वाराणसी में उप मुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा बोले - 'जनता ने जो सपना देखा योगी-मोदी उसे पूरा कर करे हैं'

डा. दिनेश शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विकास की अवधारणा पूरे देश में फैलाई है। वर्तमान में उत्तर प्रदेश पूंजी निवेश प्रदेश बन गया है। अगर उत्तर प्रदेश में सौ मोबाइल बिक रहा हैं तो इसमें रो 75 मोबाइल इसी प्रदेश के बने हुए।

Abhishek SharmaPublish:Sat, 27 Nov 2021 03:25 PM (IST) Updated:Sat, 27 Nov 2021 03:25 PM (IST)
वाराणसी में उप मुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा बोले - 'जनता ने जो सपना देखा योगी-मोदी उसे पूरा कर करे हैं'
वाराणसी में उप मुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा बोले - 'जनता ने जो सपना देखा योगी-मोदी उसे पूरा कर करे हैं'

वाराणसी, जागरण संवाददाता। उपमुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विकास की अवधारणा पूरे देश में फैलाई है। जनता ने जो सपना देखा योगी-मोदी उसे पूरा कर रहे हैं। वर्तमान में उत्तर प्रदेश पूंजी निवेश प्रदेश बन गया है। अगर उत्तर प्रदेश में सौ मोबाइल बिक रहा हैं तो इसमें रो 75 मोबाइल इसी प्रदेश के बने हुए। डिफेंस कॉरिडोर, पांच- पांच एक्सप्रेस वे, पांच शहरों में मेट्रो, 23 हवाई अड्डे से प्रदेश समृद्ध हुआ है। यहीं नहीं पूरे देश व प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाएं बेहतर हुई हैं। सूबे में 33 नए मेडिकल कालेज खुले हैं। सरकार ने हर जिले में एक मेडिकल कालेज खोलने का निर्णय लिया है।

वह शनिवार को बेसिक शिक्षा परिषद की ओर से यूपी कालेज के खेल मैदान में आयोजित दो दिवसीय मंडलीय खेलकूद प्रतियोगिता के समापन सत्र में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि निष्पक्षता व पारदर्शी तरीके से सूबे में डेढ़ लाख शिक्षकों की नियुक्तियां की गई हैं, वह भी योग्यता के आधार पर। संस्कृत विद्यालयों में भी शिक्षकों की कमी पूरी हुई है। महाविद्यालयों में 25 सालों से रिक्त चल रहे प्राचार्यों की नियुक्ति की गई। पहले राज्य नकल प्रदेश के रुप में जाना जाता था। अब सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में नकल विहीन परीक्षाएं हो रही हैं। नकल माफियाओं पर रासुका लगाकर कार्रवाई की जाती है।

दूसरी ओर ढाई माह तक चलने वाली परीक्षाओं को अब दस से 15 दिनों में खत्म कर लिया जा रहा है। शैक्षणिक गुणवत्ता में काफी सुधार हुआ है। इसके किए हाईस्कूल व इंटर में एनसीईआरटी के पाठ्यक्रम लागू किए गए हैं।

उन्होंने कहा कि हर विश्वविद्यालय में प्लेसमेंट सेल का गठन कराया गया है ताकि पढ़ने के बाद विद्यार्थियों को नौकरियों के लिए भटकना न पड़े। कहा कि प्लेसमेंट सेल से पढ़ते पढ़ते अब नौकरियां मिल रही हैं। कहा कि खेल से सामाजिक सद्भाव बढ़ता है। भाई-चारे की भावना विकसित होती है। जाति- धर्म से ऊपर उठकर विकास का मार्ग प्रशस्त होता है। कहा कि शैक्षणिक संस्थानों में गुटबाजी बर्दास्‍त नहीं की जाएगी। शिक्षकों से शैक्षणिक गुणवत्ता और बेहतर बनाने का आह्वान किया।

बच्चों ने कराया काशी दर्शन : समारोह से पूर्व उच्च प्राथमिक विद्यालय (चक्का-हरहुआ) व्लाक के बच्चों ने बम-बम बोल रहा काशी व शिव स्तुति की प्रस्तुति कर काशी दर्शन कराने का प्रयास किया। स्वागत राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रवींद्र जायसवाल व संचालन आशुतोष पांडेय ने किया I समारोह में उदय प्रताप शिक्षा समिति के अध्यक्ष न्यायमूर्ति एसके सिंह, संयुक्त शिक्षा निदेशक डा. प्रदीप कुमार, एडी बेसिक अवध किशोर सिंह, पूर्व एमएलसी चेतनारायण सिंह, डिग्री कालेज के प्राचार्य डा धर्मेंद्र कुमार सिंह, बीएसए राकेश सिंह, इंटर कालेज के प्रधानाचार्य डा रमेश प्रताप सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित थे I

निर्माण कार्य गुणवत्ता पर जताई नाराजी : डिप्टी सीएम ने महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ परिसर में 1.47 करोड़ से बने कर्मचारी ब्लाक का लोकार्पण भी किया। इस दौरान निर्माण कार्य की खराब गुणवत्ता देख उन्होंने नाराजगी भी जताई। कार्यदायी संस्था के इंजीनियर से उन्होंने इसे दुरुस्त कराकर वीडियो व फोटो भेजने का निर्देश दिया ।

खालसा कालेज में डिप्‍टी सीएम : डिप्‍टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि गुरुतेग बहादुर का एकता में योगदान है। उनका जीवन ही भारत देश है। सरदार का मतलब ही रक्षा करने है। कश्मीर पंडितों की रक्षा व हिंदुओं की कश्मीर में रक्षा के लिए कितने बलिदान हुए। निर्देश की पाठ्यक्रम में गुरुतेग बहादुर के बच्चों के बलिदान को पढ़ाया जाय। शब्दों में बलिदान का वर्णन नहीं किया जा सकता। शीश तो दिया, धर्म नहीं बदला। भारतीय संस्कृति व धर्म को नहीं बदला। उनके धर्म ग्रन्थ देखें तो उनका बलिदान स्पष्ट झलकता है। शिक्षा में परिवर्तन हुआ है। नकल विहीन परीक्षा हुई है। 250 विद्यालय और 77 डिग्री कालेज बनाये हैं। लक्ष्‍य होना चाहिए कि शिक्षा के साथ ही रोजगार भी मिले। उत्तर प्रदेश से पलायन रुका है। यही सरकार का लक्ष्य है। यह प्रदेश प्रतिभाओं के आगमन का प्रदेश बने पलायन का प्रदेश न बने। खालसा पंथ में सेवा की भावना महत्व पूर्ण है। हमारा देश-प्रदेश तरक्की करे, मोदीजी ने काशी को बदल दिया।