Cricketer Shikhar Dhawan को वाराणसी में नाव से सैर कराना भारी पड़ा, नाविक का कटा चालान

क्रिकेटर शिखर धवन काशी दौरे पर गत दिनों आये थे और नौैकविहार के वक्‍त पक्षियों को दाना खिलाते दिखे।

भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन कुछ दिन पूर्व काशी दौरे पर आये थे। उस दौरान नाव से पक्षियों को दाना खिलाते नजर आये थे। वाराणसी में बर्डफ्लू के चलते पक्षियों को कुछ भी खिलाने पर पूर्ण प्रतिबंध लगा है। इस कारण नाविक का चालाना काटा गया है।

Publish Date:Sun, 24 Jan 2021 08:04 PM (IST) Author: Saurabh Chakravarty

वाराणसी, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन कुछ दिन पूर्व काशी दौरे पर आए थे। बाबा विश्वनाथ व बाबा कालभैरव दर्शन के बाद गंगा में सुबह सैर करने को निकले थे। उस दौरान नाव से पक्षियों को दाना खिलाते नजर आए थे। बर्ड फ्लू के चलते पक्षियों को कुछ भी खिलाने पर पूर्ण प्रतिबंध लगा है। नियम तोडऩे के कारण दशाश्वमेध पुलिस ने नाविक प्रदीप साहनी और चालक सोनू का चालान काटा। धारा 188 के तहत चालान किया है। वहीं नाव को तीन दिन के लिए गंगा में चलाने से प्रतिबंधित किया गया है। पुलिस का कहना है कि शिखर धवन यहां के लिए अतिथि थे, लेकिन नाविक को इस बात का संज्ञान था कि पक्षियों को दाना खिलाने पर प्रतिबंध है।

शिखर धवन इस बार बनारस में अपनी तस्वीर से चर्चा में रहा। जी हां, मामला ही कुछ ऐसा है कि शिखर धवन वाराणसी जिला प्रशासन की नजरों में चढ़ गए। बीते दिनों बनारस में उनकी चर्चित यात्रा में प्रवासी परिंदों को दाना चुगाने की तस्वीर वायरल होने के बाद जिला प्रशासन कार्रवाई की तैयारी में है। बनारस यात्रा के दौरान नाव पर सवार होकर प्रवासी पक्षियों को शिखर धवन ने दाना खिलाया था। बनारस में बर्ड फ्लू के खतरों को देखते हुए दाना खिलाने पर पहले ही प्रतिबंध लगाया था। मगर शनिवार को धवन की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल होते ही जिला प्रशासन ने संज्ञान में ले लिया है।  जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने नाव संचालक पर कार्रवाई करने की तैयारी की है। शिखर धवन एक पर्यटक के रूप में बनारस आए थे और उनको यह बात नहीं पता नहीं रही होगी कि बनारस में प्रवासी पक्षियों को दाना खिलाने पर प्रतिबंध लगाया गया है।

दरसल बीते दिनों शिखर धवन ऑस्ट्रेलिया में क्रिकेट टीम की धमाकेदार जीत के बाद बनारस में काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन करने पहुंचे और ओमकारा गीत पर गंगा घाट के किनारे उनका वीडियो खूब चर्चा में रहा। इसके बाद अगले दिन वह गंगा में नौका विहार करने निकले तो साइबेरिया से आने वाले प्रवासी पक्षियों को दाना खिलाते तस्वीर उनकी प्रोफाइल से पोस्ट होने के बाद वायरल हो गई। जबकि वाराणसी जिला प्रशासन ने बर्ड फ्लू के खतरों की वजह से इन परिंदों को दाना खिलाने से रोक लगा रखी है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.