दीपावली 2021 : चांदी के सिक्कोें में भी उकेरा आजादी का अमृत महोत्सव, वाराणसी के सराफा बाजार में मांग

बढ़ती महंगाई और महामारी से धुंधली हुई सोने-चांदी और हीरे की चमक को एक बार फिर से दीपोत्सव चमक देने की तैयारी में है। धनतेरस पर्व के लिए सराफा बाजार नए आभूषणों और नए डिजाइन के साथ तैयार है।

Saurabh ChakravartySat, 30 Oct 2021 07:30 AM (IST)
चांदी के सिक्कोें में भी उकेरा आजादी का अमृत महोत्सव

जागरण संवाददाता, वाराणसी। बढ़ती महंगाई और महामारी से धुंधली हुई सोने-चांदी और हीरे की चमक को एक बार फिर से दीपोत्सव चमक देने की तैयारी में है। धनतेरस पर्व के लिए सराफा बाजार नए आभूषणों और नए डिजाइन के साथ तैयार है। आजादी के 75 वें स्वाधीनता दिवस पर देश में अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। इसी तर्ज पर सराफा बाजार भी आजादी के अमृत महोत्सव पर विशेष तरह का सिक्का बनाया है। यह सिक्का दस और बीस ग्राम में उपलब्ध है। इस सिक्के की खूबसूरती ऐसी है कि ग्राहकों इसे देखते ही पसंद कर लेंगे। दस ग्राम चांदी के सिक्के की कीमत आठ सौ रुपये तो बीस ग्राम चांदी के सिक्के की कीमत 16 सौ रुपये है। इस सिक्के के ऊपर और नीचले सतह पर दल के पौधे का चित्र उकेरा गया है। जो सिक्के को खूबसूरत लूक दे रहा है। वहीं विक्टोरिया के राजा और रानी का नया सिक्का भी इस बार खूब ट्रेंड में है।

आम आदमी भी खरीद सकेगा सोने और हीरे का आभूषण

49 हजार रुपये प्रति दस ग्राम चल रहा है सोने का भाव। फिर भी आम आदमी को स्वर्ण आभूषण खरीदने में कोई इस बार कोई हिचकिचाहट नहीं होगी। कारण कि सराफा कारोबारियों ने इस बार हर वर्ग को ध्यान में रखते हुए हल्के वजन के आभूषण तैयार किए हैं। खास यह है कि इस बार बाजार में 18 कैरेट के सोने के जेवर उपलब्ध हैं। इससे लोगों को खुलकर खरीदारी करने में सहुलियत मिलेगी। इसका असर यह होगा कि कम दामों में भी वजनदार आभूषण की खरीदारी लोग कर सकेंगे। 18 कैरेट सोने के आभूषण में सोने के हार, नेकलेस, चेन सेट भी उपलब्ध हैं। कारोबारियों की मानें तो यह आभूषण 22 कैरेट के आभूषण की अपेक्षा मजबूत भी होते हैं।

दस हजार रूपये में भी मिल रही हीरे की अंगूठी

मध्यम वर्ग के लोगों के लिए इस बार सराफा कारोबारियों ने प्लेटिनम गोल्ड में हीरे की नग वाली अंगूठी, नोज पिन, कान के टप्स खास तौर पर मंगाए हैं। जो लोगों को बेहद पसंद आएंगे। बाजार में इस तरह के आभूषण खरीदारों की बजट के अनुसार उपलब्ध हैं।

नए डिजाइन और हल्के वजन से सुधरेंगे हालात

सराफा बाजार के जानकारों की मानें तो अभी तक लोग वजनी आभूषण खरीदते थे। लगातार सोने के भाव में वृद्धि होने से लोगों ने सोने में निवेश करना कम किया। तो इसका सीधा असर बाजार पर दिखाई पड़ा। इसका काट निकालते हुए आभूषण कारोबारियों ने नए डिजाइन और हल्के वजन वाले आभूषण बाजार में उतारे हैं। जिसका लाभ आगामी धनतेरस पर्व पर देखने को मिलेगा।

क्या कहते हैं कारोबारी

गत दो वर्षों से सराफा बाजार पर कोरोना का साया रहा। इस बार दीपावली पर बाजार बेहतर रहने की उम्मीद है। लग्न से लेकर सोने में निवेश करने वाले लोगों के लिए यह समय बेहतर है। ग्राहक दीपावली पर खरीदारी के इंतजार में हैं।

- गुंजन अग्रवाल

ग्राहकों के लिए इस बार हल्के वजन, एंटीक और कोयंबटूर के आभूषण सहित कई नए आइटम बाजार में दिखेंगे। बाजार में इस बार अच्छी बिक्री का अनुमान है। व्यापारियों ने भी नए स्टाक के साथ अच्छी तैयारी की है।

- शैलेश पटेल

भले ही सोने का भाव 49 हजार के आसपास है। फिर भी इस बार हम लोगों ने आम आदमी के बजट के अनुसार स्टाक मंगाया है। उम्मीद है लोग इस बार सोने में खूब निवेश करेंगे। ग्राहक भी दीपावली पर खरीदारी के इंतजार में हैं।

- संतोष अग्रवाल

देखा जाए तो कोरोना महामारी के दौर में एक बड़ा देखने को मिला है। लोग सोने को सुरक्षित निवेश मान रहे हैं। यही कारण है कि सोने की मांग में बहुत तेजी आई है। लग्न और निवेशक दोनों की खरीदारी से बाजार बूम पर पहुंच सकता है।

- अमित अग्रवाल

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.