Good News : बीएचयू स्टेडियम में 1000 बेड का अस्थाई अस्पताल, डीआरडीओ को संचालन की जिम्मेदारी

एक हजार बेड का अस्थाई अस्पताल बीएचयू के स्टेडियम में बनने जा रहा है।

एक हजार बेड का अस्थाई अस्पताल बीएचयू के स्टेडियम में बनने जा रहा है। यह सभी मेडिकल सुविधाओं से युक्त होगा। जर्मन हैंगर से निर्मित यह अस्पताल अगले दो हफ्तों में डीआरडीओ द्वारा 24 घंटे कार्य करते हुए तैयार कर लिया जायेगा।

Abhishek SharmaMon, 19 Apr 2021 01:39 PM (IST)

वाराणसी, जेएनएन। कोरोना की विस्फोटक स्थिति को देखते हुए एक हजार बेड का अस्थाई अस्पताल बीएचयू के स्टेडियम में बनने जा रहा है। यह सभी मेडिकल सुविधाओं से युक्त होगा। जर्मन हैंगर से निर्मित यह अस्पताल अगले दो हफ्तों में डीआरडीओ द्वारा 24 घंटे कार्य करते हुए तैयार कर लिया जायेगा।

पीएम की वीसी के बाद सोमवार को एमएलसी एके शर्मा की अध्यक्षता में मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल, जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा, नगर आयुक्त गौरांग राठी सहित डीआरडीओ, बीएचयू, सीपीडब्ल्यूडी, विद्युत के अधिकारियों संग सर्किट हाउस सभाकक्ष में की गयी। इसमें एक हजार बेड विस्तार पर निर्णय लिया गया। अस्पताल के लिए विद्युत आपूर्ति, पानी तथा सीवर के कनेक्शन के लिए फील्ड विज़िट सम्बंधित अधिकारियों द्वार प्रारम्भ कर दिया गया है। डीआरडीओ के द्वारा फार्मेसी, आक्सीजन सप्लाई, मर्चरी आदि की भी व्यवस्था की जायेगी।

डाक्टर्स,मेडिकल स्टाफ व अन्य टेक्नीशियन की व्यवस्था में प्रशासन अभी से युद्ध स्तर पर जुट गया है। बीएचयू के डाक्टर्स और मेडिकल स्टाफ का डाटा भी इस अस्पताल के लिए तलब किया गया है। एक ही स्थान पर अधिक से अधिक मरीजों का इलाज सुगमता से किया जा सकेगा। वहीं जिले में कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ने के साथ लोगों के इलाज के लिए भी बेहतर और वैश्विवक सुविधा डीआरडीओ के सहयोग से मिल जाएगा। 

वाराणसी जैसे शहर में यह महानगरों की व्‍यवस्‍था को पहली बार अपनाया जा रहा है, दरअसल पूर्वांचल का एम्‍स कहे जाने वाले बीएचयू में इन दिनों कोरोना से जूझने के अलावा भी कई प्रकार की चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। मरीजों का दबाव और स्‍टाफ भी कोरोना पॉजिटिव होने की वजह से चिकित्‍सा सेवाओं में बाधा आ रही थी। अब पीएम की पहल पर बीएचयू में बनने वाले इस अस्‍थाई अस्‍पताल में लोगों के इलाज के लिए विश्‍व स्‍तर की सुविधाएंं डीआरडीओ के सहयोग से शुरू की जाएंगी।   

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.