Neet Salwar Gang : सरगना की तलाश में बिहार में छापेमारी, कोचिंग सेंटरों व मेडिकल कालेजों में भी जा रहा खंगाला

नीट में सेंधमारी करने वाले गैंग के सरगना पीके की तलाश में कमिश्नरेट पुलिस बिहार में छापेमारी कर रही है। पटना पुलिस के साथ पीके और उसके नेक्सस को खंगाला जा रहा है। पुलिस की टीम बिहार पुलिस के साथ कोचिंग सेंटरों व मेडिकल कालेजों को भी खंगाल रही है।

Saurabh ChakravartyThu, 16 Sep 2021 09:05 AM (IST)
नीट में सेंधमारी करने वाले गैंग के सरगना पीके की तलाश में कमिश्नरेट पुलिस बिहार में छापेमारी कर रही है।

जागरण संवाददाता, वाराणसी। Neet Salwar Gang नीट में सेंधमारी करने वाले गैंग के सरगना पीके की तलाश में कमिश्नरेट पुलिस बिहार में छापेमारी कर रही है। पटना पुलिस के साथ पीके और उसके नेक्सस को खंगाला जा रहा है। रविवार को गिरफ्तार बीएचयू की छात्रा जूली, मंगलवार को पकड़े गए उसके भाई अभय व आसोमा शाहिद से मिली अहम जानकारियों के आधार पर पुलिस की नजर बिहार के दूसरे सॉल्वरों पर भी है जिनका पीके के गैंग से जुड़ाव है। पुलिस टीम बिहार के खगडिय़ा जिला भी गई है जहां का मूल निवासी विकास महतो अभी फरार चल रहा है। विकास ने ही छात्रा जूली को उसकी मां व भाई अभय के जरिए परीक्षा में बैठने के लिए राजी किया था।

पुलिस की टीम बिहार पुलिस के साथ कोचिंग सेंटरों व मेडिकल कालेजों को भी खंगाल रही है। पूछताछ में सामने आया था कि कोचिंग सेंटरों की आरोपित रेकी करते थे। ऐसे में पुलिस का मानना है कि कोचिंग सेंटरों व मेडिकल कालेजों से भी गिरोह के बारे में अहम जानकारी मिल सकती हैं। पुलिस प्रवेश परीक्षाओं में पूर्व में हुई धांधली का भी पता लगा रही है।

सूत्रों के अनुसार ओसामा व अभय से पूछताछ और उनके मोबाइल से पुलिस को कई अहम सुराग मिले हैं। इसके बाद पुलिस कई एंगल पर काम कर रही है। वहीं, केजीएमयू में एमबीबीएस के छात्र ओसामा के करीबी दोस्तों से भी पूछताछ की तैयारी है। इसके लिए पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने एक अलग टीम का गठन किया है। पुलिस नीट की अभ्यर्थी हिना विश्वास की भी तलाश कर रही है। पुलिस से मिली जानकारी के आधार पर मंगलवार को त्रिपुरा पुलिस हिना के घर पहुंची मगर वहां ताला लगा हुआ था। बनारस से भी एक पुलिस टीम त्रिपुरा जाएगी।

ओसामा को रिमांड पर ले सकती है पुलिस

साल्वर गैंग से जुड़े केजीएमयू में एमएमबीबीएस के छात्र ओसामा शाहिद के मोबाइल फोन से मिली जानकारियों के आधार पर उसके साथियों तक पहुंचने की पुलिस कोशिश कर रही है। मऊ के मोहम्मदाबाद गोहना निवासी ओसामा अपने तीन भाइयों में सबसे छोटा है। इसके सबसे बड़ा भाई फुजैल घर पर रहकर कार्य करता है। दूसरा भाई फजलो अजीम सउदी में काम करता है। 15 सिंतबर को दानिश के बहन के घर पर बच्चे का नामकरण था। इसमें शामिल होने के लिये भी वह घर आया था। खास बात यह है कि घर वाले ओसामा को मो. दानिश के नाम से जानते हैं।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.