वाराणसी में 15 जून से एसी बसों का संचालन बहाल होने की उम्मीद, मुख्यालय से हरी झंडी मिलने का इंतजार

कोरोना वायरस की दूसरी लहर में बेपटरी रोडवेज एसी बसों के पुनः बहाली की उम्मीद बढ़ गई है। 15 जून से वाराणसी परिक्षेत्र में भी इस सेवा का संचालन शुरू हो जाएगा। मुख्यालय से अनुमति मिलने के बाद इस बारे में विचार किया जाएगा।

Saurabh ChakravartySat, 12 Jun 2021 04:18 PM (IST)
कोरोना वायरस की दूसरी लहर में बेपटरी रोडवेज एसी बसों के पुनः बहाली की उम्मीद बढ़ गई है।

वाराणसी, जेएनएन। कोरोना वायरस की दूसरी लहर में बेपटरी रोडवेज एसी बसों के पुनः बहाली की उम्मीद बढ़ गई है। विभागीय सूत्रों के अनुसार 15 जून से वाराणसी परिक्षेत्र में भी इस सेवा का संचालन शुरू हो जाएगा। मुख्यालय से अनुमति मिलने के बाद इस बारे में विचार किया जाएगा। फिलहाल, प्रदेश के संक्रमण प्रभावित जिलों को मिली छूट में शामिल परिवहन सेवा के बाबत जारी दिशा निर्देश का अध्ययन किया जा रहा है।

गत दिनों संक्रमण के प्रसार को देखते हुए रोड़वेज में एसी बस सेवा का संचालन बंद कर दिया गया था। हालाकि साधारण सेवा पर कोई रोक नहीं लगाई गई। क्योंकि साधारण सेवा की तुलना में वातानुकूलित बसों में संक्रमण के प्रसार का खतरा ज्यादा होता है। लिहाजा, वाराणसी परिक्षेत्र के अंतर्गत सभी 16 एसी बसों पर रोक लगा दिया गया।

कैंट स्थित चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय बस अड्डे लखनऊ, प्रयागराज, गोरखपुर व बहराईच समेत विभिन्न क्षेत्रों के लिए एसी बसे चलाई जाती है। कार्यवाहक क्षेत्रीय प्रबंधक संतोष कुमार ने बताया कि मुख्यालय से आदेश जारी होने के बाद एसी बसों के संचालन पर निर्णय लिया जाएगा।

59.44 लाख आमदनी का लक्ष्य

संक्रमण काल में धीमी हो चुकी रोडवेज की आर्थिक रफ्तार को सुधारने की कवायद चल रही है। लखनऊ मुख्यालय ने उत्तर प्रदेश के सभी परिक्षेत्र और बस डिपो को अपनी इनकम बढ़ाने का निर्देश दिया है। औसतआमदनी 34.56 लाख रुपए में वृद्धि करते हुए अब 59.44 लाख रुपए आय अर्जित करने का लक्ष्य दिया है। गौरतलब है कि पिछलेवर्ष सम्पूर्ण बंदी के बाद रोडवेज के इनकम का पहिया दौड़ने लगा था। लेकिन दूसरी लहर में लोड फैक्टर गिरने से आमदनी फिर से घट गई।

120 रोडवेज कर्मचारियों को लगा टीका

टीकाकरण अभियान के तहत शनिवार को रोडवेजके वंचित कर्मचारियों को भी कोरोना रोधी टीका लगाया गया। कैंट बस स्टैंड पर आयोजित दो दिवसीय टीकाकरण शिविर के पहले दिन 120 चालक और परिचालको को यह डोज लगाई गई। संक्रमण की रोकथाम के लिए जरुरी टीकाकरण के मौके पर सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक (ग्रामीण डिपो) ओपी ओझा मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.