मीरजापुर में बैंकों का बदला आइएफएससी कोड, जनपद में सात लाख खाताधारक हो गए प्रभावित

लोगों को बैंकिग सुविधा सर्वसुलभ बनाने के लिए बैंकों का विलय किया गया। बैंकों के एक-दूसरे में विलय के बाद ग्राहकों की समस्याएं बढ़ गई। कारण बैंकों का आइएफएससी कोड जो बदल गया। व्यवस्थाओं में खामी के चलते आज भी ग्राहक परेशान हो रहे हैं।

Saurabh ChakravartyTue, 18 May 2021 05:51 PM (IST)
बैंकों का आइएफएससी कोड जो बदल गया।

मीरजापुर, जेएनएन। लोगों को बैंकिग सुविधा सर्वसुलभ बनाने के लिए बैंकों का विलय किया गया। बैंकों के एक-दूसरे में विलय के बाद ग्राहकों की समस्याएं बढ़ गई। कारण बैंकों का आइएफएससी कोड जो बदल गया। हालांकि बैंकों ने अपने सर्वर पर आइएफसी कोड को सही करने का दावा कर रही हैं लेकिन व्यवस्थाओं में खामी के चलते आज भी ग्राहक परेशान हो रहे हैं। एलडीएम कुमार अजय की मानें तो मीरजापुर में ही लगभग सात लाख खाताधारकों का आइएफएससी कोड बदला है।

एक अप्रैल 2020 को पूरे देश भर में 10 बैंकों का विलय हुआ तो लोगों को लगा की बैंकिंग सुविधा आसान होगी, लेकिन आइएफएससी कोड बदलने के चलते सुविधा आसान होेने में अभी कुछ दिन और लगने की संभावना है। इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक, कारपोरेशन बैंक का यूनियन बैंक आफ इंडिया, ओरिएंटल बैंक आफ कामर्स का पंजाब नेशनल बैंक और सिंडिकेट बैंक का केनरा बैंक में विलय हुआ। इसी वर्ष एक अप्रैल 2021 में बैंकों की शाखाओं के आइएफएससी कोड बदले गए। कोड बदलने से ग्राहकों की परेशानियां शुरू हो गई हैं। हालात यह है कि इन बैंकों से संबंधित पेंशनरों की पेंशन और कर्मचारियों का वेतन फंस गया।

बैंक द्वारा स्वयं आइएफएससी कोड को अपडेट कर दिया गया

कुछ बैंकों का विलय होने के बाद आइएफएससी कोड बदल गया था। बैंक द्वारा स्वयं आइएफएससी कोड को अपडेट कर दिया गया। इसके चलते राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन की धनराशि को स्थानांतरित करने में किसी प्रकार की परेशानी नहीं आई।

- घनश्याम प्रसाद, डीसी, एनआरएलएम, मीरजापुर।

वर्तमान समय में धनराशि ट्रांसफर में कोई परेशानी नहीं है

संबंधित बैंकों ने अपने सर्वर पर आइएफएससी कोड को दुरुस्त कर लिया है। वर्तमान समय में धनराशि ट्रांसफर में कोई परेशानी नहीं है। बैंक द्वारा खाताधारक के घर पर सीधे चेक भेजा जा रहा है। बैंक में आने पर खाताधारक का पासबुक नया बनाया जा रहा है। ग्राहकों को किसी प्रकार की समस्या नहीं होने दी जाएगी, प्राथमिकता पर निस्तारण किया जाएगा।

- कुमार अजय, एलडीएम, मीरजापुर।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.