दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वाराणसी में आज डीआरडीओ के अस्पताल का करेंगे निरीक्षण, गाजीपुर, चंदौली समेत अन्य जिले के अफसर जुड़ेंगे ऑनलाइन

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को दोपहर लगभग डेढ़ बजे के करीब वाराणसी आ रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को दोपहर लगभग डेढ़ बजे के करीब वाराणसी आ रहे हैं। सीएम बीएचयू के एंफीथिएटर मैदान में डीआरडीओ द्वारा बनाए जा रहे 750 बेड के अस्थायी कोविड अस्पताल का निरीक्षण करेंगे। समीक्षा बैठक के बाद मुख्यमंत्री साढ़े चार बजे यहां से प्रस्थान करेंगे।

Saurabh ChakravartySun, 09 May 2021 07:50 AM (IST)

वाराणसी, जेएनएन। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को दोपहर लगभग डेढ़ बजे के करीब वाराणसी आ रहे हैं। सीएम बीएचयू के एंफीथिएटर मैदान में डीआरडीओ द्वारा बनाए जा रहे 750 बेड के अस्थायी कोविड अस्पताल का निरीक्षण करेंगे। अधिकारियों का कहना है कि रविवार को यह भी तय हो जाएगा कि यह अस्पताल कब से शुरू होगा।

वैसे उम्मीद जताई जा रही है कि सोमवार या मंगलवार से अस्पताल कार्य करने लगेगा। मुख्यमंत्री अस्थाई अस्पताल के निरीक्षण के बाद कोविड संक्रमण की स्थिति जानने के लिए अधिकारियों के साथ बीएचयू सभागार में समीक्षा बैठक करेंगे। वाराणसी मंडल की समीक्षा बैठक में जिले के अधिकारी व जनप्रतिनिधि भाग लेंगे। इसके अलावा मंडल के अन्य जिले गाजीपुर, चंदौली, व जौनपुर के अधिकारी आनलाइन जुड़ेंगे। समीक्षा बैठक के बाद मुख्यमंत्री साढ़े चार बजे यहां से प्रस्थान करेंगे।

अस्थायी कोविड अस्पताल का नामकरण पं. राजन मिश्र के नाम करने को संगीतकारों ने सराहा

बीएचयू के एंफीथियेटर मैदान में डीआरडीओ की ओर से बनाया जा रहा अस्थायी कोविड अस्पताल ख्यात शास्त्रीय गायक पद्मभूषण पं. राजन मिश्र को समर्पित करने पर कलाकारों ने सराहा है। बनारस के संगीतकारों व विशिष्ट विभूतियों ने शासन के इस कदम के प्रति साधुवाद व्यक्त करते हुए इसे पद्मभूषण पं. राजन मिश्र जी के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि बताया है ।उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी के अध्यक्ष पद्मश्री डॉ. राजेश्वर आचार्य ने कहा कि काशी के विश्व विश्रुत महान गायक पद्मभूषण पं राजन मिश्र की यशकाया को सद्कार्यों द्वारा श्रद्धांजलि देना प्रशासन और हम सबका कर्तव्य है। लोकगायिका पद्मश्री मालिनी अवस्थी ने पं राजन मिश्र जी के नाम पर कोविड चिकित्सालय के नामकरण को एक सार्थक कदम बताते हुए इसे पं राजन मिश्र के प्रति श्रद्धांजलि बताया।

ख्यात चिकित्सक एवं लखनऊ स्थित किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय की पूर्व कुलपति पद्मश्री प्रो सरोज चूड़ामणि गोपाल ने कहा कि पं राजन को कोरोना ने ही हमसे सदा के लिए छीन लिया इसीलिए कोविड के रोगियों के लिए बने अस्थायी चिकित्सालय का नामकरण पं जी के नाम पर करना पं राजन मिश्र जी के प्रति वास्तविक श्रद्धांजलि होगी। पद्मश्री सोमा घोष ने कहा कि सर्वसमाज के लोग पं राजन मिश्र के गायन को सुनकर अपनी चिंता पीड़ा को भूल जाते थे ऐसे महान गायक कलाकार के नाम पर चिकित्सालय का नामकरण उनके प्रति हम सबकी श्रद्धा का प्रतीक होगा। पद्मश्री श्री रजनीकांत ने कहा कि पं राजन मिश्र जी के नाम पर चिकित्सालय का नामकरण काशी की जनता को कोविड महामारी से लड़ने में शारीरिक के साथ साथ मानसिक मजबूती भी देगा ,और यह शासन का बहुत ही सराहनीय कदम है। आश्रय सेवा संस्था के सचिव डॉ वीरेंद्र प्रताप सिंह, सुबह ए बनारस के सचिव डॉ रत्नेश वर्मा व उपाध्यक्ष पं प्रमोद मिश्र ने भी इसे सराहनीय कदम बताया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.