काशी में उठी दुष्कर्मी को फांसी देने की मांग, स्कूल प्रबंधन के खिलाफ उतरे सामाजिक संगठन

स्कूल में दरिंदगी की शिकार नौ वर्षीय बच्ची को न्याय दिलाने के लिए राजनैतिक दल और संस्थाएं आगे आने लगी है। रविवार को भी इस जघन्य घटना को लेकर काशी वासियों में रोष दिखा। एबीवीपी काशी महानगर एवं जिले के कार्यकर्ताओं ने विद्यालय के मुख्य द्वार पर प्रदर्शन किया गया।

Abhishek SharmaSun, 28 Nov 2021 06:22 PM (IST)
रविवार को भी इस जघन्य घटना को लेकर काशी वासियों में रोष दिखा।

वाराणसी, जागरण संवाददाता। लहरतारा स्थित एक कॉन्वेंट स्कूल में दरिंदगी की शिकार नौ वर्षीय बच्ची को न्याय दिलाने के लिए राजनैतिक दल और संस्थाएं आगे आने लगी है। रविवार को भी इस जघन्य घटना को लेकर काशी वासियों में रोष दिखा। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद काशी महानगर एवं जिले के कार्यकर्ताओं ने विद्यालय के मुख्य द्वार पर प्रदर्शन किया गया। और पुलिस प्रशासन को चेतावनी देते हुये कहा कि बच्ची के साथ न्याय हो एवं आरोपी को फांसी हो और विद्यालय के मालिक पर भी कठोर कार्यवाही करने की मांग की गई। इस प्रदर्शन मे काशी महानगर संगठन मंत्री प्रकाश, काशी महानगर अध्यक्ष उर्जस्विता सिंह,प्रदेश सह मंत्री शुभम कुमार सेठ, महानगर मंत्री राजन गुप्ता, विभाग संयोजक शिवम शाह, विनय पांडेय, काशी जिला संगठन मंत्री सौरभेन्द्र, महानगर सहमंत्री पायल राय, महानगर उपाध्यक्ष प्रभात रंजन उपाध्याय, विश्वविद्यालय विस्तारक सागर, अश्वनी सिंह, अंकिता तिवारी, प्रिन्स जी एवं महानगर के सभी कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

बच्चों ने लगाई सुरक्षा की गुहार : कक्षा तीन की छात्रा से दुष्कर्म की घटना से आहत महिला और बच्चो की संस्था दीक्षा महिला शोध संस्थान ने शासन - प्रशासन से सुरक्षा की गुहार लगाई। संस्था की संतोषी शुक्ला ने कहा कि एक तरफ पूरा देश राष्ट्रीय संविधान दिवस मना रहा था। वहीं दूसरी तरफ एक ही दिन में हमारी बेटियों के साथ ऐसी घटनाएं हुई। कहा कि हम सब संकल्प ले कि देश मे हो रहे अत्याचार को हम सब मिलकर विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से रोकने का प्रयास करेंगे। और सरकार द्वारा ऐसी व्यस्था होनी चाहिए अपराधी के लिए की न तो कोई एफआईआर न कोई मुकदमा सीधे जो अपराधी है उसका बीच चौराहे पर हाथ पैर काट दिया जाये जिससे आगे ये घटना के नाम से ही लोगो के अंदर डर पैदा हो।

आम आदमी पार्टी ने किया प्रदर्शन : बच्ची से दरिंदगी की घटना के खिलाफ़ आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओ ने रविवार को जिला मुख्यालय पर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान मांग की कि स्कूल प्रबंधन पर कठोर कार्रवाई करते हुए स्कूल की मान्यता रद्द की जाए और प्रबंधन पर भी मुकदमा दर्ज किया जाए। मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में करते हुए छह माह के अंदर दोषी को सजा दिलाई जाए। प्रदेश सचिव कृष्ण कांत तिवारी व जिलाध्यक्ष कैलाश पटेल, घनश्याम पांडेय ने कहा कि स्कूल प्रबंधन पर भी कार्रवाई की जाए। नेताओं ने राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन डीएम को सौंपा।

स्कूल प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई की मांग : स्कूल प्रबंधन पर कार्रवाई की मांग को लेकर काशी गुजराती समाज ने आंदोलन की चेतावनी दी है। रविवार को बैठक करते हुए समाज के अध्यक्ष अनिल शास्त्री ने कहा कि यह घटना काशी को शर्मसार करने वाली है। यह बड़ी घटना स्कूल प्रबंधन की लापरवाही से घटित हुई है। यदि स्कूल प्रबंधन पर कार्रवाई नहीं हुई तो समाज चुप नहीं बैठेगा। इस दौरान विवेक पारिख, दिनेश बजाज, राजकुमार दास, रोशन गुजराती, विशाल पारिख, अश्विन पारिख, सुनीता गुजराती ने भी विचार व्यक्त किया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.