वाराणसी में चौरी-चौरा शताब्दी महोत्सव चार फरवरी से, जनसहभागिता के लिए किया जाएगा गीत प्रतियोगिता का आयोजन

चौरी-चौरा शताब्दी महोत्सव आगामी चार फरवरी, 21 से प्रारंभ होगा।

चौरी-चौरा शताब्दी महोत्सव आगामी चार फरवरी 21 से प्रारंभ होगा। पूरे वर्ष यानी चार फरवरी 2022 तक चलेगा। शासन ने इस अवसर पर शहीद स्मारक पर्यटन स्थल पर सप्ताह में एक दिन रामधुन की पुलिस बैंड से प्रस्तुति की बात कही गई है।

Publish Date:Wed, 27 Jan 2021 06:10 AM (IST) Author: Saurabh Chakravarty

वाराणसी, जेएनएन। चौरी-चौरा शताब्दी महोत्सव आगामी चार फरवरी, 21 से प्रारंभ होगा। पूरे वर्ष यानी चार फरवरी 2022 तक चलेगा। शासन ने इस अवसर पर शहीद स्मारक, पर्यटन स्थल पर सप्ताह में एक दिन रामधुन की पुलिस बैंड से प्रस्तुति की बात कही गई है।
शासन ने इस आयोजन में व्यापक जन सहभागिता के लिए जनपद स्तर पर चौरी-चौरा गीत प्रतियोगिता का निर्णय लिया है। वाराणसी जनपद में यह प्रतियोगिता 27 जनवरी को आयोजित होगी। गीत के माध्यम से शहीदों के बलिदान की गौरवगाथा को प्रस्तुत करने के संग देश सेवा एवं रक्षा का संकल्प भी सभी प्रदेशवासियों के मानस तक पहुंचाना है। विजेता का चयन संगीत नाटक अकादमी, लखनऊ द्वारा गठित समिति द्वारा 28 जनवरी को किया जाएगा। प्रथम पुरस्कार के रूप में विजेता को 51,000 रुपये का पुरस्कार संस्कृति विभाग की ओर से प्रदान किया जायेगा।
मेल करना होगा संगीत
क्षेत्रीय सांस्कृतिक केंद्र प्रमुख यशवंत सिंह राठौर ने बताया कि महोत्सव में प्रतिभाग के लिए प्रतिभागियों को अपनी थीम संगीत की रिकाॄडग आरसीसीवीएनएसञ्चजीमेल.काम पर 27 जनवरी को सुबह 11 बजे तक मेल पर भेजना होगा। प्रदेश स्तर पर आयोजित प्रतियोगिता में सभी जिलों से प्राप्त विजेताओं की सूची में से उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी लखनऊ द्वारा गठित समिति 28 जनवरी को प्रदेश के विजेता का चयन करेगी। संस्कृति विभाग की ओर से 51 हजार रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.