शारदीय नवरात्र विंध्य कारिडोर का माडल बताने का बेहतर, श्रद्धालुओं को धक्का-मुक्की से मिलेगी निजात

मां विंध्यवासिनी धाम में लगने वाले शारदीय नवरात्र मेले का नजारा इस बार अलग और खास होगा। विंध्यवासिनी मंदिर को भव्य रूप देने व दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए विंध्य कारिडोर का निर्माण भले ही न हो पाया हो लेकिन इस बार विंध्यधाम अलग छटा बिखेरेगा।

Saurabh ChakravartyMon, 27 Sep 2021 04:54 PM (IST)
शारदीय नवरात्र के दौरान मां विंध्यवासिनी परिक्षेत्र का दृश्य पूरी तरह बदला होगा।

जागरण संवाददाता, मीरजापुर। मां विंध्यवासिनी धाम में लगने वाले शारदीय नवरात्र मेले का नजारा इस बार अलग और खास होगा। विंध्यवासिनी मंदिर को भव्य रूप देने व दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए विंध्य कारिडोर का निर्माण भले ही न हो पाया हो, लेकिन इस बार विंध्यधाम अलग छटा बिखेरेगा। शारदीय नवरात्र के दौरान मां विंध्यवासिनी परिक्षेत्र का दृश्य पूरी तरह बदला होगा। यह दर्शनार्थियों के लिए सरल तो होगा ही, उनके घूमने व भ्रमण के लिए भी व्यवस्था होगी। शारदीय नवरात्र ही विंध्य कारिडोर का माडल बताने का मौका होगा। इसके लिए तैयारी शुरू हो गई है।

विंध्य कारिडोर के जरिए 51 शक्तिपीठों में से एक विश्व प्रसिद्ध मां विंध्यवासिनी धाम को भव्य व अलौकिक रूप से संवारा जाएगा। अभी तक संकरी गलियों से होकर मां विंध्यवासिनी का दर्शन करने जाता पड़ता था। अब विंध्यधाम संकरी गलियों से मुक्त हो गई है। शारदीय नवरात्र के दौरान विंध्यधाम पहुंचने वाला हर श्रद्धालु विंध्य कारिडोर की झलक से रूबरू होगा। किस तरह दिखेगा कारिडोर, इसका जवाब सोशल मीडिया के जरिए हर किसी के पास पहुंच चुका है। विंध्य कारिडोर को लेकर श्रद्धालुओं में काफी जिज्ञासा है। ऐसे में लोगों को इसका माडल बताने के लिए शारदीय नवरात्र बेहतर मौका है। इसके लिए तैयारी शुरू हो गई है।

मंदिर की सफाई और साज-सज्जा की तैयारी के साथ जगह-जगह विंध्य कारिडोर का माडल भी लगवाया जाएगा। रोडवेज, स्टेशन, गंगा घाट, मंदिर के आसपास व अन्य स्थानों पर विंध्य कारिडोर का माडल चित्र लगाया जाएगा। विंध्यवासिनी मंदिर का दायरा अब विस्तृत हो चुका है। इससे श्रद्धालुओं को धक्का-मुक्की से निजात मिलेगा। श्रद्धालु विंध्यवासिनी मंदिर से ही गंगा दर्शन भी कर सकेंगे। मंदिर परिसर भी भव्य स्वरूप में नजर आने लगा है। नवरात्र मेले में विंध्य कारिडोर जैसा भव्य नजारा तो नहीं होगा, लेकिन झलक जरूर दिखेगी। अगर समय रहते प्रशासन तैयारी पूर्ण कर ले तो विंध्यधाम अद्भुत छटा बिखेरेगा और श्रद्धालुओं की राह भी आसान होगी।

विंध्य कारिडोर निर्माण की घड़ी नजदीक

बहुप्रतीक्षित विंध्य कारिडोर का शिलान्यास होने के बाद अब निर्माण की घड़ी नजदीक आ चुकी है। सारी प्रक्रियाएं लगभग पूर्ण हो चुकी है। नवरात्र समाप्त होने के दस दिन बाद विंध्य कारिडोर का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। परिक्रमा पथ से निर्माण कार्य का श्रीगणेश होगा। कारिडाेर निर्माण के लिए शासन की ओर से 128 करोड़ रुपये की मंजूरी भी मिल गई है। अब बस निर्माण कार्य शुरू होने का इंतजार है।

शारदीय नवरात्र समाप्त हाेने के दस दिन बाद विंध्य कारिडोर

शारदीय नवरात्र समाप्त हाेने के दस दिन बाद विंध्य कारिडोर का निर्मााण कार्य शुरू हो जाएगा। प्रथम चरण में परिक्रमा पथ निर्माण होगा। इसके लिए सारी प्रक्रियाएं लगभग पूर्ण हो चुकी है।

- योगेश्वरराम मिश्र, आयुक्त, विंध्याचल मंडल।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.