वाराणसी जिले के प्रभारी मंत्री आशुतोष टंडन ने समीक्षा बैठक में बिजली विभाग नदारद, स्पष्टीकरण तलब

वाराणसी जिले के प्रभारी मंत्री आशुतोष टंडन ने सुबह काशी विद्यापीठ ब्लाक मुख्यालय पहुंचकर ब्लाक के विकास कार्यों की समीक्षा सभागार में की। मौके पर बिजली विभाग के किसी अफसर के मौजूद न रहने पर नाराजगी जताते हुए जिलाधिकारी को बिजली विभाग से स्पष्टीकरण तलब करने को कहा।

Saurabh ChakravartyThu, 29 Jul 2021 04:43 PM (IST)
दीप जलाकर कार्यक्रम का शुभारम्भ करते हुए मंत्री आशुतोष टण्डन

वाराणसी, जागरण संवाददाता। जिले के प्रभारी मंत्री आशुतोष टंडन ने सुबह करीब 10.45 बजे काशी विद्यापीठब्लाक मुख्यालय पहुंचकर ब्लाक के विकास कार्यों की समीक्षा सभागार में की। मौके पर बिजली विभाग के किसी अफसर के मौजूद न रहने पर नाराजगी जताते हुए जिलाधिकारी को बिजली विभाग से स्पष्टीकरण तलब करने को कहा। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत सक्रिय समूहों की जानकारी ली।

बीडीओ डाक्‍टर आराधना त्रिपाठी द्वारा बताया गया कि ब्लाक में 6482 महिलाएं समूह के माध्यम से रोजगार से जुड़ी हैं। विकास खंड में दो गोवंश आश्रय स्थल निर्माणाधीन होने की जानकारी पर नाराजगी जताते हुए कार्य में तेजी लाने को कहा। पंचायत भवन का भी कुछ यही हाल रहा चालू वित्तीय वर्ष में 10 के सापेक्ष चार पंचायत भवन निर्माणाधीन होने को भी गंभीरता से लेते हुए शीघ्र पूर्ण कराने को कहा। गांवो में गठित निगरानी समिति से काम लेने का निर्देश दिया। आने वाली सभी जन शिकायतों का गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण करने को कहा। उन्होंने स्पष्ट किया सरकारी योजनाओं का लाभ लाभार्थियों को जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में दिया जाय।

इसके साथ ही सड़क, जलनिगम, कृषि, सहकारिता आदि विभागों की पड़ताल की। बगल स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का भी मुआयना किया। पुरुष ओपीडी में मौके पर महज 26 रोगी देखे जाने पर हैरानी जताते हुए रोगी संख्या बढ़ाने को कहा। महिला ओपीडी में दो महिला चिकित्सक को 9 वर्ष से तैनात होने पर आश्चर्य जताया। इसके साथ ही कोरोना टीकाकरण, कोरोना जांच, वार्ड आदि की भी पड़ताल की। इस दौरान उन्होंने कोविड की संभावित तीसरी लहर से बचने के लिए 20 आशा कार्यकर्ताओं को कोविड मेडिकल किट को वितरित किया।

इसके पूर्व मंत्री ने बाल विकास विभाग, बेसिक शिक्षा विभाग, कृषि विभाग, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत लगाये स्टालों का अवलोकन किया। इस दौरान छह बच्चों को पोषण पोटली, पांच बच्चों को खीर व खिचड़ी से अन्नप्राशन भी किया। साथ ही सात गर्भवती महिलाओं की गोदभराई, कुरहुआ आंगनवाड़ी केंद्र को प्रीस्कूल किट, आदर्श आंगनवाड़ी केंद्र शिवदासपुर व डाफी को झूला भी दिया।

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत तीन बैंक सखी को डिवाइस मशीन, अमराखैराचक व खनांव के स्वयं सहायता को रिवालविंग फंड के तहत 3 लाख 45 रुपये का प्रतीकात्मक चेक दिया। करसड़ा, कुरहुआ, तारापुर, केराकतपुर, सुरहीं गांव के सामुदायिक शौचालय के केयर टेकर को प्रतीकात्मक चाभी भी दिया।

कार्यक्रम का संचालन परियोजना निदेशक उमेश मणि त्रिपाठी ने किया। इस दौरान विधायक रोहनिया सुरेंद्र नारायण सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम मौर्या, ब्लाक प्रमुख रेनू पटेल, जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा, जिला विकास अधिकारी राजेश यादव समेत कई विभागों के अफसर मौजूद थे।

प्रमुख ने दिया मंत्री को दिया ज्ञापन : ब्लाक प्रमुख रेनू पटेल ने मंत्री आशुतोष टंडन को मड़ौली-मंडुवाडीह मार्ग सीवर ओवरफ्लो होने के चलते सड़क पर जलजमाव की समस्या के बाबत उन्हें ज्ञापन सौंपा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.