top menutop menutop menu

रोहनिया में हत्या कर बोरे में डाली लाश और पहचान मिटाने के लिए लगा दी बोरे में आग Varanasi news

वाराणसी, जेएनएन। रोहनिया के शाहंशाहपुर में रविवार रात किसी समय युवक की हत्या करने के बाद अपराधियों ने उसकी पहचान मिटाने के लिए शव को बोरे में डालने के बाद आग लगा दी। सोमवार सुबह चरी के खेत में अधजला शव मिलने की सूचना पर सनसनी मच गई। आसपास के लोग पहुंचे तो घटनास्थल देखकर कांप उठे। रोहनिया पुलिस का दावा है कि युवक की हत्या अन्यत्र की गई है और उनके थाना क्षेत्र में शव को फेंककर आग लगा दी गई। पुलिस के अनुसार युवक की उम्र लगभग 20 वर्ष थी।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चलेगा कि हत्या कब और कैसे हुई है। रोहनिया थाना क्षेत्र के शाहंशाहपुर गाव स्थित मंगरहा मार्ग पर सिवान चौखंबा बाहा के पास मोतीचंद पटेल का खेत है। सोमवार सुबह जब राहगीर उधर से गुजरे तो अधजला शव देखकर ठिठक गए। पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर डॉग स्क्वायड को भी बुलाया गया। फोरेंसिक टीम ने जांच की तो युवक के दाहिने हाथ में पीली धातु की अंगूठी मिली। वहीं युवक के पैर में मोजे थे। फोरेंसिक टीम को मौके पर वाहनों के टायर के निशान भी मिले हैं। दावा है कि अन्यत्र हत्या करने के बाद शव को वाहन से लाया गया और उसकी पहचान मिटाने के लिए बोरे में शव डालकर आग लगा दी गई।

दीवार गिरने से महिला की मौत : जंसा के हरसोस गाव में सोमवार को कच्चे मकान की दीवार गिरने से महिला की मौत हो गई। गांव निवासी राम नारायण पटेल का कच्चा मकान है। कच्चे मकान के बगल में पक्का मकान बनाने के लिए खोदाई करते समय दीवार गिर गई। इसकी चपेट में आकर रेखा पटेल (26) दब गई। शोर सुनकर पहुंचे ग्रामीणों ने मलबा हटाकर महिला को बाहर निकाला। आनन-फानन में ग्रामीण उन्हें स्थानीय एक अस्पताल ले ले गए, जहा से नगर के लिए रेफर कर दिया गया। इसके बाद रेखा को रोहनिया स्थित एक अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। रेखा पटेल के पति अजय पटेल खेती का काम करते हैं। उनका एक वर्षीय बच्चा है। घटना के बाद पुलिस को बिना सूचना दिए परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार कर दिया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.