top menutop menutop menu

बांस के Bridge से गुजरने को मजबूर, शहर सहित आसपास के इलाकों में जलजमाव से संकट गहराया

बांस के Bridge से गुजरने को मजबूर, शहर सहित आसपास के इलाकों में जलजमाव से संकट गहराया
Publish Date:Tue, 04 Aug 2020 06:35 AM (IST) Author: Abhishek Sharma

बलिया, जेएनएन। मेरा दर्द न जाने कोय वाली स्थिति शहर सहित आसपास रहने वालों की हो गई है। बारिश से जलप्लावन इस कदर हो गया है कि लोग बांस का पुल बनाकर अपने घर तक जा रहे हैं। यह स्थिति एक जगह नहीं कई जगहों पर हैं। इतना पानी कहां से आ गया है यह कोई बता नहीं पा रहा है। शहर के काजीपुरा मोहल्ले की हालत पहले से ही खराब है। इसके बाद आवास विकास कालोनी, बेदुआ आदि का हाल पहले से ही बेहाल है। अब तो शहर से सटे जीराबस्ती का इन दिनों बुरा हाल है। जलप्लावन से कई एकड़ फसल नष्ट हो गई है। संक्रामक बीमारियों के फैलने का खतरा है।

एआरटीओ कार्यालय के बगल में रहने वालों का हाल तो और भी बुरा है। पानी निकासी की व्यवस्था नहीं होने के कारण लोगों की बडी-बडी मकान पानी से घिर गई है। लोग बांस का पुल बना कर आने-जाने को मजबूर हैं। इस पर न तो प्रशासन ध्यान दे रहा और न ही जनप्रतिनिधि। ऐसे में लोगों के सामने इस कोरोना काल मेे कई तरह की दिक्कत हो रही है। जल जमाव से लोग कई तरह की बीमारियों से जूझ रहे है। पिछली साल भी इस तरह की दिक्कत आई थी। इसके बाद भी प्रशासन इसका समाधान नहीं कर सका।

पुल बंद होना बना सबसे बडा़ कारण

शहर से सिकंदरपुर जाने वाले मार्ग पर बहादुरपुर पुल के बाद सडक पर कई छोटे-छोटे पुल थे। सडक निर्माण के दौरान इन पुलों को बंद कर दिया गया। इसके चलते पानी इधर से उधर नहीं जा पा रहा है। बडे-बडे मकान बनने के दौरान भी पुल को बंद कर दिया गया। इससे इस इलाके की समस्या जटिल हो जाती है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.