मीरजापुर से भाजपा का 2022 के लिए चुनावी शंखनाद, गृहमंत्री ने जनता से मांगा आशीर्वाद

मंच पर अपना दल के साथ ही पार्टी पदाधिकारियों की मौजूदगी में शिलान्‍यास और लोका‍र्पण के बीच गृहमंत्री ने 2022 विधानसभा चुनाव के लिए जनता से आशीर्वाद मांग कर आयोजन में पार्टी की ओर से तैयारियों और इरादों की झलक को दिखा दिया।

Abhishek SharmaSun, 01 Aug 2021 05:10 PM (IST)
जनता से आशीर्वाद मांग कर आयोजन में पार्टी की ओर से तैयारियों और इरादों की झलक को दिखा दिया।

मीरजापुर, इंटरनेट डेस्‍क। मीरजापुर में गृहमंत्री अमित शाह और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ की जनसभा ने पार्टी की ओर से 2022 की चुनावी तैयारियों की झांंकी मंच से पेश कर दी। मंच पर अपना दल के साथ ही पार्टी पदाधिकारियों की मौजूदगी में शिलान्‍यास और लोका‍र्पण के बीच गृहमंत्री ने 2022 विधानसभा चुनाव के लिए जनता से आशीर्वाद मांग कर आयोजन में पार्टी की ओर से तैयारियों और इरादों की झलक को दिखा दिया। मंच पर अपना दल की सांसद अनुप्रिया पटेल को स्‍थान देकर भाजपा की ओर से सहयोगियों को साथ लेकर चलने की अपनी प्रतिबद्धता को भी दोहराया गया।

गृहमंत्री अमित शाह जब मंच पर पहुंचे तो जनता का उत्‍साह चरम पर नजर आया। गृह मंत्री अमित शाह ने प्रदेश में राज्‍य और केंद्र सरकार की प्राथमिकता वाली योजनाओं की जानकारी दी। इस दौरान विपक्षी दलों क्रमश: सपा और बसपा पर भी चोट किया और अखिलेश और मायावती पर भी उन्‍होंने विकास को लेकर कटाक्ष किया। क्षेत्र के नक्‍सलवाद की समाप्ति, अपराधियों की संपत्ति सहित कानून व्‍यवस्‍था की उपलब्धियों का भी उन्‍होंने बखान किया। किसीन और गरीब लोगों के हितों की योजनाओं को भी उन्‍होंने विस्‍तार से बताया। बोले आपके आशीर्वाद से ही भाजपा को काम करने की ताकत मिलती है। देश के 135 करोड़ की जनता और 80 करोड जनता और बालिकाओं और बच्‍चों का हित होता है। आपने भाजपा को मौका दिया, 2022 में भी भाजपा को आपका आशीर्वाद मिलेगा। विंध्‍यवासिनी धाम के लिए यूपी सरकार का आभारी हूं।

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने भी मंच से आयोजन के मकसद को स्‍पष्‍ट किया। विकास और मेगा परियोजनाओं के पूरा होने का खाका खींचकर उन्‍होंने विकास के प्रति अपनी वचनबद्धता दोहराई। मुख्यमंत्री ने कहा कि मां विंध्यवासिनी से प्रार्थना करें कि पीएम व गृहमंत्री को इतनी शक्ति दे कि वह देश की तमाम समस्याओं का समाधान करते रहें। राजनीतिक स्वार्थों से पिछली सरकारों ने देश पर थोपा है उसका समाधान किया जा रहा है। प्रदेश धर्म, अर्थ, काम व मोक्ष के साथ भाजपा सरकार ने विजन के साथ सभी कार्य पूरे होते दिखाई दे रहे हैं। पांच अगस्त को पीएम द्वारा एक करोड़ लोगों को अन्न वितरण होगा। पांच अगस्त की तिथि इतिहास स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाएगा। इसी दिन सर्जिकल स्ट्राइक किया गया था। जब नेतृत्व कमजोर होता है तो स्वार्थ होता है। प्रधानमंत्री की कृपा से मेडिकल कालेज बन चुका है। यह शिक्षा का केन्द्र बनेगा। पर्यटन का केंद्र होने के साथ ही आस्था का केंद्र बनाने का काम शुरू किया है। पीएम ने काशी को नए कलेवर में साकार किया है। चित्रकूट और नैमिषारण्य भी आगे आया है। अष्टभुजा व कालीखोह में रोप वे चालू हो जाएगा। मां विंध्यवासिनी की शक्ति से पर्यटन की अपार सुविधाएं होंगी। रोजगार बढ़ेंगे। ग्रामीणा क्षेत्रों में पेयजल के लिए मीरजापुर सोनभद्र व बुंदेलखंड में हर घर नल की सुविधा हो जाएगी। इस दौरान विंध्य कॉरिडोर की परिकल्पना को स्पीकर से सभी को सुनाया गया।

वहीं मंच पर अन्‍य मंत्रियों का भी संबोधन हुआ। मंच पर सीएम और गृहमंत्री के आते ही हर हर महादेव का उद्घोष गूंज उठा। इसके बाद विंध्य कॉरिडोर का मॉडल सीएम ने गृहमंत्री अमित शाह को भेंट किया। इसके बाद भाजपा नेताओं और मंत्रियों का स्वागत किया गया। इसके बाद मंच से संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी स्वागत में बोले कि - आज गौरव का पुनीत दिवस पर हमें सौभाग्य है, संकल्प पत्र को ध्येय बनाकर मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री व गृहमंत्री के मार्गदर्शन में पूरा कर रहे हैं।आस्था के केंद्रों को विकसित किया जा रहा है। रामराज्य की परिकल्पना के साथ अयोध्या का भी विकास किया जा रहा है। इसके बाद सांसद व केंद्रीय राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने सभा को संबोधित किया। कहा कि गृहमंत्री ने 370 खत्म करके भारत का इतिहास व भूगोल भी बदल दिया है। देश की सीमाएं अब पहले से अधिक सुरक्षित हो गई हैं। मुख्यमंत्री ने कई बार विंध्य कॉरिडोर प्रोजेक्ट की समीक्षा कर इसे आगे बढ़ाया है। कोरोना महामारी में भी जिले के विकास को विराम नहीं लगा है। विंध्य पर्वत माला के बीच विंध्य कॉरिडोर का विकास किया जाएगा। सभी सड़कों का चौड़ीकरण किया जाएगा ताकि दर्शानार्थियों को कोई असुविधा न होने पाए। रोप वे का भी लोकार्पण होने से अब श्रद्धालुओं को काफी सुविधा होगी। पिछड़ा वर्ग के छात्रों को नीट परीक्षा में 27 फीसद आरक्षण देकर सरकार ने बड़ा काम किया है। इस दौरान विंध्य विश्वविद्यालय की स्थापना की अनुप्रिया पटेल ने मुख्यमंत्री से मांग उठाई।

यह भी पढ़ें : Amit Shah in Mirzapur LIVE : मीरजापुर में गृहमंत्री और मुख्‍यमंत्री ने विंध्‍य कारीडोर का शिलान्‍यास किया

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.