भदोही में प्रधान प्रत्‍याशी घूंघट उठाकर देख रहा था महिलाओं को, पुलिस ने कहा - चलो, थाने में होगी मुंह दिखाई

शक हुआ तो हर घूंघट में आने वाले महिला का जबरन घूंघट उठाकर जांचने लगा।

प्रधान पद प्रत्‍याशी को घूंघट की आड़ में फर्जी वोट करने का शक हुआ तो हर घूंघट में आने वाले महिला का जबरन घूंघट उठाकर जांचने लगा। प्रत्‍याशी की इस हरकत से महिलाओं में आक्रोश फैल गया। इस बात की शिकायत पुलिस से की गई।

Abhishek SharmaThu, 15 Apr 2021 12:02 PM (IST)

भदोही, जेएनएन। जिले में सुबह सात बजे से ही मतदान उत्‍साह पूर्वक जारी है। एक ओर प्रशासन सुरक्षा कारणों से सतर्क है तो दूसरी ओर प्रत्‍याशी भी सतर्कता और उत्‍साह में ऐसा काम कर जाते हैं जो हंसी ही नहीं बल्कि कार्रवाई की भी वजह बन जाती है। ऐसा ही एक वाकया भदोही जिले के सिंगापुर ग्रामसभा क्षेत्र में गुरुवार की सुबह सामने आया। मतदान करने जा रही कई महिलाएं घूंघट करके वोट करने जा रही थीं, इस बात पर प्रधान पद प्रत्‍याशी को घूंघट की आड़ में फर्जी वोट करने का शक हुआ तो हर घूंघट में आने वाले महिला का जबरन घूंघट उठाकर जांचने लगा। प्रत्‍याशी की इस हरकत से महिलाओं में आक्रोश फैल गया। इस बात की शिकायत पुलिस से की गई तो पुलिस आनन फानन प्रत्‍याशी को उठाकर थाने ले आई।

पुलिस के अनुसार कुछ लोगों ने शिकायत किया कि प्रधान प्रत्‍याशी घूंघट में वोट डालने आने वाली महिला का घूंघट उठाकर देख रहा है। प्रत्‍याशी की इस हरकत से महिलाएं लज्जित महसूस कर रही थीं। इस मामले में हंगामा होते देख सुरक्षा कारणों से पुलिस आरोपित प्रधान प्रत्‍याशी को उठाकर थाने ले आई। इसके बाद महिलाएं वोट डालने सुकून से पहुंचीं। वहीं गांव के अन्‍य लोग भी प्रधान प्रत्‍याशी की इस हरकत की निंदा करते नजर आए। पुलिस के अनुसार क्षेत्र में विवाद होने और प्रत्‍याशी के इस अभद्र व्‍यवहार को देखते हुए कार्रवाई की गई है। जबकि महिलाओं का कहना था कि प्रत्‍याशी गांव में घूंघट में रहने वाली महिलाओं को चेहरा दिखाकर जाने की जिद कर रहा था। इसकी वजह से बहुएं और महिलाएं अपमानित महसूस कर रही थीं। इसकी वजह से विरोध के स्‍वर उठे तो पुलिस को आनन फानन कार्रवाई करनी पड़ी।

वहीं पुलिस कस्‍टडी में आरोपित प्रधान प्रत्‍याशी ने आरोप लगाया कि गांव में विरोधी पक्ष की ओर से महिलाएं घूंघट में छिपकर फर्जी तरीके से वोट कर रही हैं। इस बाबत शिकायत मिलने के बाद वह खुद ही जांच करने पहुंच गया और हर घूंघट वाली को चेहरा दिखाकर ही वोट देने जाने दे रहा था। इस बात को लेकर विवाद शुरू होने के बाद पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया तो उसने इसके लिए भी विरोधियों को कुसूरवार ठहराया। जबकि क्षेत्र में प्रधान पद प्रत्याशी की यह हरकर काफी चर्चा में सुबह से ही बनी हुई थी। पुलिस के अनुसार आरोपित को थाने भेज दिया गया है। अब गांव में इस बाबत कहीं भी कोई विरोध की स्थिति नहीं है और मतदान शांतिपूर्वक चल रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.