निराकरण कराना।

14.     कम लागत की आवास योजनाओं को सफल बनाने हेतु निर्माण सामग्री निर्माताओं से संवाद जैसी रिसर्च प्देजपजनजम के माध्यम से सम्पर्क स्थापित कर योजना को सफल बनाना।

15.    वर्तमान में शहर के बाहरी क्षेत्रों के विकास में उत्पन्न बाधाओं जैसे सीवर, सड़क, बिजली, बरसाती पानी निकासी, सुगम आवागमन हेतु यातायात की अनुपलब्धता को क्रमबद्ध तरीके से विकसित करने हेतु योजना तैयार कर शासन, प्रषासन के समक्ष प्रस्तुत किया जाना।

16.    वाराणसी में को लेकर शहर के बहुत बड़े क्षेत्र में निर्माण पर रोक, क्रय-विक्रय में सुस्ती है। यह पाबंदी उचित नही प्रतीत होती है। इस न्यायालय के समक्ष उचित तर्क प्रस्तुत कर पाबंदी हटाया जन होना।

17.    शहर व शहर के बाहरी क्षेत्र के विकास में आ रही व आने वाली बाधाओं को जिला प्रषासन व सरकार के साथ मिल-बैठ कर अविलम्ब दूर कराना।

18.    प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में निर्माण से जुड़े कामगारों को प्रशिक्षित करना।

उक्त अवसर पर शुभम डिडवानिया, राज श्रीवास्तव, हर्ष कुमार जैन, पंकज सिंह, मनीष लोहिया, अम्बुज चतुर्वेदी, राजेन्द्र पाण्डेय, श्रेयांष जैन, सज्जन सिंह, अनूप सर्राफ, अषोक तिवारी, अंकित राय भी उपस्थित थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.