घर में सोई युवती की गला रेतकर हत्या, जौनपुर में हुई घटना में फुफेरे भाई के खिलाफ एफआइआर दर्ज

घर में सोई युवती की गला काटकर हत्या कर दी गई।

घर में सोई युवती की गला काटकर हत्या कर दी गई। मृतका के स्वजन घर के बाहर सोए थे। सोमवार की सुबह घटना की जानकारी हुई। हत्या की वजह साफ नहीं हो सकी है। मृतका के फुफेरे भाई पर हत्या का आरोप लगाया गया है।

Saurabh ChakravartyMon, 17 May 2021 07:06 PM (IST)

जौनपुर, जेएनएन। जमदरा गांव में रविवार की रात घर में सोई युवती की गला काटकर हत्या कर दी गई। मृतका के स्वजन घर के बाहर सोए थे। सोमवार की सुबह घटना की जानकारी हुई। हत्या की वजह साफ नहीं हो सकी है। मृतका के फुफेरे भाई पर हत्या का आरोप लगाया गया है। एसपी राज करन नय्यर व एएसपी सिटी डाक्टर संजय कुमार ने मौका मुआयना कर मातहतों को कातिल को जल्द गिरफ्तार कर इस जघन्य घटना का राजफाश करने का निर्देश दिया।

गांव निवासी लालमन गौड़ की 20 वर्षीया पुत्री रिंका रात में भोजन करने के बाद अपने कमरे में सोने चली गई। परिवार के अन्य सदस्य घर के बाहर सोए थे। सोमवार की सुबह छोटा भाई रिंका को जगाने गया तो कमरे में बिस्तर पर खून से लथपथ शव पड़ा देख शोर मचाते हुए स्वजनों को जानकारी दी। उसकी हत्या किसी धारदार हथियार से गला रेतकर की गई थी। घटना की सूचना पुलिस को दी। पुलिस की छानबीन के दौरान मृतका के घर के पीछे सीढ़ी पड़ी मिली। अनुमान लगाया जा रहा है कि हत्यारा उसी के सहारे रिंका के कमरे में पहुंचा होगा। घटना के पीछे पुलिस प्रेम-प्रसंग भी मानकर जांच कर रही है। मृत रिंका तीन बहनों में तीसरे नंबर की थी। पिता लालमन मुंबई रहते हैं। मां कुमारी देवी का रो-रोकर बुरा हाल है। मां की तहरीर पर पुलिस ने थाना क्षेत्र के ही भुसौड़ी गांव निवासी रिश्ते में फुफेरे भाई लगने वाले युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। उसकी तलाश में पुलिस संभावित स्थानों पर दबिश दे रही है।

बड़ी बेटी के गौना को लेकर चार दिनों पहले थीं खुशियां, अब गम का माहौल

जमदरा गांव में रिंका गौड़ की नृशंस हत्या से स्वजन ही नहीं, ग्रामीण भी स्तब्ध हैं। हर किसी की जुबान पर बस एक ही सवाल है कि आखिर किसने और क्यों इतनी दरिंदगी से रिंका को मौत के घाट उतारा। तीन बहनों में सबसे छोटी और दो भाइयों से बड़ी रिंका पिछले साल इंटर की परीक्षा उत्तीर्ण कर आगे पढ़ना चाहती थी। कोरोना संक्रमण के चलते कालेज बंद होने से अभी उसका एडमिशन नहीं हो सका था। पिता लालमन जबलपुर (मध्य प्रदेश) में रहकर काम-धंधा करते हैं। लाकडाउन के कारण बीते सप्ताह सबसे बड़ी बेटी रंजना के गौने में भी शामिल होने नहीं आ सके थे। रिश्तेदारों व गांव के शुभचिंतकों की मदद से पूरी जिम्मेदारी मां कुमारी देवी ने ही निभाई थी। बेटी की हत्या की खबर लगते ही लालमन जबलपुर से घर के लिए चल पड़े हैं। घटना को लेकर गांव में तरह-तरह बातें हो रही हैं। हकीकत तो पुलिस के तहकीकात से ही सामने आएगी। घटना के बाद से मां कुमारी देवी, बहन साधना व भाई अंश व यश रो-रोकर बेहाल हो गए हैं। सांत्वना देने घर पर ग्रामीण पूरे दिन पहुंचते रहे।

हर पहलू की छानबीन, जल्द किया जाएगा राजफाश

सीओ शाहगंज अंकित कुमार ने कहा कि हत्या से जुड़े जितने भी पहलू हो सकते हैं सभी की बारीकी से छानबीन की जा रही है। जल्द ही कातिल को गिरफ्तार कर राजफाश कर दिया जाएगा।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.