चंदौली में रात भर पुलिस के साथ चली बदमाशों की मुठभेड़, दो बदमाश और एक आरक्षी को लगी गोली

ग्राहक सेवा केंद्रों में आए दिन लूट की घटनाओं को अंजाम देने वाले शातिर लुटेरों का मुकाबला रविवार की रात पुलिस से हुआ। सदर कोतवाली पुलिस से कटसिला के पास मुठभेड़ में गाजीपुर के जमानियां थाना के सारनबाधा गांव निवासी पीयूष कुमार को पैर में गोली लग गई।

Abhishek SharmaMon, 02 Aug 2021 12:20 PM (IST)
लूट की घटनाओं को अंजाम देने वाले शातिर लुटेरों का मुकाबला रविवार की रात पुलिस से हुआ।

चंदौली, जागरण संवाददाता। ग्राहक सेवा केंद्रों में आए दिन लूट की घटनाओं को अंजाम देने वाले शातिर लुटेरों का मुकाबला रविवार की रात पुलिस से हुआ। सदर कोतवाली पुलिस से कटसिला के पास मुठभेड़ में गाजीपुर के जमानियां थाना के सारनबाधा गांव निवासी पीयूष कुमार को पैर में गोली लग गई।

वहीं रात में ही मुठभेड़ के दौरान उसका साथी अंधेरे में भाग निकला। मुठभेड़ के दौरान पुलिस ने आरोपित से पिस्टल भी बरामद किया। पैदल भाग रहे दूसरे बदमाश को पकड़ने के लिए सकलडीहा कोतवाली पुलिस ने नई बाजार में घेरेबंदी की। यहां दूसरे बदमाश से पुलिस का मुकाबला हुआ। शातिर लुटेरे ने पुलिस पर पिस्टल से ताबड़तोड़ फायर झोंक दिया गया। पिस्टल की गोली से सकलडीहा कोतवाल के बीपी जैकेट में छेद हो गया। खुद को संभालते हुए पुलिस ने जवाबी फायरिंग की तो बदमाश के पैर में गोली लग गई। उसकी पहचान कमालपुर निवासी कृष्णानंद विश्वकर्मा के रूप में हुई, उसके पास एक पिट्ठू बैग भी मिला है।

इसमें ग्राहक सेवा केंद्रों से लूटे गए 1.95 लाख रुपये बरामद किए गए। पुलिस को लुटेरे गैंग के अन्य बदमाशों की लोकेशन बलुआ थाना क्षेत्र में मिली, इस पर बलुआ एसओ ने मथेला नहर पुलिया के पास चेकिंग शुरू कर दी। थोड़ी देर बाद एक बाइक पर सवार होकर दो लोग आते दिखे। पुलिस ने रुकने का इशारा किया तो फायरिंग करते हुए निकल गए। बलुआ एसओ ने धानापुर पुलिस को सूचना दी। धानापुर पुलिस ने शहीदगांव के पास घेरेबंदी कर ली। बदमाशों को रुकने का इशारा किया तो पुलिस टीम पर कई राउंड फायरिंग झोंक दिया। इसमें आरक्षी रुपेश कुमार दुबे के हाथ में गोली लग गई।

पुलिस की जवाबी फायरिंग में बिहार प्रांत से कैमूर थाने के रामगढ़ थाना के रिहुआं गांव निवासी अरुण कुमार और कमालपुर के बभनियांव निवासी अंकुर के दायें व बायें पैर में गोली लग गई। दोनों के पास से 32 बोर की पिस्टल और तमंचा बरामद किया गया। घायल बदमाशों को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। एसपी समेत पुलिस विभाग के आला अधिकारी मुठभेड़ की सूचना के बाद मौके पर पहुंच गए। एसपी ने बताया कि शातिर बदमाश जिले व आसपास के जनपदों में लूट की घटनाओं को अंजाम देते थे। इतने दुस्साहसी थे कि रोकते ही पुलिस पर फायरिंग कर देते थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.