बलिया के बिल्थरारोड में मिली अवैध हथियार की फैक्ट्री, पुलिस ने शूटर और तीन बदमाशों को पकड़ा

चेकिंग के दौरान तुर्तीपार रेगुलेटर के पास से संदेह के आधार पर बाइक से जा रहे संजय साहनी निवासी मिश्रौली मोलनापुर थाना मधुबन जनपद मऊ निवासी को पकड़ा। जिसके बास से एक अवैध तमंचा मिला। कड़ाई से पूछताछ के बाद उसने बताया कि वह तमंचा को बेचने जा रहा था।

Abhishek SharmaWed, 01 Dec 2021 05:09 PM (IST)
कड़ाई से पूछताछ के बाद अरोपित ने बताया कि वह तमंचा को बेचने जा रहा था।

बलिया, जागरण संवाददाता। उभांव पुलिस को मंगलवार की रात बड़ी सफलता हाथ लगी। उभांव इंस्पेक्टर अविनाश कुमार सिंह ने अवैध हथियार की फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया और पिस्टल एवं अवैध तमंचा के साथ तीन बदमाशों को दबोच लिया। उभांव इंस्पेक्टर अविनाश सिंह ने बताया कि वाहन चेकिंग के दौरान तुर्तीपार रेगुलेटर के पास से संदेह के आधार पर बाइक से जा रहे संजय साहनी निवासी मिश्रौली मोलनापुर थाना मधुबन जनपद मऊ निवासी को पकड़ा। जिसके बास से एक अवैध तमंचा मिला। कड़ाई से पूछताछ के बाद उसने बताया कि वह तमंचा को बेचने जा रहा था।

गिरफ्तार संजय साहनी ने ही उभांव थाना क्षेत्र में अवैध हथियार बनाने की फैक्ट्री संचालित होने की जानकारी दी। जिसके आधार पर पुलिस ने नगरा पुलिस के सहयोग से आधी रात को ही खंदवा गांव में दबिश दिया। जहां अवैध हथियार बनाने की फैक्ट्री का खुलासा हुआ। भारी मात्रा में अवैध हथियार बनाने का सामान बरामद किया गया। मौके से उभांव इंस्पेक्टर अविनाश सिंह ने मिथिलश उर्फ लालू यादव ग्राम पालपूरा दुबारी मधुबन मऊ निवासी को एक पिस्टल और 9 एमएम के कारतूस के साथ दबोच लिया। मिथिलेश उर्फ लालू यादव बड़े गिरोह का शूटर है। जो अवैध हथियार फैक्ट्री का मुख्य सरगना बताया जा रहा है।

पुलिस ने गोविंद यादव ग्राम मोलनापुर मधुबन मऊ निवासी को दबोचा। इसके पास से भी पुलिस ने एक अवैध तमंचा और 315 बोर का कारतूस बरामद किया है। उभांव इंस्पेक्टर अविनाश सिंह ने यह भी स्पष्ट किया कि पुलिस से बचने के लिए यह गिरोह जगह-जगह बदल बदलकर हथियार की फैक्ट्री संचालित करता है और कुछ दिन पूर्व ही खंदवा गांव में भी फैक्ट्री लगाई गई थी। जो पुलिस के हत्थे चढ़ गया। छापामारी में उभांव इंस्पेक्टर अविनाश कुमार सिंह, नगरा थानाध्यक्ष संजय सरोज, एसआई अशोक कुमार, सिपाही भानू पांडेय, सुनील निषाद व पंकज सिंह शामिल रहे।

शूटर है मिथिलेश यादव उर्फ लालू, रामाश्रय गिरोह से है सीधा कनेक्शन : उभांव पुलिस द्वारा अवैध हथियार फैक्ट्री के भंडाफोड़ के दौरान गिरफ्तार मिथिलेश यादव उर्फ लालू बड़ा शूटर बताया जा रहा है। मऊ जनपद के मधुबन थाना क्षेत्र में कुछ वर्ष पूर्व हुए चर्चित दीपन यादव हत्याकांड में भी यह शामिल था। जिसका कनेक्शन कई बड़े शूटरों के साथ रहा है। मिथिलेश के पास से बरामद पिस्टल भी उसे जेल में बंद 50 हजार के इनामी बदमाश रहे रामाश्रय यादव द्वारा दिया गया बताया जा रहा है। मिथिलेश उर्फ लालू कई हत्या, दुष्‍कर्म के मामलों का मुख्य अभियुक्त रहा है। उभांव इंस्पेक्टर ने बताया कि गिरफ्तार दूसरा बदमाश गोविंद यादव का भी क्रिमिनल हिस्ट्री रहा है और लूट के मामलों में पुलिस को पहले भी इसकी तलाश रही है।

तीन बदमाशों के पास से चार हथियार और कारतूस बरामद : उभांव इंस्पेक्टर अविनाश कुमार सिंह ने अवैध हथियार फैक्ट्री का खुलासा करते हुए बताया कि पूरे आपरेशन में बदमाशों के पास से नाइल एमएम का एक पिस्टल, एक कारतूस, 315 बोर का तीन अवैध तमंचा, चार कारतूस, तमंचा बनाने के उपकरण, एक बाइक बरामद किया गया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.