यूपी में ऑक्सीजन के लिए आत्मनिर्भर होगा सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र : मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने एक दिवसीय वाराणसी दौरे के दौरान अपने गोद लिए जयकरण शर्मा राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हाथी बाजार का शुक्रवार को निरीक्षण किया। हरहुआ के पास 1354.67 करोड़ रुपए लागत से 44.25 किमी लंबी निर्माणाधीन रिंग रोड फेज-2 का स्थलीय निरीक्षण किया।

Saurabh ChakravartyFri, 18 Jun 2021 07:59 PM (IST)
मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हाथी बाजार का शुक्रवार को निरीक्षण किया।

वाराणसी, जेएनएन। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने एक दिवसीय वाराणसी दौरे के दौरान अपने गोद लिए जयकरण शर्मा राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हाथी बाजार का शुक्रवार को निरीक्षण किया। लगभग 7 एकड़ क्षेत्रफल के इस सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से आसपास क्षेत्र के लगभग तीन लाख की आबादी के लोगों को चिकित्सा स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराया जाता है। वर्तमान में इस सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर 30 बेड का 24 घंटे चिकित्सा सुविधा संचालित है। उन्होंने अस्पताल परिसर में ही खाली पड़े स्थान पर लगभग 53.46 लाख की लागत से भूतल सहित दो मंजिला 30 बेड के भवन निर्माण कार्य के ले-आउट का अवलोकन किया एवं स्थल का मुवायना किया। इसमे कोरोना की संभावित तीसरी लहर के दृष्टिगत रखते हुए बच्चों के लिए लगभग 15 बेड पीडियाट्रिक एवं 3 बेड आईसीयू वार्ड बनाया जा रहा है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ में निरीक्षण के दौरान अस्पताल में निर्मित ऑक्सीजन प्लांट

प्लेटफार्म को देखा और शीघ्र ऑक्सीजन प्लांट लगाए जाने का निर्देश दिया। इस दौरान उन्होंने क्षेत्र के लोगों को इस सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से बेहतर एवं निःशुल्क चिकित्सा व्यवस्था उपलब्ध कराए जाने पर विशेष जोर देते हुए निर्देशित किया कि 24 घंटे डॉक्टर एवं पैरामेडिकल की उपस्थिति प्रत्येक दशा में सुनिश्चित हो। जिससे जन सामान्य को किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े और लोगों को उनके जरूरत के अनुसार हर हालत में चिकित्सा सुविधा मिल सके। उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हाथी बाजार को 10 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भी उपलब्ध कराएं। निश्चित रूप से प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा हाथी बाजार स्थित इस जयकरण शर्मा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को गोद लिए जाने से इसके चिकित्सा सुविधा में गुणात्मक सुधार होगा, जिसका लाभ इस क्षेत्र के लगभग तीन लाख से अधिक लोगों को प्राप्त होगा।

मुख्यमंत्री ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के भूखंड को दान करने वाले स्व जयकरण शर्मा के मौके पर मौजूद परिजन प्रशांत शर्मा, अमित शर्मा, डॉ राजेश शर्मा, सुरेश सिंह एवं शशांक शेखर को संबोधित करते हुए कहा कि उनके परिवारजनों ने लोक सेवा का एक उत्तम उदाहरण किया है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के निरीक्षण के दौरान वैक्सीनेशन कक्ष में वैक्सीन लगवा रहे अभिषेक गुप्ता, विजय गुप्ता, राजकुमार, ममता गुप्ता एवं सुशीला गुप्ता से उनका कुशलक्षेम पूछते हुए वैक्सीन लगवाने में किसी भी प्रकार की परेशानी न होने की बात पूछी। ममता गुप्ता ने मुख्यमंत्री को बताया कि उन्हें वैक्सीन लगवाने में किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं हुई और उन लोगों ने अपना स्लॉट कल गुरुवार को बुक कराकर आज शुक्रवार को वैक्सीन लगवाने हेतु केंद्र पर पहुंचे और उन्हें वैक्सीन लगा दी गई है।

गौरतलब है कि स्थानीय हाथी बरनी निवासी एवं वर्तमान में मुंबई में व्यवसायरत जयकरण शर्मा के परिवार द्वारा स्थापित श्री राम करण शर्मा धर्मादान्यास के द्वारा क्षेत्र में जन समुदाय को निश्‍शुल्क चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने की दृष्टि से 1975 में अस्पताल का निर्माण कार्य शुरू किया गया था। वर्ष 2002 में रामकरण शर्मा धर्मदान्यास द्वारा 7 एकड़ में स्थित समस्त चिकित्सकीय संसाधनों के साथ यह अस्पताल उत्तर प्रदेश सरकार को समर्पित कर दिया गया। वर्ष 2006 में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस अस्पताल को जयकरण शर्मा राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हाथी बाजार के नाम से संचालन प्रारंभ किया। जिसे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा गोद लिया गया है।

तय समय सीमा में इस महत्वाकांक्षी परियोजना को पूर्ण कराए जाने का दिया अधिकारियों को निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जयकरण शर्मा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, हाथी बाजार के निरीक्षण के पश्चात हरहुआ के पास 1354.67 करोड़ रुपए लागत से 44.25 किमी लंबी निर्माणाधीन रिंग रोड फेज-2 का स्थलीय निरीक्षण किया। मौके पर 46.05 फीसदी कार्य पूरा कराया जा चुका है। इस रिंग रोड फेस-2 को फरवरी, 2022 में पूरा कराया जाना है। परियोजना की संपूर्ण धनराशि शासन द्वारा कार्यदायी संस्था को अवमुक्त किया जा चुका है। जिसमें से संस्था द्वारा 474.66 करोड़ की धनराशि व्यय की जा चुकी है।

निरीक्षण के दौरान उत्तर प्रदेश के पर्यटन, संस्कृति, धर्मार्थ कार्य एवं प्रोटोकॉल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉक्‍टर नीलकंठ तिवारी, विधायक सौरभ श्रीवास्तव, पूर्व एमएलसी डॉक्‍टर चेतनारायण सिंह सहित आईजी एस के भगत, कमिश्नर दीपक अग्रवाल, जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा सहित अन्य अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.