Blood Donation Camp in Varanasi : आइए करें रक्तदान, बीएचयू में लगा कैंप, एनएसएस स्वयंसेवक कर रहे हैं यह महादान

काशी हिंदू विश्वविद्यालय राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्वावधान में आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के तहत चल रहे सात दिवसीय विशेष शिविर के छठवें दिन गुरुवार को परिसर में रक्तदान कैंप का आयोजन किया जा रहा है। एनएसएस स्वयंसेवक बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं और रक्तदान कर रहे हैं।

Saurabh ChakravartyThu, 16 Sep 2021 01:52 PM (IST)
छठवें दिन गुरुवार को परिसर में रक्तदान कैंप का आयोजन किया जा रहा है।

जागरण संवाददाता, वाराणसी। काशी हिंदू विश्वविद्यालय राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्वावधान में आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के तहत चल रहे सात दिवसीय विशेष शिविर के छठवें दिन गुरुवार को परिसर में रक्तदान कैंप का आयोजन किया जा रहा है। इसमें एनएसएस स्वयंसेवक बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं और रक्तदान कर रहे हैं। ऐसे में आप भी इस कैंप में आकर इस महादान के भागीदार बन सकते हैं। यह अपील कार्यक्रम समन्वयक डा. बाला लखेंद्र, कार्यक्रम अधिकारी डा. कनुप्रिया सिंह के साथ ही सर सुंदरलाल अस्पताल स्थित ब्लड बैंक के प्रभारी डा. सदीप कुमा कर रहे हैं।

इनका कहना है कि कोई भी व्यक्ति जब एक यूनिट रक्तदान करता है तो वह चार लोगों की जिंदगी बचाने में सहायक बनता है। कारण कि एक यूनिट खून से चार कंपोंनेंट बनते हैं।

इससे पहले मानव सेवा ही धर्म है को चरितार्थ करते हुए स्व. खेमचंद मोटवानी के परिवार ने पिछले दिनों शहर के बादशाह बाग कालोनी में पगड़ी रश्म की अदायगी पर सिंधी समाज में पहली बार यह कार्य किया गया है। केआरके संरक्षक प्रदीप इसरानी तथा रोटरी ब्लड डोनेशन चेयरमैन राजेश गुप्ता ने आइएमएस बीएचयू के ब्लड बैंक इंचार्ज डा. संदीप सिंह, आशुतोष सिंह के सहयोग से मात्र 18 घंटे की पूर्व सूचना पर रक्तदान शिविर लगाया। सिंधी समाज हमेशा नए और अच्छे परम्परा का सुरुवात करता चला आ रहा है। आज के कैम्प में कुल 47 लोगों ने अपना मेडिकल जांच कराया, जिसमे 25 लोगो को मेडिकल फिट के आधार पर रक्त लिया गया। बाकी लोग मेडिकल अनफिट घोषित हो गए।

वहीं इससे पहले स्वयंसेवकों ने आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के तहत स्वच्छता रैली निकालकर पर्यावरण संरक्षण का भी संदेश दिया था। स्वच्छ भारत, पर्यावरण संरक्षण, जल संरक्षण और वृक्षारोपण जैसे विविध पक्षों पर पोस्टर निर्माण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें रितु शर्मा, स्मृति पाठक और कनक मौर्या को प्रथम स्थान प्रदान किया गया। द्वितीय स्थान पर श्वेता यादव, कुमारी प्रियांशु, नमिता मौर्य और ज्योति को सम्मानित किया गया। तीसरे स्थान पर श्वेता सिंह, अमन दुबे, अंशु राज व सीमा कनौजिया को सम्मानित किया गया। डा. बाला लखेंद्र ने बताया कि शिविर में स्वच्छता अभियान और नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत सात दिवसीय शिविर का शुभारंभ काशी हिंदू विश्वविद्यालय राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्वावधान में किया गया। शिविर का उद्घाटन काशी हिंदू विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर विजय कुमार शुक्ला ने किया ।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.