संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनाव में एनएसयूआई पैनल के सभी प्रत्याशी विजयी घोषित

संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनाव में एनएसयूआई पैनल के सभी प्रत्याशी विजयी घोषित किए गए हैं।

वाराणसी में संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनाव में एनएसयूआई पैनल के सभी प्रत्याशी विजयी घोषित किए गए हैं। इस बाबत औपचारिक घोषणा शाम 5.30 बजे जारी कर दी गई। अध्यक्ष पद पर कृष्ण मोहन शुक्ला उपाध्यक्ष पद पर अजीत कुमार चौबे महामंत्री पद पर शिवम चौबे चुने गए।

Abhishek SharmaSun, 11 Apr 2021 05:37 PM (IST)

वाराणसी, जेएनएन।  कड़ी सुरक्षा व गहमागहमी के बीच रविवार को संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनाव में अध्यक्ष पद पर कृष्ण मोहन शुक्ल, उपाध्यक्ष पद अजीत कुमार चौबे, महामंत्री पद पर शिवम चौबे व पुस्तकालय मंत्री पद पर आशुतोष कुमार मिश्र निर्वाचित घोषित हुए हैं। छात्रसंघ के चारों पदों पर इस वर्ष भी भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआइ) के अधिकृत प्रत्याशियों को कामयाबी मिली है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के अधिकृत प्रत्याशियों को इस वर्ष भी झटका लगा है। वर्ष 2020 के छात्रसंघ में राछासं का कब्जा रहा। ऐसे में एनएसयूआइ ने छात्रसंघ पर अपना कब्जा बरकरार रखा। परिणाम घोषित होने के तत्काल बाद कुलपति प्रो. राजाराम शुक्ल ने नव निर्वाचित छात्रसंघ के पदाधिकारियों को तत्काल शपथ दिलाई।

अध्यक्ष पद पर कृष्ण मोहन ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी एबीवीपी के अजय दुबे को 136 मतों के अंतर से पराजित किया।  इस क्रम में उपाध्यक्ष पद पर अजीत कुमार ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी चंद्रमौलि तिवारी 68 मतों के अंतर से पटकनी दी। महामंत्री पद पर शिवम चौबे 485 मत हासिल कर निर्वाचित घोषित हुए हैं। जबकि उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी गौरी शंकर गंगेले 266 मत पाकर संतोष करना पड़ा। इस प्रकार मिहामंत्री पद पर हार-जीत का 219 शानदा र मतों का अंतर रहा। वहीं पुस्तकालय मंत्री पद पर आशुतोष कुमार ने विवेकानंद पांडेय को 77 मतों के अंतर से हराया। आशुतोष को 415 व विवेकानंद को 338 मत मिले।

छात्रसंघ चुनाव को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। परिसर बड़ी संख्या पुलिस, पीएसी के जवान तैनात किए गए थे। मतदान की प्रक्रिया सुबह नौ बजे से शुरू हुई। शुरू में मतदान की गति कुछ धीमी रही। सुबह 11 बजे ने मतदान ने थोड़ी गति पकड़ी। दोपहर दो बजे तक 44.51 फीसद छात्र-छात्राओं ने मतदान किया। इस दौरान पकड़े गए चार फर्जी मतदाताओं को पुलिस के हवाले कर दिया गया। पूछताछ कर देरशाम पुलिस ने उन्हें थाने से छोड़ दिया। निर्वाचनाधिकारी प्रो. सुधाकर मिश्र के मुताबिक चुनाव में 1732 मतदाताओं में से 771 ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। वहीं छात्रसंघ के विभिन्न पदों पर 70 मत अवैध घोषित किए गए।

किसे मिले कितने मत निर्वाचित

अध्यक्ष  : कृष्ण मोहन शुक्ल (442) निर्वाचित व अजय दुबे (306)। अवैध 23

उपाध्यक्ष  : अजीत कुमार चौबे (411) निर्वाचित व चंद्रमौलि तिवारी (343)। अवैध : 15

महामंत्री  :  शिवम चौबे (485) व गौरी शंकर गंगेले (266)। अवैध : 19

पुस्तकालय मंत्री : आशुतोष कुमार मिश्र (415) व विवेकानंद पांडेय (338) अवैध : 13

निर्वाचित संकाय प्रतिनिधि

वेद वेदांग संकाय (निर्वाचित पांच प्रतिनिधि) : राघवेंद्र मिश्र (185), पंकज द्विवेदी (183), कुश तिवारी (163), शानू कुमार (130), सत्याजीत तिवारी (123)

श्रमण विद्या संकाय (निर्वाचित एक प्रतिनिधि) : प्रियांशु कुमार पांडेय (48)

निर्विरोध निर्वाचन

सहित्य संस्कृति संकाय (दो प्रतिनिधि) : अनुराग शर्मा व बृजेश कुमार दुबे

दर्शन संकाय ( एक प्रतिनिधि) : शिव ओम शर्मा    

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.