Mukhtar Ansari Case: वर्चुअल पेशी में जज के सामने गिड़गिड़ाया मुख्तार अंसारी, बोला- BJP कर रही मेरी हत्या की साजिश

पांच-पांच दिन पर लगातार वर्चुअल पेशी भी चल रही

Mukhtar Ansari Case मुख्तार अंसारी ने बेगुनाही की दलीलें पेश कर उच्च स्तर की जांच की मांग उठाई तो मऊ कोर्ट से जेल मैनुअल के अनुसार सुविधा नहीं मिलने की शिकायत की। मुख्तार अंसारी कोर्ट में गिड़गिड़ा रहा है।

Dharmendra PandeyFri, 23 Apr 2021 10:52 AM (IST)

वाराणसी, जेएनएन। बाहुबली मुख्तार अंसारी के पंजाब की रूपनगर जेल के बांदा जेल में आते ही हालात बदल गए हैं। बहुजन समाज पार्टी के विधायक बाहुबली के बांदा जेल की बैरक नम्बर 15 में जमीन पर लेटने के दौरान रातें करवटें बदल-बदल कर बीत रही हैं। इसी दौरान पांच-पांच दिन पर लगातार वर्चुअल पेशी भी चल रही है। हर बार मुख्तार अंसारी कोर्ट में गिड़गिड़ा रहा है।

मऊ से बसपा विधायक बाहुबली मुख्तार अंसारी की गुरुवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए आजमगढ़ व मऊ कोर्ट में पेशी हुई। आजमगढ़ में मजदूर की हत्या मामले में मुख्तार अंसारी ने बेगुनाही की दलीलें पेश कर उच्च स्तर की जांच की मांग उठाई तो मऊ कोर्ट से जेल मैनुअल के अनुसार सुविधा नहीं मिलने की शिकायत की।

आजमगढ़ में मजदूर की हत्या मामले में विधायक को सुबह पेश होना था, लेकिन कोरोना वायरस संक्रमण के कारण अपर जिला व सत्र न्यायाधीश जितेंद्र यादव के गैंगस्टर कोर्ट में दोपहर 1.10 बजे वर्चुअल सुनवाई हुई। इस 15 मिनट की सुनवाई में आरोपित ने कहा कि मुझे साजिशन फंसाने के लिए तरवां थाना क्षेत्र में हुई हत्या के छह वर्ष बाद गैंगस्टर का मुकदमा दर्ज किया गया है। जज ने सुनवाई की अगली तिथि 24 मई तय की। इसके बाद आदेश दिया कि विवेचक प्रशांत श्रीवास्तव बांदा जेल जाकर आरोपित का बयान दर्ज कर सकेंगे। मुख्तार अंसारी ने अपने बचाव में कहा कि मजदूर की हत्या के समय वह आगरा जेल में बंद था। 16 वर्ष से गाजीपुर गया ही नहीं। इस केस में गाजीपुर की पेशी को आधार बनाया गया है। भाजपा मेरी हत्या की साजिश रच रही है। मुख्तार ने अपनी जमानत की मांग उठाई, जिस पर न्यायाधीश ने कहा कि प्रार्थनापत्र पड़ेगा तो विचार किया जाएगा। अधिवक्ता दारोगा सिंह, लल्लन सिंह व सीएल निगम ने भी मुख्तार के पक्ष में दलीलें पेश की। विशेष लोक अभियोजक संजय द्विवेदी व विनय मिश्र भी उपस्थित थे।

आजमगढ़ के तरवां थाना क्षेत्र के ऐरा खुर्द गांव में 2014 में मजदूर की गोली मारकर हत्या की गई थी। इसमें मुख्तार अंसारी को हत्या का षड्यंत्र रचने का नामजद आरोपित बनाया गया। नौ अन्य लोगों के खिलाफ गैंगस्टर का मुकदमा दर्ज किया गया था। ऐसे में माना जा रहा है कि आजमगढ़ पुलिस जल्द ही मुख्तार अंसारी से पूछताछ के लिए बांदा जेल जा सकती है।

मऊ कोर्ट में मुख्तार ने लगाई सुविधा देने की गुहार: मऊ में लेटर पैड पर फर्जी पते से चार लोगों को असलहे देने की सिफारिश मामले में आरोपित मुख्तार की पेशी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बांदा जेल से हुई। अधिवक्ता दारोगा सिंह ने बताया कि पेशी की अगली तिथि अब 26 अप्रैल को निर्धारित की गई है। असुविधाओं की शिकायत पर अदालत ने जेल मैनुअल के अनुसार बंदी को सुविधा मुहैया कराने का जेल अधीक्षक को आदेश दिया। उसने जेल मैनुअल 432 की अनदेखी किए जाने की बात रखते हुए अपने लिए सुविधाएं मांगी। जमानत की भी मांग उठाई, जिसपर विद्वान जज ने कहाकि प्रार्थनापत्र पड़ेगा तो विचार किया जाएगा।

बांदा जेल में सहमा सा है बाहुबली: बाहुबली विधायक और माफिया मुख्तार अंसारी पंजाब से बांदा जेल में शिफ्ट होने के बाद डरा सहमा है। वह गुरूवार को पेशी के दौरान जज के सामने गिडगिड़ाने लगा। मुख्तार के इस बर्ताव को देख हर कोई दंग रह गया। करीब 20 मिनट तक हुई सुनवाई के दौरान मुख्तार रोने लगा। मुख्तार ने गिड़गिड़ाते हुए जज के सामने खुद को निर्दोष बताया और योगी आदित्यनाथ सरकार पर द्वेष की भावना से कार्रवाई करने का आरोप लगाया। मैं पांच बार का विधायक हूं, मुझसे भाजपा तो लगातार हारी है। सत्ता में आने के बाद मेरी हत्या की साजिश रची जा रही है।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.