Azamgarh Panchayat Election 2021 : लालगंज के सरूपहा गांव में बैलट बाक्‍स में डाला पानी, चुनाव रद

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए जिले में सोमवार को सुबह सात बजे से मतदान पड़ना शुरू हो गया।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए जिले में सोमवार को सुबह सात बजे से मतदान पड़ना शुरू हो गया। निर्धारित समय से मतदान शुरू कराने के लिए निर्वाचन से जुड़े अधिकारी सुबह छह बजे से ही बूथों की तैयारिया जानने दौड़ने लगे थे।

Abhishek SharmaMon, 19 Apr 2021 09:23 AM (IST)

आजमगढ़, जेएनएन। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए जिले में सोमवार को सुबह सात बजे से मतदान पड़ना शुरू हो गया। निर्धारित समय से मतदान शुरू कराने के लिए निर्वाचन से जुड़े अधिकारी सुबह छह बजे से ही बूथों की तैयारिया जानने दौड़ने लगे थे। दरअसल जनपद में कुल 2064 मतदान केंद्रों पर बनाए गए 6229 मतदेय स्थलों पर  हैं, जिसमें करीब 3720084 मतदाताओं को वोट करना है। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मतदाताओं की थर्मल स्कैनिंग की जा रही थी।

मेंहनगर तरवा थाना क्षेत्र के बिशुनपुर मठिया में दोपहर 12:30 बजे प्राथमिक विद्यालय पर प्रत्याशी सहित समर्थक आमने-सामने हो गए। गाली गलौज के साथ ही मामला मारपीट में बदल गया। जिसमें प्रत्याशी राम प्रसाद चौहान घायल और उनकी पत्नी सहित कई समर्थक भी घायल हो गए। करीब 35 से 40 मिनट तक मतदान प्रभावित रहा। सूचना पर जोनल मजिस्ट्रेट/उपजिलाधिकारी प्रियंका प्रियदर्शिनी, सीओ लालगंज ने मौके पर पहुंचकर जायजा लिया और मतदान पुनः शुरू कराया। 

आजमगढ़ जिले के 22 विकास खंडों में चल रहे पंचायत चुनाव में जैसे-जैसे समय बीत रहा है, वैसे-वैसे वोटिंग का फीसद भी बढ़ता जा रहा है। छिटपुट घटनाओं के बीच दिन में एक बजे तक 39.6 फीसद वोटिंग हुई। जबकि सुबह 11 बजे तक 10.7 फीसद और 11 बजे तक 27 फीसद मतदान हुआ था।

लालगंज ब्लाक के सरूपहा गांव में बूथ कैप्चरिंग सूचना पर अराजकतत्वों ने मत पेटिका में पानी डाल दिया। बूथ कैप्चरिंग की सूचना पर दो गुट के लोग आमने-सामने हुए थे। नोकझोंक के बाद एक गुट के लोगों ने मत पेटिका में पानी डाल दिया। इस दौरान सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी मूकदर्शक बने रहे। उपद्रवियों के भागने के बाद क्लस्टर मोबाइल दस्‍ता पहुंचा। मत पेटिका में पानी पड़ने के बाद प्रशासन ने चुनाव को रद कर दिया। यहां पर प्रधान पद के आठ, क्षेत्र पंचायत सदस्य के सात और जिला पंचायत सदस्य के 14 प्रत्याशी मैदान में थे। आजमगढ़ के सरूपहा गांव में बैलट बॉक्स में पानी डालने की खबर पर एसडीएम पंकज श्रीवास्तव सीआरपीएफ के साथ पहुंचे और जायजा लिया।

तहबरपुर थाने के मधसिया गांव में मतदान के दौरान पोलिंग बूथ पर सुबह 10 बजे कुछ युवकों की पुलिस से झड़प हो गयी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस दो युवको को थाने उठा ले गयी। इसके बाद मतदान शांतिपूर्ण ढंग से चल रहा है।

आजमगढ़ में सुबह 11 बजे तक 27 फीसद मतदान हुआ है। लालगंज ब्लाक के सरुपहा के दो बूथों में बैलेट बॉक्स में पानी डालने की सूचना भी सामने आई है। विकास खंड लालगंज के सरुपहा प्राथमिक विद्यालय के बूथ संख्या 55 व 56 में बैलेट बॉक्स में पानी डालने की सूचना के बाद सेक्टर व जोनल मजिस्ट्रेट जांच में जुटे हैं तो मतदान भी सुरक्षा कारणों से रोकना पड़ा है। 

