Ayushman Card : वाराणसी में आपके द्वार आयुष्मान 2.0 की शुरूआत, 30 सितंबर तक चलेगा विशेष अभियान

किन्ही कारणों से आयुष्मान कार्ड बनवाने से वंचित लोगों के लिए अच्छी खबर है। जनपद में ऐसे 44004 लोग हैं जिनका कार्ड बनवाने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार से “आपके द्वार आयुष्मान 2.0” अभियान शुरू किया है। आच्छादित हर पात्र लाभार्थी का सत्यापन करते हुये उनका कार्ड बनाया जाएगा।

Saurabh ChakravartyThu, 16 Sep 2021 04:01 PM (IST)
आयुष्मान कार्ड बनवाने से वंचित लोगों के लिए अच्छी खबर है।

जागरण संवाददाता, वाराणसी। किन्ही कारणों से आयुष्मान कार्ड बनवाने से वंचित लोगों के लिए अच्छी खबर है। जनपद में ऐसे 44004 लोग हैं, जिनका कार्ड बनवाने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार से “आपके द्वार आयुष्मान 2.0” अभियान शुरू किया है। 30 सितंबर तक चलने वाले इस अभियान में आयुष्मान भारत - प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना एवं मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान से आच्छादित हर पात्र लाभार्थी का सत्यापन करते हुये उनका आयुष्मान कार्ड (गोल्डन कार्ड) बनाया जाएगा।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. वीबी सिंह ने बताया कि योजना के तहत जनपद में अभी तक करीब 2.89 लाख आयुष्मान कार्ड बन चुके हैं तथा 66059 लाभार्थी योजना के तहत निःशुल्क इलाज का लाभ ले चुके हैं। इसमें सरकारी अस्पतालों में 15983 व निजी अस्पतालों में 50076 शामिल हैं। खास बात यह है कि वाराणसी में योजना के तहत 90 फीसदी लाभार्थी परिवारों को कवर किया जा चुका है। जिले में 1,14,419 लाभार्थी परिवारों में से 1,03,282 परिवारों के गोल्डन बनाए जा चुके हैं। इस योजना से जिले के 159 चिकित्सालय सूचीबद्ध हैं इसमें से 136 निजी व 23 सरकारी चिकित्सालय शामिल हैं। उन्होने कहा कि योजना के चिन्हित लाभार्थी अपना आयुष्मान कार्ड सूचीबद्ध सरकारी व निजी अस्पतालों, ग्रामीण प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (दुर्गाकुंड, शिवपुर व चौकाघाट), जन सेवा केन्द्रों पर निःशुल्क बनवा सकते हैं। डा. वीबी सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण भारत सरकार द्वारा योजना से आच्छादित शत प्रतिशत लाभार्थी परिवारों को आयुष्मान कार्ड उपलब्ध करने का लक्ष्य निर्धारित करते हुए “आपके द्वार आयुष्मान 2.0” अभियान चलाया जायेगा। यह अभियान 16 से 30 सितंबर के बीच चलेगा। “आपके द्वार आयुष्मान 2.0” अभियान को सफल बनाने के लिए वृहद रूप से प्रचार-प्रसार किया जायेगा। इस दौरान विशेष बल दिया जायेगा कि लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए किसी प्रकार का शुल्क नहीं देना है। प्रत्येक लाभार्थी को आयुष्मान कार्ड निश्शुल्क उपलब्ध कराया जायेगा। इसके अलावा अभियान को सफल बनाने के लिए जन प्रतिनिधियों से सहयोग की अपील भी की गयी है। माइकिंग के द्वारा अभियान का प्रचार–प्रसार किया जायेगा। साथ ही लाभार्थियों को कैम्प की तिथि के बारे में भी सूचित किया जायेगा। अभियान के दौरान ऐसे गांव/वार्ड को फोकस किया जायेगा, जिनमें आयुष्मान कार्ड विहीन लाभार्थियों की संख्या अधिक है। वहाँ पर लक्षित परिवारों की सूची ग्राम सभा/वार्ड के नोटिस बोर्ड पर चस्पा की जायेगी जिससे लाभार्थियों को असुविधा न हो।

अभियान प्रारम्भ होने से पूर्व ब्लॉक/पंचायत/वार्ड स्तर पर बैठकें आयोजित की गई थीं। साथ ही अभियान से जुड़े सभी क्षेत्रीय स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को आयुष्मान कार्ड कैम्प की तिथि व स्थान से अवगत कराया गया। चिन्हित लाभार्थी परिवार के अधिक से अधिक सदस्यों का आयुष्मान कार्ड बनाने का प्रयास किया जायेगा। कैम्प का आयोजन कॉमन सर्विस सेंटर के वीएलई के द्वारा सार्वजनिक स्थान जैसे पंचायत भवन, हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर, आंगनबाड़ी केंद्र तथा प्राथमिक विद्यालय पर किया जायेगा। लक्षित लाभार्थी परिवारों की सूची कैम्प स्थल पर भी चस्पा की जायेगी। जिला कार्यक्रम समन्वयक डॉ पूजा जयसवाल ने बताया कि कोई भी व्यक्ति योजना से जुड़े अपने नाम के बारे में जानने के लिए 14555/1800-1800-4444 व merapmjay.gov.in पर जानकारी ले सकता है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.