जौनपुर में हत्या से पूर्व बालिका संग हुआ था दुष्कर्म, मडिय़ाहूं कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक निलंबित

जौनपुर में हत्या से पूर्व बालिका संग हुआ था दुष्कर्म, मडिय़ाहूं कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक निलंबित
Publish Date:Mon, 10 Aug 2020 11:30 AM (IST) Author: Saurabh Chakravarty

जौनपुुर, जेएनएन। मडिय़ाहूं कोतवाली क्षेत्र के एक गांव से गुरुवार की शाम लापता जिस बालिका की गला रेतकर हत्या के बाद मक्के के खेत में फेंका गया शव मिला था, उसके साथ दुष्कर्म हुआ था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इसकी पुष्टि हुई। चौबीस घंटे के भीतर घटना का राजफाश कर पुलिस ने इस जघन्यतम वारदात के आरोपित नरपिशाच को चंदौली पुलिस की मदद से गिरफ्तार कर लिया है। वहीं एसपी ने कोतवाल को निलंबित कर दिया है।

गांव निवासी अनुसूचित जाति की 11 वर्षीय बालिका गुरुवार की शाम छोटी बहन संग घर के पास खेलते समय लापता हो गई थी। काफी देर तक पता न चलने पर स्वजनों ने उसकी तलाश की, लेकिन कहीं पता नहीं चला। उन्होंने शुक्रवार को कोतवाली में सूचना दी। पुलिस ने स्वजनों संग तलाश किया, किंतु पता न चलने पर कोतवाली आकर लिखित सूचना देने की बात कहकर चली गई। शनिवार को पड़ोस के गांव श्रीपालपुर में घास काटने गई महिलाओं की नजर राजकुमार के मक्के के खेत में बालिका के शव पर पड़ी। उसकी धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या के बाद पहचान मिटाने के इरादे से चेहरे पर ज्वलनशील पदार्थ फेंक दिया गया था। शव को देखने से साफ लग रहा था कि हत्या से पूर्व उसके साथ दुष्कर्म किया गया था। रविवार को तीसरे पहर पोस्टमार्टम के बाद रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि हुई। अपहरण, हत्या व साक्ष्य मिटाने का मुकदमा दर्ज कर छानबीन में जुटी पुलिस ने चंदौली जिले की पुलिस की मदद से आरोपित बाल गोविंद उर्फ गोविंदा निवासी गांव पंवरा थाना सकलडीहा, चंदौली को 24 घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया। आरोपित बालिका के गांव में अपनी ससुराल में रहता था। पुलिस के मुताबिक बाल गोविंद उर्फ गोविंदा छोटी बहन के साथ खेल रही बालिका को मुर्गा दिलाने के बहाने साइकिल पर बैठाकर ले गया और दुष्कर्म के बाद हत्या कर शव खेत में फेंक दिया था। अब मुकदमे में दुष्कर्म की भी धारा बढ़ा दी जाएगी।

कोतवाल निलंबित

पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार ने बालिका से दुष्कर्म के बाद हत्या के मामले में कर्तव्य पालन में लापरवाही के आरोप में मडिय़ाहूं कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक त्रिवेणी लाल सेन को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि पूरे प्रकरण में कोतवाल ने समय से अपेक्षित कार्रवाई नहीं की।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.