मतदान पर लगी पुलिस पर किया पथराव

मेंहनगर थाना क्षेत्र के ग्राम सभा भड़सारी बूथ पर समय करीब 9.30  बजे मतदान पर लगे पुलिस कर्मी संजय व अन्य पुलिस कर्मी ने प्रत्याशी समर्थकों सहित अन्य लोगों से 200 मीटर की दूरी पर रहने को कहा। जिसकी बात ग्रामीणों को नागवार लगी, इसी बात को लेकर लोग पुलिस पर ईंट पत्थर चलाने लगे। मामले को शांत करने का प्रयास किया जाता तबतक लाठियां भांजते हुए पुलिस वालों ने किसी तरह अंदर भाग कर जान बचाई। इसकी जानकारी थाना प्रभारी निरीक्षक सुनील चंद तिवारी को देते हुए उच्च अधिकारियों को कराया। सूचना के क्रम में जोनल मजिस्ट्रेट / एसडीएम मेंहनगर प्रियंका प्रियदर्शिनी, सीओ लालगंज मनोज रघुवंशी, पीएसी बल ने पहुंच कर लाठियां भांजी जिसमें दर्जनों लोगों को हिरासत में लिया गया है। पूरे गांव में पीएसी बल तैनात कर दी गई है। 

महिला मतदान कर्मी की हालत खराब

मेंहंनगर तहसील क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय गोपालपुर बुथ संख्या 175 पर महिला मतदान कर्मी ज्योति पत्नी शैलेन्द्र रावत निवासी मुहम्मद पुर निजामबाद की ड्यूटी लगी है। सुबह भाई किशन की सुबह मृत्यु होने की सूचना पाकर महिला मतदान कर्मी ज्योति रोने लगी और मतदान कुछ देर के लिए रुक गया। सूचना मिलने पर जोनल मजिस्ट्रेट/उप-जिलाधिकारी मेंहंनगर ने रिजर्व ड्यूटी में लगे कर्मचारी को बूथ पर भेजा तब जाकर मतदान बहाल हुआ।

ऐसा बना है सुरक्षा चक्रव्यूह,1015 बूथ संवेदनशील

निर्वाचन अधिकारियों ने 1015 मतदान केन्द्रों को अतिसंवेदनशील, 603 मतदान केन्द्रों को संवेदनशील एवं 446 मतदान केन्द्रों को सामान्य श्रेणी के मतदान केन्द्रों में रखा है। सभी अतिसंवेदनशील एवं संवेदनशील मतदान केन्द्रों पर उपनिरीक्षक के साथ अतिरिक्त सशस्त्र पुलिस बल एलर्ट मोड में रखा गया है। इसके साथ जनपद में 200 से अधिक कलस्टर मोबाइल बनाये गये हैं, जिसमें निरीक्षक/उपनिरीक्षक के साथ 06 अतिरिक्त सशस्त्र पुलिस बल तैनात रहेगा, जो प्रत्येक मतदान केन्द्र पर 10 मिनट के अन्दर पहुंचने की व्यवस्था है। रहेंगे। जनपद के नाके पर सीमाओं को सील कर बैरियर लगा दिया गया है। 

जानिए कितना फोर्स लगी है

जनपद में चुनाव को सकुशल कराने के लिए 03 अपर पुलिस अधीक्षक, 08 पुलिस उपाधीक्षक, 64 निरीक्षक, 778 उपनिरीक्षक, 2109 मुख्य आरक्षी, 5718 आरक्षी, 897 रिक्रूट आरक्षी, 7443 होमगार्ड, 175 पीआरडी, 04 कम्पनी पीएसी एवं 02 कम्पनी सीआरपीएफ लगायी जा रही है। 

चुनाव का डिटेल

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में  प्रधान, बीडीसी सदस्य, जिला पंचायत सदस्य एवं ग्राम पंचायत सदस्य के कुल 26,866 पदों के लिए 29,235 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला 37,20,084 मतदाता करेंगे। जिसमें जिला पंचायत सदस्य के 84 पदों पर 1120, ग्राम प्रधान के 1858 पदों पर 11,594, बीडीसी सदस्य के 2104 पद पर 9485 और ग्राम पंचायत सदस्य के 22,820 पदों के सापेक्ष मात्र 7036 प्रत्याशी चुनाव में हैं। कुल 26,866 पदों में 9930 अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति, 14,916 अन्य पिछड़ा वर्ग और सामान्य आरक्षित सीट पर 4389 प्रत्याशी हैं। कुल 13,262 महिला प्रत्याशी भी शामिल हैं। ग्राम प्रधान के 1858 पदों पर 11,594 में 4048 अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति, 5895 अन्य पिछड़ा वर्ग और सामान्य आरक्षित सीट पर 1651 प्रत्याशी हैं। इसमें 5,269 महिला प्रत्याशी शामिल हैं। बीडीसी सदस्य के 2104 पदों पर 9485 प्रत्याशियों में 3118 अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति, 5072 अन्य पिछड़ा वर्ग और सामान्य आरक्षित सीट पर 1295 प्रत्याशी हैं। इस सीट पर4373 13,262 महिला प्रत्याशी हैं। जबकि ग्राम पंचायत सदस्य के 22,820 पदों के 7036 प्रत्याशियों में  2390 अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति, 3388 अन्य पिछड़ा वर्ग और सामान्य आरक्षित सीट पर 1258 प्रत्याशी हैं। इस पद पर 3069 महिला प्रत्याशी शामिल हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.