Corona Infection in Varanasi: 4461 की जांच में केवल तीन पाजिटिव, तीन गुना हुए ठीक

बीएचयू व मंडलीय हास्पिटल की लैब से रविवार को मिले 4461 सैंपलों के परिणाम में तीन पाजिटिव मिले। नए मरीजों को होम आइसोलेशन का निर्देश देते हुए कमांड सेंटर से उनके स्वास्थ्य की निगरानी की जा रही है। 81477 स्वस्थ भी हो चुके और 773 की मौत हो चुकी है।

Saurabh ChakravartyMon, 12 Jul 2021 07:30 AM (IST)
बीएचयू व मंडलीय हास्पिटल की लैब से रविवार को मिले 4461 सैंपलों के परिणाम में तीन पाजिटिव मिले।

जागरण संवाददाता, वाराणसी। बीएचयू व मंडलीय हास्पिटल की लैब से रविवार को मिले 4461 सैंपलों के परिणाम में तीन पाजिटिव मिले। नए मरीजों को होम आइसोलेशन का निर्देश देते हुए कमांड सेंटर से उनके स्वास्थ्य की निगरानी की जा रही है। होम आइसोलेशन के नौ मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आने पर उन्हेंं स्वस्थ घोषित कर दिया गया। जिले में अब तक 82313 पाजिटिव केस मिले हैं, जिनमें से 81477 स्वस्थ भी हो चुके हैं और 773 की मौत हो चुकी है। वर्तमान में सक्रिय मरीजों की संख्या 63 है। वहीं लैबों में 2128 सैंपल पेंडिंग हैं, जिनके परिणाम का इंतजार है।

376 बच्चों की जांच में सभी निगेटिव

घर-घर जाकर बच्चों की कोरोना जांच के क्रम में रविवार को 376 सैंपलों के परिणाम आए, जिनमें सभी की रिपोर्ट निगेटिव रही। इनमें जन्म से पांच वर्ष के 66, छह से 12 वर्ष के 112 व 13 से 18 वर्ष के 198 बच्चे शामिल थे। अब तक 27500 बच्चों की जांच में 44 की रिपोर्ट पाजिटिव मिल चुकी है। एसीएमओ डा. एसएस कनौजिया के मुताबिक सभी बच्चे होम आइसोलेशन में हैं। रैपिड रिस्पांस टीम उनकी लगातार निगरानी कर रही है।

जिले में टीकाकरण की रफ्तार अपेक्षानुरूप नहीं

जनपद में टीकाकरण की शुरुआत तो वैसे 16 जनवरी को हुई, लेकिन सामान्य लोगों को एक अप्रैल से प्रतिरक्षित किया जा रहा है। इन 177 दिनों में कुल 975223 लाभार्थियों को काेरोना टीका लगाया गया। बनारस की आबादी 4154201 है। यानी कुल आबादी में से 23.47 फीसद लोगों ने ही अब तक कोरोना टीका लगवाया। इनमें पुरुषों की भागीदारी 59.32 तो महिलाओं की 40.67 फीसद है।टीकाकरण अभियान को लेकर जिला प्रशासन के साथ ही स्वास्थ्य विभाग की टीम जी-जान से जुटी है और जन-सामान्य को लगातार टीका लगवाने के लिए प्रेरित भी किया जा रहा है। पहली जुलाई से वृहद टीकाकरण अभियान चलाकर रोजाना करीब 52 हजार लोगों को प्रतिरक्षित करने का लक्ष्य रखा गया था, लेकिन वैक्सीन की कम उपलब्धता के चलते फिलहाल इसे स्थगित रखा गया है। हर दो-एक दिन पर लखनऊ से वैक्सीन उपलब्ध कराई जा रही है, जिनके आधार पर अगले दिन के टीकाकरण सत्रों का निर्धारण किया जा रहा है। यही कारण है कि जिले में टीकाकरण की रफ्तार अपेक्षानुरूप नहीं है। 975223 लाभार्थियों ने कोरोना टीका लगवाया।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.