फसल कटाई की वायरल हुई फोटाे तो किसानों को थमाया गया चेक, 25 अक्‍टूबर को होगी पीएम नरेन्‍द्र मोदी की जनसभा

प्रधानमंत्री के एक दिवसीय काशी दौरे (25 अक्टूबर) के दौरान ब्लाक सेवापुरी के मेंहदीगंज में निर्धारित जनसभा स्थल पर खेतों से धान की फसल कटाई शुरू हुई तो विपक्ष मुद्दा बनाने में जुट गया। राजनीतिक गलियारे में चर्चा के बीच फसल कटाई की तस्वीरें वायरल कर दी गई।

Saurabh ChakravartyMon, 18 Oct 2021 08:37 PM (IST)
वाराणसी में प्रधानमंत्री की सभा के लिए समतल किया जा रहा मैदान।

जागरण संवाददाता, वाराणसी। प्रधानमंत्री के एक दिवसीय काशी दौरे (25 अक्टूबर) के दौरान ब्लाक सेवापुरी के मेंहदीगंज में निर्धारित जनसभा स्थल पर खेतों से धान की फसल कटाई शुरू हुई तो विपक्ष मुद्दा बनाने में जुट गया। राजनीतिक गलियारे में चर्चा के बीच फसल कटाई की तस्वीरें वायरल कर दी गई। मामला जब तूल पकडऩे लगा तो जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा को आगे आना पड़ा। सोशल मीडिया पर उन्होंने स्पष्ट किया कि फसल की क्षतिपूर्ति किसानों को दी जा रही है। जनसभा स्थल के लिए कुल तीस गाटा के 8.745 हेक्टेयर भूमिधरी रकबा लिया गया है। धान के निर्धारित समर्थन मूल्य 1940 रुपये प्रति क्विंटल की दर से किसानों को चेक के माध्यम से भुगतान किया जा रहा है। हार्वेस्टर से फसल कटाई कर किसानों के घर तक पहुंचाने का काम भी किया जा रहा है। जिलाधिकारी ने चेक प्राप्त करने वाले कुछ किसानों की तस्वीरे भी जारी की। 11 किसानों को सोमवार की शाम तक चेक दे दिया गया था। बताया गया कि शेष की धनराशि खाते में डाल दी जाएगी। क्षतिपूर्ति की सूची में 88 किसानों को रखा गया है।

एक बीघा में दस क्विंटल का नुकसान

राजस्व विभाग की ओर से एक बीघा में दस क्विंटल धान की फसल के नुकसान का आकलन किया गया है। सरकार की ओर से घोषित समर्थन मूल्य 1940 रुपये प्रति क्विंटल है। निर्धारित इसी दर पर उक्त सभी किसानों को क्षतिपूर्ति दी जा रही है।

क्षतिपूर्ति पाने के बाद किसान खुश

एसडीएम, अन्य विभागीय अधिकारियों व महिला ग्राम प्रधान के पति शकील अहमद की मौजूदगी में किसान चंद्रशेखर, मुरारीलाल, लालधारी, शिवधारी, कांता, राजेश, मिथलेश, विभूति नारायण, अवध नारायण, बाबूलाल, , दिनेश समेत अन्य को चेक दिया गया। शेष का आधार कार्ड व चेकबुक की फोटो कापी ली गई। चेक पाने के बाद किसान खुश थे। किसानों का कहना था कि सरकार ने पूरा पैसा दिया है। खेत की लगी फसल भी दे दी। प्रधानमंत्री का यहां आना सौभाग्य की बात है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.