वाराणसी में भी हो रहा जवाद का असर, बारिश और कोहरे के आसार वाराणसी में बरकरार

लोग धूप के लिए तरस गए क्योंकि पूरे दिन आसमान में बादल छाए रहे। प्रसिद्ध मौसम विज्ञानी प्रो. एसएन पांडेय ने बताया कि आंध्र प्रदेश व ओडिशा के समुद्र तट से एक तूफान जवाद टकरा रहा है। इसका असर होगा कि वाराणसी एवं आसपास के क्षेत्रों में दिख रहा है।

Abhishek SharmaSat, 04 Dec 2021 09:57 AM (IST)
मौसम विभाग प्रो. एसएन पांडेय ने बताया कि तूफान आंध्र प्रदेश व ओडिशा के समुद्र तट से टकरा रहा है।

वाराणसी, जागरण संवाददाता। आंध्र प्रदेश व ओडिशा में आए जवाद तूफान का असर पूर्वांचल में भी हो रहा है। लगातार तिसरे दिन शुक्रवार को भी आसमान में बादल छाए रहे। हालांकि सुबह में थोड़ी धूप जरूर हुई थी, लेकिन करीब साढ़े 10 बजे से आसमान में काले बादल छा गए। यह स्थिति पूरे दिन रहीं। कहीं-कहीं तो हल्की बूंदाबांदी भी हुई। इसके कारण गलन भरी ठंड भी बढ़ गई थी। यह स्थिति आंध्र प्रदेश व ओडिशा में आए जवाद तूफान के कारण पैदा हुई है। वहीं हिमाचल से उत्तर-पश्चिमी हवा भी आ रही हैं, जबकि जवाद के कारण सतह से पुरवा हवा आ रही है। दोनों के टकराने पर बारिश भी हो सकती है।

लोग धूप के लिए तरस गए, क्योंकि पूरे दिन आसमान में बादल छाए रहे। प्रसिद्ध मौसम विज्ञानी प्रो. एसएन पांडेय ने बताया कि आंध्र प्रदेश व ओडिशा के समुद्र तट से एक तूफान जवाद टकरा रहा है। इसका असर होगा कि वाराणसी एवं आसपास के क्षेत्रों में दिख रहा है। बताया कि जमीन से कुछ ऊचाई से उत्तर-पश्चिमी हवा आ रही है। इसके कारण ठंडी बढ़ी है। वहीं इसके साथ ही ओडिशा से पुरवा हवा भी चल रही है, जिसके कारण बादल छा रहे हैं। उन्होंने बताया कि रविवार को दोनों ही यहां पर मिलेंगे तो बारिश हो सकती है। काशी हिंदू विश्वविद्यालय के मौसम विज्ञानी प्रो. मनोज श्रीवास्तव बताते हैं कि बादलों के बढ़ने के बाद मौसम में हल्की उमस हो सकती है जो एक-दो दिनों तक रहेगी।

मौसम विभाग प्रो. एसएन पांडेय ने बताया कि एक तूफान आंध्र प्रदेश व ओडिशा के समुद्र तट से टकरा रहा है। इसके कारण कुछ दिनों में हल्की बारिश हो सकती है। उनहोंने बताया कि हिमाचल व अन्य हिमालयी क्षेत्र से बर्फीली उत्तर-पश्चिमी हवा भी आ रही है। इसके कारण ठंड बढ़ी है। हालांकि जमीन पर पुरवा हवा का डेरा है। इससे आसमान में बादल छाऐ हैं। बुधवार को जहां अधिकतम तापमान 26.6 डिग्री सेल्सियस व न्यृनतम 11.9 डिग्री सेल्सियस था। गुरुवार को घटक्र 25.0 व 11.0 डिग्री सेल्सियस हो गया था। वहीं शुक्रवार को अधिकतम तापमान मामूली बढ़ाव के साथ 25.2 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम 12 डिग्री पर पहुंच गया था। वहीं बादल व धुंध के कारण काशी में प्रदूषण का स्तर भी बढ़ गया था।

तिथि            अधिकतम पारा    न्यूनतम पारा

तीन दिसंबर      25.2              12.0

दो दिसंबर        25.0              11.0

एक दिसंबर      26.6              11.9

20 नवंबर        26.5               10.8

29 नवंबर       27.4               10.6

28 नवंबर       27.0                10.8

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.