यूपी में साढ़े चार लाख बेरोजगारों को मिली सरकारी नौकरी, पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र काशी बना माडल

नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने कहा कि बेरोजगारी में भारी कमी आई है। केंद्र व प्रदेश सरकार की योजनाओं से रोजगार के नए अवसर खुले हैं तो प्रदेश सरकार ने अब तक साढ़े चार लाख पढ़े-लिखे बेरोजगारों को सरकारी नौकरी दी है।

Saurabh ChakravartySun, 19 Sep 2021 10:04 PM (IST)
यूपी के नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन

जागरण संवाददाता, वाराणसी। नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने कहा कि बेरोजगारी में भारी कमी आई है। केंद्र व प्रदेश सरकार की योजनाओं से रोजगार के नए अवसर खुले हैं तो प्रदेश सरकार ने अब तक साढ़े चार लाख पढ़े-लिखे बेरोजगारों को सरकारी नौकरी दी है। पूरी कवायद पारदर्शिता के साथ की गई है। योग्यता अनुसार युवाओं की नियुक्ति हुई है। विकास की कसौटी पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संसदीय क्षेत्र काशी देश के लिए माडल बनकर उभरा है।

नगर विकास मंत्री रविवार को सर्किट हाउस में मीडिया से मुखातिब थे। उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकारों में जितनी भी जर्जर योजनाएं थीं उसे भाजपा सरकार में दुरुस्त किया गया। प्रदेश के 10 स्मार्ट सिटी में छह में सिटी कमांड एंड कंट्रोल सेंटर बन गए हैं। इसके तहत प्रस्तावित योजनाओं के क्रियान्वयन व पूर्णता के लिहाज से वाराणसी स्मार्ट सिटी को पूरे देश में अव्वल स्थान मिला है।

आशुतोष टंडन ने कहा कि अब तक जितने ढांचागत निर्माण के अलावा जनकल्याणकारी योजनाएं लागू की गई हैं, इससे पूर्व दशकों तक राज करने वाली सरकारों ने नहीं किया था। जनधन, आयुष्मान भारत, अंत्योदय, उज्ज्वला, किसान सम्मान निधि जैसी कई बड़ी जनकल्याणकारी योजनाएं हैं जिनसे गरीबों का जीवन स्तर बेहतर हुआ। कृषि व पशुपालन क्षेत्र में सरकारी योजनाओं ने गांव में ही रोजगार के अवसर दिए हैं। मुद्रा लोन, वेंडर्स को आर्थिक सहायता से दो लाख से अधिक लोगों को रोजगार मिला है।

बिजली के क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ है। अब शहर में 24 घंटे तो गांव में 18 से 20 घंटे बिजली मिल रही है। बेहतर पर्यावरण के लिए गंगा निर्मलीकरण, पौधारोपण, शहर में हरियाली जैसी योजनाएं कारगर हुई हैं। कोरोना काल में केंद्र व प्रदेश सरकार के प्रयासों को विदेशों तक सराहा गया। कोरोना जांच के लिए जहां एक भी जांच लैब नहीं थी, वहीं अब 334 लैब क्रियाशील हो गई हैं। ऐसे ही 392 आक्सीजन प्लांट भी सक्रिय हो गए हैं। प्रेसवार्ता के दौरान नगर विकास मंत्री की ओर से एक बुकलेट भी दिया गया जिसमें पीएम मोदी व सीएम योगी आदित्यनाथ की फोटो के साथ पारदर्शी और जवाबदेही सरकार का दावा किया गया है। इसके अलावा विकास की लहर हर गांव हर शहर शीर्षक के साथ ही बीते चार सालों में हुए विकास कार्यों को उल्लेख किया गया है।

सरकार की उपलब्धियों को गिनाते नगर विकास मंत्री से जब बनारस की पेयजल व सीवेज योजनाओं के अब तक जनोपयोगी नहीं होने का सवाल किया गया तो उन्होंने इसका ठीकरा पूर्व की सपा व बसपा सरकार पर फोड़ा। इस मौके पर महापौर मृदुला जायसवाल, विधायक सौरभ श्रीवास्तव, एमएलसी लक्ष्मण आचार्य, महानगर अध्यक्ष विद्यासागर राय, जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा, भाजपा के प्रदेश सह मीडिया प्रभारी धर्मेंद्र सिंह आदि मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.